खबरें अब तक

  • Thailand: चाइल्ड केयर सेंटर में फायरिंग, 31 की मौत, मरने वालों में बच्चे भी शामिल

    Thailand: चाइल्ड केयर सेंटर में फायरिंग, 31 की मौत, मरने वालों में बच्चे भी शामिल

     

    उत्तरी थाईलैंड (North Thailand) में एक चाइल्ड केयर सेंटर (Childcare Center) में फायरिंग की घटना सामने आई है। इस घटना में करीब 31 लोगों के मारे जाने की खबर है। विभिन्न मीडिया की रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के मुताबिक, चाइल्ड केयर सेंटर में फायरिंग ही नहीं बल्कि चाकू से भी हमला किया गया है। इस हमले में मरने वालों में बच्चों की संख्या काफी अधिक है। इस घटना के बाद थाईलैंड प्रशासन (Thailand Administration) ने एक व्यक्ति की तस्वीर जारी की है। जिसकी उम्र 34 साल बताई जा रही है।

    थाईलैंड के प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी एक बयान के मुताबिक, फायरिंग की यह घटना नोंग बुआ लाम्फू प्रांत के उथैसावां ना क्लैंग जिले के चाइल्ड केयर सेंटर में की है। जोकि थाईलैंड के उत्तर पूर्व में स्थित है। थाईलैंड के प्रधानमंत्री ने इस घटना पर दुख जताया है। प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओ-चा ने अधिकारियों को जल्द से जल्द इस मामले में अपराधी को पकड़ने का आदेश दिया।  

    थाईलैंड पुलिस के मेजर जनरल अचयों क्रैथॉन्ग ने इस पर बताया कि नोंग बुआ लाम्फू शहर स्थित बच्चों के केंद्र में दोपहर के समय एक बंदूकधारी ने अचानक गोलीबारी शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि गोलीबारी में करीब 30 लोगों की मौत हो गई लेकिन अभी इस संबंध में कोई विस्तृत जानकारी नहीं है। क्षेत्रीय जनसंपर्क कार्यालय के एक प्रवक्ता ने इस घटना में 23 बच्चों, दो शिक्षक और एक पुलिस अधिकारी की मौत की पुष्टि की है।

    थाईलैंड मीडिया की खबरों के मुताबिक, हमलावर हमला करने के बाद मौके से फरार हो गया था। कई मीडिया संगठनों ने हमलावर की पहचान क्षेत्र के एक पूर्व पुलिस लेफ्टिनेंट कर्नल के तौर पर की है, लेकिन इसकी तत्काल कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। समाचार पत्र ‘डेली न्यूज’ की खबर के मुताबिक, हमला करने के बाद हमलावर अपने घर गया और वहां उसने अपनी पत्नी व बच्चे की हत्या करने के बाद खुद आत्महत्या कर ली।

    और भी...

  • Pro Kabaddi League 2022: 7 अक्टूबर से 9वें सीजन का आगाज, दर्शकों के लिए खुले दरवाजे  

    Pro Kabaddi League 2022: 7 अक्टूबर से 9वें सीजन का आगाज, दर्शकों के लिए खुले दरवाजे  

     

    भारत (India) में आईपीएल के बाद 7 अक्टूबर से प्रो कबड्डी लीग 2022 (Pro Kabaddi League 2022) का 9वां सीजन (Season 9) शुरू होने जा रहा है। कबड्डी (Kabaddi) प्रेमी इसे लेकर काफी उत्सुक है। इस सीजन की खास बात यह है कि इस बार कबड्डी फैंस के लिए स्टेडियम (Stadium) के दरवाजे खुले हैं। कोविड के समय दर्शकों को स्टेडियम में जानें की अनुमति नहीं थी। सीजन के शुरुआती 3 दिनों में ट्रिपल हेडर के साथ ग्रैंड ओपनिंग की जाएंगी। पहले दो दिन सभी 12 टीमें एक-एक मैच खेलेंगी। इसके पहले चरण में कुल 66 मुकाबले खेले जाएंगे। PKL के सारे मुकाबले पुणे के श्री शिवछत्रपती स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स (Shree Shivchhatrapati Sports Complex) और बेंगलुरु के श्री कांतीरवा इंडोर स्टेडियम (Sri Kanteerava Indoor Stadium) में खेले जाएंगे।

    PKL सीजन 9 की टीमें
    PKL Season 9 में कुल 12 टीमें हिस्सा ले रही हैं। जिसमें गुजरात जायंट्स, दबंग दिल्ली, यू मुंबा, तमिल थलाइवास, बंगाल योद्धा, बेंगलुरु बुल्स, हरियाणा स्टीलर्स, पटना पाइरेट्स, यूपी योद्धा, पुनेरी पलटन, तेलुगू टाइटंस, जयपुर पिंक पैंथर्स टीमें शामिल हैं।

    हरियाणा स्टीलर्स का पहला मुकाबला
    बंगाल वॉरियर्स और हरियाणा स्टीलर्स के बीच 8 अक्टूबर को श्री कांतीरवा स्टेडियम में पहला मुकाबला खेला जाएगा। हरियाणा स्टीलर्स की टीम में मुकाबले से पहले बड़ा बदलाव देखने को मिला है। हरियाणा स्टीलर्स ने आगामी PKL सीजन 9 के लिए कबड्डी की दुनिया में दो बार खिताब जीतने वाले जोगिंदर नरवाल को कप्तान बनाया है।

    और भी...

  • 'भारत जोड़ो यात्रा' में सोनिया गांधी की एंट्री, राहुल के साथ की पदयात्रा 

    'भारत जोड़ो यात्रा' में सोनिया गांधी की एंट्री, राहुल के साथ की पदयात्रा 

     

    कन्याकुमारी (Kanyakumari) से शुरू हुई कांग्रेस पार्टी की 'भारत जोड़ो यात्रा' (Bharat Jodo Yatra) में सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने भी भाग लिया है। कर्नाटक के मांड्या जिले में इस यात्रा के 29वें दिन सोनिया गांधी शामिल हुई। सोनिया गांधी ने स्वास्थ्य की वजह से इस यात्रा में ज्यादा देर तक शिरकत नहीं की। वह सिर्फ 3 किलोमीटर तक इस पदयात्रा के साथ चली।

    मांड्या जिले के डाक बंगला इलाके से सोनिया गांधी ने पदयात्रा आरंभ की। सोनिया गांधी का कर्नाटक विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले मांड्या में पदयात्रा करने का कारण इसका देवगौड़ा परिवार के दबदबे वाला क्षेत्र माना जा रहा है। इस अवसर पर कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal) ने कहा "यह ऐतिहासिक क्षण है कि सोनिया गांधी जी इस यात्रा में शामिल हुईं हैं। इससे कर्नाटक में पार्टी और मजबूत होगी"।

    राहुल गांधी (Rahul Gandhi) समेत कांग्रेस के कई अन्य नेताओं एवं कार्यकर्ताओं द्वारा 7 सितंबर से तमिलनाडु के कन्याकुमारी से 'भारत जोड़ो यात्रा' की शुरुआत की गई। इन दिनों यात्रा कर्नाटक में चल रही है। कश्मीर में अगले साल की जनवरी में यात्रा की समाप्ति होगी। इस यात्रा में कुल 3,570 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। राहुल समेत सभी 119 नेता, जो पदयात्रा करते हुए कश्मीर (Kashmir) तक जा रहे है। उन्हें पार्टी ने 'भारत यात्री' नाम दिया है। कांग्रेस का मानना है कि पदयात्रा पार्टी के लिए संजीवनी का काम करेगी।

    और भी...

  • 6 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

    6 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

     

    1499- फ्रांस के राजा लुईस ने मिलान पर क़ब्ज़ा किया।
    1723- बेंजामिन फ्रेंकलिन 17 साल की उम्र में फिलाडेल्फिया पहुंचे।
    1762- ब्रिटिश सैनिकों ने फिलीपींस के मनीला पर क़ब्ज़ा किया।
    1862- भारतीय दंड संहिता कानून पारित हुआ और एक जनवरी से लागू हुआ।
    1919- तांबुलीस्की बुल्गारिया के प्रधानमंत्री बने।
    1935- भारत में 32 साल के सबसे लंबे समय तक अंपायरिंग करने वाले जीवन डी घोष का बंगाल में जन्म हुआ।
    1957- सोवियत संघ ने नोवाया ज़ेमल्या में परमाणु परीक्षण किया।
    1972- मेक्सिको में ट्रेन पटरी से उतरने से 208 लोगों की मौत।
    1980- गुयाना ने संविधान को अंगीकार किया।
    1981- काहिरा में सैनिक परेड के दौरान एक सैनिक समूह द्वारा मिस्र के राष्ट्रपति अनवर सादात की हत्या।
    1983- पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगाया गया।
    1987- फिजी एक गणराज्य घोषित हुआ।
    1994- यूनेस्को ने वर्ष 1995 को संयुक्त राष्ट्र सहिष्णुता वर्ष के रूप में मनाने की घोषणा की।
    1995- दो स्विस वैज्ञानिकों ने पृथ्वी के सौर व्यवस्था के बाहर गृह की पहली बार पहचान की।
    1999- संयुक्त राष्ट्र निरस्त्रीकरण सम्मेलन आस्ट्रेलिया की राजधानी वियना में प्रारम्भ।
    2000- इस्रायली पुलिस द्वारा अलअक्सा मस्जिद में जबरन प्रवेश के बाद हिंसा शुरू, यूगोस्लाविया में रक्तहीन जनक्रान्ति के बीच राष्ट्रपति मिलोसेविच देश छोड़कर भागे, विपक्षी नेता कोस्तुनिका ने स्वयं को राष्ट्रपति घोषित किया।
    2002- नेपाल के नरेश ज्ञानेन्द्र वीर विक्रम शाह देव ने सत्ता नहीं संभालने की घोषणा की।
    2004- इस्रायली सैन्य अभियान को रोकने का प्रस्ताव अमेरिका ने वीटो किया। अल्खानोव चेचेन्या के राष्ट्रपति बने।
    2006- संयुक्त राष्ट्र ने लेबनान में शांति रक्षकों को बल प्रयोग का अधिकार दिया।
    2007- परवेज मुशर्रफ़ एकतरफ़ा जीत के साथ पाकिस्तान के राष्ट्रपति पद पर निर्वाचित घोषित हुए। कोरू में एरियन-5 रॉकेट के सहारे आस्ट्रेलियाई-अमेरिकी टेलीविजन उपग्रह का परीक्षण किया गया। बाबा साहेब भोसले - प्रसिद्ध भारतीय वकील, नेता एवं महाराष्ट्र के आठवें मुख्यमंत्री।
    2008- वैश्विक मंदी के मद्देनज़र भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकों के नक़द सुरक्षित अनुपात (सीआरआर) में आधा प्रतिशत की कटौती का फ़ैसला किया।
     

    और भी...

  • 5 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

    5 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

     

    1793- फ्रांसीसी क्रांति के दौरान फ्रांस में ईसाई धर्म विस्थापित हुआ।
    1796- स्पेन ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ युद्ध की घोषणा की।
    1805- भारत में ब्रिटिश राज के दूसरे गवर्नर जनरल व कमांडर इन चीफ लार्ड कार्नवालिस का गाजीपुर में निधन।
    1864- कलकत्ता शहर में चक्रवात से लगभग 50,000 लोगों की मौत।
    1915- बुल्गारिया ने प्रथम विश्व युद्ध में हिस्सा लिया।
    1946- पहले कान फिल्म समारोह का समापन।
    1948- तुर्कमेनिस्तान की राजधानी अश्क़ाबात में भूकंप से 110,000 लोगों की मौत।
    1962- जेम्स बॉंड सीरीज की पहली फिल्म ‘डॉ. नो’ रिलीज हुई।
    1988- ब्राजील की संविधान सभा ने संविधान को मंजूरी दी।
    1989- न्यायमूर्ति मीरा साहिब फ़ातिमा बीबी सुप्रीम कोर्ट की पहली महिला जज बनी।
    1995- आयरलैंड के कवि एवं साहित्यकार हीनी को वर्ष 1995 के साहित्य पुरस्कार से सम्मानित करने की घोषणा।
    1997- राजधानी कम्पाला से नील नदी को स्रोत जिन्जा में प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल ने महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया, भारतीय टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस तथा महेश भूपति ने जिम कूरियर तथा एलेक्स ओ ब्रायन को पराजित कर 'चाईना ओपन टेनिस टूर्नामेंट' का ख़िताब जीता।
    1999- भारत ने व्यापक परमाणु परीक्षण प्रतिबंध संधि (सीटीबीटी) पर होने वाली विशेष बैठक में शामिल नहीं होने का फैसला किया।
    2000- यूगोस्लाविया के राष्ट्रपति मिलोसेविच के ख़िलाफ़ विद्रोह।
    2001- पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ़ ने सेनाध्यक्ष पद पर अपना कार्यकाल अनिश्चित काल के लिए बढ़ाया।
    2004- पश्चिम एशिया पर अरब देशों के प्रस्ताव का अमेरिका ने विरोध किया।
    2005- खुशमिज़ाजी में भारत चौथे नंबर पर।
    2007- नेपाल सरकार और माओवादियों के बीच समझौता न हो पाने के कारण संविधान सभा के लिए चुनाव रद्द हुआ। परवेज मुशर्रफ़ व बेनजीर भुट्टो के बीच समझौता हुआ।
    2008- केन्द्र सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशानुसार 'सेतु समुंद्रम परियोजना' के लिए दूसरी जगहों का परीक्षण शुरू किया।
    2011- एप्पल के पूर्व मुख्य कार्यकारी और सह-संस्थापक स्टीव जॉब्स का 56 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। भारत में दुनिया का सबसे सस्ता 2250 रुपये का टैबलेट पीसी ‘आकाश’ लॉन्च किया गया।
     

    और भी...

  • Himachal Election: चुनावी सरगर्मी के बीच शिमला पहुंचीं Priyanka Gandhi

    Himachal Election: चुनावी सरगर्मी के बीच शिमला पहुंचीं Priyanka Gandhi

     

    हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में चुनावी सरगर्मियों के बीच मंगलवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) शिमला के पास छराबड़ा स्थित अपने निजी आवास पहुंचीं। क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था को काफी कड़ा कर दिया गया है। सूत्रों के अनुसार प्रियंका यहां अपने बच्चों के साथ नवरात्र पर्व के लिए आईं हैं। लेकिन इस बार उनके पति रॉबर्ट वाड्रा इस बार उनके साथ नहीं आए हैं।

    बता दें कि मंगलवार सुबह अपने घर छराबड़ा में पहुंची वाड्रा यहां 10 अक्टूबर तक रहेंगी। सोलन में प्रियंका रैली करने के बाद दिल्ली के लिए रवाना हो सकती हैं। प्रियंका चंडीगढ़ से सड़क मार्ग होते हुए शिमला स्थित अपने घर पहुंची हैं। सोलन में प्रियंका गांधी 10 अक्टूबर को कांग्रेस की रैली से हिमाचल विधानसभा चुनाव का शंखनाद भी करेंगी।

    और भी...

  • यमुनानगर: बजरी से भरे डंपर ने बाइक को मारी जोरदार टक्कर, दो युवकों की मौके पर मौत

    यमुनानगर: बजरी से भरे डंपर ने बाइक को मारी जोरदार टक्कर, दो युवकों की मौके पर मौत

     

    यमुनानगर (Yamunanagar) के ब्लॉक साढौरा (Sadhaura) में बजरी से भरे डंपर ने दो युवकों को रौंद दिया। यह दर्दनाक हादसा मंगलवार सुबह बराड़ा हाईवे (Barara Highway) पर गांव सरावां के पास हुआ है। वहीं गुस्साए लोगों ने डंपर को आग के हवाले कर दिया और जाम लगा दिया। मरने वाले युवकों की पहचान 19 वर्षीय कमलजीत और 22 वर्षीय सचिन के तौर पर हुई है। दोनों आपस में काफी गहरे दोस्त थे।

    प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, डंपर युवकों की बाइक को टक्कर मार काफी दूर तक घसीटते हुए ले गया। सचिन को तो डंपर 150 मीटर तक अपने साथ ही ले गया। डंपर रुकने के बाद जैक लगाकर सचिन के शव को बाहर की तरफ निकाला गया। वहीं हादसे के बाद डंपर चालक मौके से फरार हो गया। गुस्साए ग्रामीणों ने डंपर को आग के हवाले कर दिया और सड़क किनारे खड़े पेड़ को तोड़ कर आग लगा दी। सूचना मिलने के बाद साढ़ौरा थाना पुलिस मौके पर पहुंची। हालांकि पुलिस ने लोगों को समझाने का काफी प्रयास किया लेकिन लोग बिल्कुल नहीं माने।

    बता दें कि सरावा निवासी सचिन रंग रोगन का काम करता है जबकि कमलजीत की सरावा में नाई की एक दुकान है। मंगलवार को सचिन के ताऊ के लड़के की रायपुर बारात जानी थी। सचिन अपने दोस्त कमलजीत की दुकान पर कुछ सामान खरीदने आया था। इसी दौरान यह हादसा हो गया। लोगों का कहना है कि अवैध खनन के कारण डंपर चालकों की मनमानी लगातार बढ़ रही है। पुलिस प्रशासन भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है।

    और भी...

  • DG जेल हेमंत लोहिया का नौकर गिरफ्तार, गला रेतकर हत्या करने का है आरोप

    DG जेल हेमंत लोहिया का नौकर गिरफ्तार, गला रेतकर हत्या करने का है आरोप

     

    जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) ने DG (जेल) हेमंत लोहिया (Hemant Lohia) के हत्यारे यासिर अहमद (Yasir Ahmed) को गिरफ्तार कर लिया है। यासिर अहमद हेमंत लोहिया के नौकर के तौर पर काम करता था। जम्मू-कश्मीर पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों द्वारा चलाए गए सर्च ऑपरेशन के बाद उसे अब गिरफ्तार कर लिया गया है। एडीजीपी मुकेश सिंह ने इस पर कहा कि आरोपी से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने एक बयान में बताया कि रात भर जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा चलाए गए एक सर्च ऑपरेशन के बाद आरोपी को पकड़ा गया। आरोपित से पूछताछ जारी है।

    डीजी की हत्या से जुड़ी 10 अहम बातें
    * जम्मू के बाहरी इलाके में सोमवार देर रात जम्मू कश्मीर के महानिदेशक (कारागार) हेमंत कुमार लोहिया के घर पर उनकी हत्या कर दी गई थी।
    * आतंकी समूह पीपुल्स एंटी-फासिस्ट फ्रंट (PAFF) ने लोहिया की हत्या की जिम्मेदारी खुद पर ली है।
    * हालंकि प्रारंभिक जांच में आतंकवाद का पहलू सामने नहीं आया है। हत्या का आरोप उनके नौकर पर है।
    * हत्यारे ने लोहिया का गला रेतने के लिए ‘केचप’ की टूटी हुई बोतल का प्रयोग किया। और बाद में शव जलाने का भी प्रयास किया।
    * अधिकारी के आवास पर मौजूद चौकीदारों ने बताया कि उन्होंने डीजी के कमरे के अंदर आग लगी हुई देखी थी। कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था, जिसे तोड़ना पड़ा था।
    * यह घटना ऐसे वक्त हुई है जब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) जम्मू-कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर हैं।
    * डीजी की हत्या का आरोपी यासिर रामबन जिले के हल्ला-धंडरथ गांव का रहने वाला है।
    * प्रारंभिक जांच से यह संकेत मिला कि लोहिया ने अपने पैर में तेल लगाया होगा, जिनमें सूजन दिखाई दे रही थी।
    * करीब छह महीने से यासिर इस घर में काम कर रहा था। शुरुआती जांच में यह पता चला कि वह काफी उग्र मिजाज का इंसान था।
    * जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu and Kashmir Police) ने घटनास्थल से यासिर की डायरी भी बरामद की है।

    और भी...

  • Haridwar Najibabad Highway: गैंडीखाता के पास भीषण सड़क हादसा, तीन लोगों की मौके पर मौत

    Haridwar Najibabad Highway: गैंडीखाता के पास भीषण सड़क हादसा, तीन लोगों की मौके पर मौत

     

    हरिद्वार नजीबाबाद हाईवे (Haridwar Najibabad Highway) पर सोमवार देर रात गैंडीखाता के पास एक दर्दनाक हादसा हो गया। एक वाहन ने कार को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

    थानाध्यक्ष श्यामपुर विनोद प्रसाद थपलियाल ने इस पर बताया की प्रमोद अपनी पत्नी और साले रोहित के साथ बिजनौर से कार में जौलीग्रांट दवाई लेने जा रहे थे। कार की गति तेज होने की वजह से वह अनियंत्रित होकर आगे चल रहे वाहन से टक्करा गई। टक्कर इतनी भयंकर थी कि कार का आगे का पूरा हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। कार में सवार प्रमोद, उसकी पत्नी नीतू और चालक रोहित निवासी किरतपुर बिजनौर की मौके पर ही मौत हो गई।  

    घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से गाड़ी को कटर से काट कर शवों को बाहर निकाला। पुलिस ने बताया कि पंचनामा की कार्यवाही की जा चुकी है। सूचना पाकर मौके पर परिजन भी पहुंच गए। थानाध्यक्ष ने इस पर बताया जिस कंटेनर से कार टकराई है उसके चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया लिया गया है।

    और भी...

  • 4 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

    4 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

     

    1227- खलीफा अल-आदिल की हत्या।
    1824- मेक्सिको एक गणराज्य बना।
    1963- क्यूबा और हैती में चक्रवाती तूफान ‘फ्लोरा’ से छह हजार लोग मरे।
    1996- पाकिस्तान के 16 वर्षीय बल्लेबाज़ शाहिद अफ़रीदी ने एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच में 37 गेंदों में शतक बनाकर विश्व कीर्तिमान रचा।
    1977- भारत के विदेश मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक को हिंदी में संबोधित किया। हिंदी में दिया गया यह पहला संबोधन था।
    2000- चांग चून शियुंग ताइवान के नये प्रधानमंत्री बने।
    2002- पाकिस्तान में शाहीन प्रक्षेपास्त्र का परीक्षण किया गया।
    2005- बाली बम कांड में दो संदिग्ध व्यक्ति गिरफ़्तार।
    2006- जूलियन असांजे ने विकीलीक्स की स्थापना की।
    2008- अमेरिका की विदेश मंत्री कोंडोलीजा राइस एक दिन के लिए भारत यात्रा पर रहीं।
    2011- अमेरिका ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के मुखिया अबू बकर अल बगदादी को वैश्विक आतंकवादी के रूप में चिन्हित किया और साथ ही उस पर एक करोड़ डॉलर का ईनाम भी रखा।
    2012- चीन में आये भूस्खलन के बाद 19 लोग दबकर मरे।
    2012- फॉर्मूला वन के बादशाह माइकल शूमाकर ने संन्यास लिया।

    और भी...

  • अगर आप में भी है ये आदतें तो हो जाएं सावधान, नहीं तो हो सकता है लिवर डैमेज 

    अगर आप में भी है ये आदतें तो हो जाएं सावधान, नहीं तो हो सकता है लिवर डैमेज 

     

    शरीर को स्वस्थ (Healthy) रखने के लिए हमारी किडनी (Kidney) का स्वस्थ होना बेहद जरूरी है। किडनी की मदद से हम शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालते हैं। लेकिन हमारी खानपान की आदतों (Food Habits) से लिवर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसी वजह से शरीर को स्वस्थ रखने के लिए किडनी को स्वस्थ रखना बहुत जरूरी है। आज हम आपको कुछ ऐसी आदतें बताने जा रहे है जिसकी वजह से लिवर डैमेज होने का खतरा बढ़ सकता हैं।

    इन आदतों से बढ़ सकता है लिवर डैमेज का खतरा 
    दर्द निवारक दवाओं का अधिक सेवन करना (Overuse of Painkillers) - अगर आप बिना डॉक्टर की सलाह के दर्द निवारक दवाओं का ज्यादा सेवन करते हैं तो इससे आपकी किडनी डैमेज होने का खतरा बढ़ सकता है। अगर आपको पहले से किडनी की बीमारी है तो दर्द निवारक दवाओं का सेवन करने से ज्यादा बचें। क्योंकि उस वक्त किडनी डैमेज का ज्यादा खतरा बढ़ता है।  

    नमक का अधिक सेवन करना (Excessive salt intake) - नमक में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है। जिससे रक्तचाप बढ़ता है और ये आपकी किडनी को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए भोजन में नमक का उपयोग कम करें।

    प्रोसेस्ड फूड्स का सेवन (Consuming processed foods) - प्रोसेस्ड फूड्स में सोडियम और फास्फोरस की मात्रा अधिक होती है। ये आपकी किडनी के लिए काफी नुकसानदायक हो सकते है। हाई फास्फोरस का सेवन हमारे गुर्दे के साथ-साथ हड्डियों के लिए हानिकारक होता है। 

    कम पानी पीना (Drink less water) - किडनी को स्वस्थ रखने के लिए अधिक मात्रा में पानी पीना जरूरी है। अगर आप पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते हैं तो आपको किडनी स्टोन हो सकती है।  

    पर्याप्त नींद न लेना (Not getting enough sleep) - हमारे लिए किडनी को स्वस्थ रखने के लिए अच्छी और गहरी नींद लेना जरूरी होता है। इसके लिए 24 घंटे में कम से कम 8 घंटे की नींद जरूर लें। 

    अधिक मीट का सेवन (Eating more meat) - मीट का अधिक सेवन करने से ब्लड में उच्च मात्रा में एसिड बनता है। ये किडनी के लिए काफी हानिकारक हो सकता है और ये एसिडोसिस का कारण भी बन सकता है। इसलिए किडनी को स्वस्थ रखने के लिए ज्यादा मीट का सेवन न करें। 

    चीनी युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन (Consumption of sugary foods) - चीनी मोटापे का कारण हो सकता है। अधिक मात्रा में चीनी खाने से हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज होने का खतरा बढ़ता है और इन वजह से आपकी किडनी भी डैमेज हो सकती है। 

    धूम्रपान (Smoking) - धूम्रपान का सेवन करने से फेफड़े और दिल पर प्रभाव होता है। साथ-साथ इसका असर आपकी किडनी पर भी पड़ता है। अधिक मात्रा में धूम्रपान का सेवन करने से यूरिन में प्रोटीन की संभावना होती है, जो किडनी को डैमेज कर सकती है। 

    शराब का सेवन करना (Drinking alcohol) - अगर आप रोजाना शराब का सेवन करते हैं तो आपकी इस आदत की वजह से किडनी डैमेज हो सकती है। इसलिए इसे जल्दी से जल्दी बदल लें।

    और भी...

  • IND Vs SA: टीम की जीत के लिए Virat Kohli ने कुर्बान किया अपना अर्धशतक, जीता लोगों का दिल

    IND Vs SA: टीम की जीत के लिए Virat Kohli ने कुर्बान किया अपना अर्धशतक, जीता लोगों का दिल

     

    भारत और साउथ अफ्रीका (IND Vs SA) के बीच रविवार को हुए दूसरे टी-20 (T-20) में दर्शकों को रनों की बरसात देखने को मिली। पूरे मैच में करीब 450 रन बने। डेविड मिलर (David Miller) का शतक लाजवाब था। लेकिन अंत में टीम इंडिया ने 16 रनों से जीत हासिल कर सीरीज अपने नाम कर ली। मैच में विराट कोहली (Virat Kohli) ने टीम के स्कोर के लिए अपने अर्धशतक को ठुकरा दिया था और उनके इसी अंदाज़ पर लोग फिदा हो गए। विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 49 रनों की तेज तर्रार पारी खेली। उनके पास अर्धशतक पूरा करने का मौका था लेकिन आखिरी ओवर में उन्होंने दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) को स्ट्राइक दी और उन्हें रन बनाने को कहा।

    बता दें कि सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) और केएल राहुल (KL Rahul)की तूफानी पारी के बीच विराट कोहली की धमाकेदार पारी पर काफी कम लोगों का ध्यान गया था। इस मैच में विराट कोहली ने 28 बॉल में 49 रनों की पारी खेली। जिसमें उन्होंने 7 चौके और एक छक्का लगाया। विराट ने अपनी इस पारी में 175 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए।

    विराट ने क्यों नहीं बनाया अर्धशतक
    जब भारत की पारी का 20वां ओवर शुरू हुआ। उस वक्त विराट कोहली 49 रन पर नाबाद थे। लेकिन उस दौरान स्ट्राइक दिनेश कार्तिक के पास थी और कार्तिक रनों की बरसात किए जा रहे थे। उसके बाद सिर्फ दो ही बॉल बची थी और कार्तिक ने विराट से स्ट्राइक के बारे में पूछा। इस वक्त विराट के पास अपना अर्धशतक (Half Century) पूरा करने का मौका था। लेकिन विराट कोहली ने दिनेश कार्तिक को मना करते हुए उन्हें ही बल्लेबाजी करने को कहा। दिनेश उस वक्त अच्छा हिट कर रहे थे और विराट को लगा कि वह अच्छा स्कोर करेंगे। इसी वजह से उन्होंने स्ट्राइक नहीं ली और ऐसा ही हुआ इसकी अगली बॉल पर दिनेश कार्तिक ने सिक्स जड़ा। दिनेश कार्तिक ने भारत की पारी के आखिरी ओवर में दमदार 18 रन बनाए।
     
    विराट कोहली के इस फैसले पर बीसीसीआई (BCCI) ने भी उनकी तारीफ करते हुए अपना वीडियो ट्वीट किया। फैन्स ने भी तारीफ करते हुए लिखा कि विराट कोहली ने टीम के स्कोर के लिए अपनी फिफ्टी को कुर्बान किया। उन्होंने ये दिखा दिया कि वह रिकॉर्ड के लिए नहीं बल्कि टीम की जीत के लिए खेलते हैं।

    और भी...

  • Mulayam Singh Yadav Health: मुलायम सिंह यादव आईसीयू में शिफ्ट, चेस्ट और यूरिन में आया इंफेक्शन

    Mulayam Singh Yadav Health: मुलायम सिंह यादव आईसीयू में शिफ्ट, चेस्ट और यूरिन में आया इंफेक्शन

     

    उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की रविवार को अचानक तबियत खराब हो गई। बता दें कि वह काफी समय से गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल (Medanta Hospital) में भर्ती हैं। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और उनका परिवार अस्पताल में ही हैं। पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने अखिलेश यादव से फोन पर मुलायम सिंह के स्वास्थ्य की जानकारी ली है। वहीं उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने भी फोन करके अखिलेश यादव से मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य की जानकारी ली है।

    आईसीयू में भर्ती है मुलायम सिंह यादव  (Mulayam Singh Yadav)
    मुलायम सिंह यादव की तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें आईसीयू (ICU) में शिफ्ट कर दिया गया है। परिवार से मिली जानकारी के अनुसार उन्हें निमोनिया हुआ है और चेस्ट में कंजेशन के कारण उन्हें सांस लेने में भी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। सूत्रों के अनुसार मुलायम को यूरिन इंफेक्शन हुआ है और उनकी दोनों किडनी भी सही तरीके से काम नहीं कर रही हैं। डॉ. नरेश त्रेहन और सुशीला कटारिया की देखरेख में मुलायम का इलाज हो रहा है। मुलायम सिंह यादव की तबियत बिगड़ने के बाद उनका परिवार अस्पताल पहुंच गया है। अखिलेश यादव समेत डिंपल यादव और अपर्णा यादव भी अस्पताल में ही मौजूद हैं। 

    और भी...

  • Navratri 2022: अष्टमी के दिन मां महागौरी को करें प्रसन्न, बनेंगे बिगड़े काम 

    Navratri 2022: अष्टमी के दिन मां महागौरी को करें प्रसन्न, बनेंगे बिगड़े काम 

     

    शारदीय नवरात्रि (Sharadiya Navratri) के पावन दिनों में आज अष्टमी तिथि के आंठवें दिन मां दुर्गा (Maa Durga) के आठवें स्वरूप मां महागौरी (Maa Maha Gauri) की पूजा का विधान है। इस दिन पूजा का विशेष महत्व है क्योंकि ये तिथि शुभ फल प्राप्ति के लिए बहुत लाभदायक है। इस दिन मां महागौरी की विधि-विधान से पूजा करने से भक्तों के सारे बिगड़े काम बन जाते हैं। शादी में आने वाली सभी रुकावटें भी मां दूर कर देती हैं।

    महागौरी का स्वरूप
    महागौरी का स्वरूप बहुत ही उज्जवल कोमल, श्वेतवर्ण और श्वेत वस्त्रधारी है। मां महागौरी को गायन-संगीत बहुत प्रिय है और इनकी सवारी सफेद वृषभ यानी बैल है। मां के चार हाथ है जिसमें देवी के एक हाथ में त्रिशूल और दूसरे हाथ में डमरू हैं। माता का एक हाथ अभय मुद्रा में है और एक हाथ से वह अभय दान दे रही है। मां के बाएं हाथ में शिव का प्रतीक डमरू होने के कारण महागौरी को शिवा (Shiva) भी कहा जाता है। माता का कालरात्रि (kaalratri) स्वरूप जितना ज्यादा भयंकर है, उतना ही महागौरी स्वरूप शांत है। नवरात्रि के आठवें दिन इनकी पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

    महागौरी की पूजा विधि
    आज के दिन ब्रह्ममुहूर्त में उठकर स्नानादि से निवृत होकर स्वच्छ कपड़े पहनें। इसके बाद पूजा स्थल पर गंगाजल से छिड़काव करें और पांच देसी घी के दीपक भी जलाएं। मां महागौरी की पूजा शुरू करने से पहले मां के कल्याणकारी मंत्र 'ओम देवी महागौर्यै नम:' मंत्र का जप अवश्य करें। फिर माता का मंत्र जप करते हुए ध्यान करें। माता को धूप, दीप, फूल, फल रोली, अक्षत आदि सामग्री अर्पित करें। महागौरी को सफेद रंग बहुत प्रिय है इसलिए इनकी पूजा में इन्हें सफेद फूल (White Flower) जरूर अर्पित करें। मां को नारियल या नारियल से बनी चीजों का भोग लगाएं। कुछ लोग अष्टमी तिथि के दिन और कई नवमी के दिन कन्या पूजन (Kanya Pujan) करते हैं। माता की पूजा में गुलाबी (Pink) रंग के वस्त्र पहने। मां महागौरी की चालीसा पढ़े या सुने। इससे रिश्ते में खुशहाली बनी रहती है।    

    इस मंत्र का करें जाप 
    या देवी सर्वभू‍तेषु माँ महागौरी रूपेण संस्थिता।
    नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः॥   

    और भी...

  • 3 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

    3 अक्टूबर की ऐतिहासिक घटनाएं

     

    1735- फ्रांस और छठे कैरल सम्राट ने शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए।
    1831- मैसूर (अब मैसुरु) पर ब्रिटेन ने क़ब्ज़ा किया।
    1880- पहले मराठी संगीत नाटक ‘संगीत शाकुन्ताल’ का पुणे में मंचन किया गया।
    1915- नेवादा के प्लेजेंट वैली में 7.8 रिक्टर पैमाने का भूकंप आया।
    1932- इराक यूनाइटेड किंगडम से स्वतंत्र हुआ।
    1977- पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया गया।
    1978- कलकत्ता (अब कोलकाता) में पहला और दुनिया के दूसरे टेस्ट ट्यूब बेबी का जन्म हुआ।
    1984- भारत की सबसे लंबी दूरी की ट्रेन हिमसागर एक्सप्रेस कन्याकुमारी से जम्मू तवी के लिए रवाना की गयी।
    1992- गीत सेठी ने विश्व पेशेवर बिलियर्ड्स चैम्पियनशिप जीता।
    1994- भारत ने सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता के लिए औपचारिक रूप से अपना दावा पेश किया।
    1995- चीन एवं इंग्लैंड के बीच हांगकांग के सुगम हस्तांतरण पर सहमति।
    1999- आण्विक पदार्थों के आवागमन और आण्विक दुर्घटनाओं को रोकने हेतु सं.रा. अमेरिका तथा रूस ने संयुक्त संकट केन्द्र की स्थापना की।
    2002- नोबेल शान्ति पुरस्कार के लिए प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, अमेरिका के राष्ट्रपति जार्ज डब्ल्यू बुश और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर को संयुक्त रूप से देनी की सिफ़ारिश की गई।
    2003- पाकिस्तान ने हल्फ-III मिसाइल का परीक्षण किया।
    2004- लश्कर-ए-तैयबा का राजनीतिक संगठन दो हिस्सों में बंटा।
    2006- संयुक्त राष्ट्र संघ के नये महासचिव दक्षिण कोरिया के बान की मून होंगे।
    2008- टाटा मोटर्स के चेयरमैन रतन टाटा ने सिंगूर से नैनो कार परियोजना अन्यत्र ले जाने की घोषणा की।
    2013- इतालवी द्वीप लात्पेदुसा के पास एक नाव के डूब जाने से करीब 134 लोगों की मौत हो गई।

    और भी...