उत्तर प्रदेश

  • होम
  • उत्तर प्रदेश
  • Lucknow: पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस लाइन पहुंचे सीएम योगी, पुलिसकर्मियों के लिए किए कई ऐलान

    Lucknow: पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस लाइन पहुंचे सीएम योगी, पुलिसकर्मियों के लिए किए कई ऐलान

     

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ(CM Yogi Adityanath) गुरुवार को लखनऊ स्थित पुलिस लाइन में पुलिस स्मृति दिवस (Police Smriti Divas)  कार्यक्रम में पहुंचे। जहां उन्होंने कोरोना महामारी (Covid-19) के दौरान जान गंवाने वाले पुलिस कर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि "महामारी के कहर के कारण कई लोगों ने अपने परिजनों को खो दिया है। उन्होंने कहा पुलिसकर्मी अपने कर्तव्य का पालन करते हुए कोरोना संक्रमित हुए फिर भी वो लगातार सेवा में लगे रहे। उन्होंने कहा कि साल 2020-21 में अपनी जान गवाने वाले शहीदों में यूपी पुलिस के चार बहादुर पुलिसकर्मी शामिल रहे। आज इस अवसर पर मैं सभी शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। हमारे पुलिसकर्मियों का सर्वोच्च बलिदान हमें लगातार कर्तव्य पथ पर पूर्ण निष्ठा और दायित्व बोध के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा देता रहेगा। मैं प्रदेश के सभी शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को आश्वस्त करना चाहता हूं कि प्रदेश सरकार उनके कल्याण के लिए पूरी संवेदनशीलता के साथ जरूरी कदम उठाने के लिए हमेशा तत्पर रहेगी"।

    इस दौरान सीएम योगी ने राज्य पुलिसकर्मियों के लिए किए कई ऐलान
    -महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों को कम करने के लिए महिला और बाल रक्षा संगठन की स्थापना की गई।
    -मिशन शक्ति अभियान के तहत पुलिस की व्यापक कार्रवाई से महिला और बालिकाओं में सुरक्षा की भावना जगी है।
    -उत्तर प्रदेश के हर जिले में 1500 से ज्यादा थानों में महिला डेस्क की स्थापना की गई। इसके जरिए महिला संबंधित शिकायतों का निस्तारण किया जा रहा है।
    -सोशल मीडिया के मदद से भी जनता की समस्याओं का निस्तारण किया जा रहा है।
    - साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि प्रदेश के अंदर कानून-व्यवस्था को बनाए रखने और जल्द से जल्द घटनास्थल पर पहुंचने के लिए बेहतर साधन उपलब्ध कराए जाएंगे। इतना ही नहीं आरक्षी-मुख्य आरक्षियों को सालाना तौर पर 2000 रुपये का भत्ता भी दिया जाएंगा।
     

    और भी...

  • Agra: मृतक सफाई कर्मचारी के घर पहुंची प्रियंका गांधी,  किया मदद का वादा

    Agra: मृतक सफाई कर्मचारी के घर पहुंची प्रियंका गांधी, किया मदद का वादा

     

    Uttar Pradesh:आगारा (Agra) में एक सफाई कर्मचारी की मौत के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने पुलिस का ग्रीन सिग्नल मिलने के बाद आखिरकार पीड़ित परिवार से मुलाकात की। रात करीब 11 बजे प्रियंका आगरा पहुंचीं और वहां उन्होंने अरुण वाल्मीकि के परिजनों से मुलाकात की। साथ ही उन्हें हर संभव न्याय दिलाने का वादा किया। इसके साथ ही बता दें कि आगरा प्रशासन ने भी पीड़ित परिवार को मुआवजा देने का ऐलान कर दिया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आगरा के जिलाधिकारी पी.एन. सिंह ने पीड़ित परिवार के लिए प्रशासन की सिफारिश पर एक बड़ा फैसला लेते हुए कहा कि पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी। प्रियंका गांधी ने बुधवार रात करीब 11 बजे आगरा पहुंचकर अरुण वाल्मीकि के रिश्तेदारों से मुलाकात की। जिनकी कथित तौर पर पुलिस हिरासत में हत्या कर दी गई थी।

    जानकारी के लिए बता दें कि प्रियंका ने अरुण की पत्नी और मां से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी। प्रियंका के हिरासत में जाने की खबर सुनते ही बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर पहुंच गए और सरकार विरोधी नारे लगाने लगे। इसके बाद सिर्फ चार लोगों के साथ पुलिस ने प्रियंका को आगरा जाने की इजाजत दे दी। इससे पहले उन्हें बीच रास्ते लखनऊ में ही रोक दिया गया। मॉल में चोरी और आरोपी की हिरासत में  मौत के मामले में अब तक कुल 11 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है।

    और भी...

  • UP Election 2022: सपा और सुभासपा आए साथ, यूपी में भाजपा साफ !

    UP Election 2022: सपा और सुभासपा आए साथ, यूपी में भाजपा साफ !

     

    ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (Suheldev Bharatiya Samaj Party) और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) में गठबंधन हो गया है। इसका ऐलान सुभासपा (Subhaspa) अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने प्रेस कांफ्रेंस कर किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता परेशान है। हमारी अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के साथ सहमति बन गई है। लोग भाजपा से परेशान हैं। हम उन्हें सत्ता से हटाने के लिए साथ आए हैं। बताया जा रहा है कि दोनों नेताओं में 14 सीटों पर सहमति बनी है। राजभर ने बुधवार को अखिलेश यादव से मुलाकात की। इसके पहले राजभर के भाजपा से गठबंधन करने के कयास लगाए जा रहे थे।

    सपा ने ट्वीट कर इसकी घोषणा कर दी है। ट्वीट में कहा गया है कि वंचितों, शोषितों, पिछड़ों, दलितों, महिलाओं, किसानों, नौजवानों, हर कमजोर वर्ग की लड़ाई समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर लड़ेंगे। सपा और सुभासपा आए साथ, यूपी में भाजपा साफ!

    अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद राजभर ने बयान दिया कि आज अखिलेश यादव से मुलाकात हुई। हमने गठबंधन के लिए सपा, बसपा, कांग्रेस और भाजपा को निमंत्रण दिया था। अखिलेश यादव ने हमारे न्योते को स्वीकार किया। हमारी उनसे एक घंटे बात हुई। 27 तारीख को महापंचायत रखी गई है जिसमें वंचित, दलित और अल्पसंख्यक वर्ग के लोग शामिल होंगे। सीटों के लिए 27 के बाद बैठ कर बात कर लेंगे। उन्होंने कहा कि सपा एक सीट भी नहीं देगी तो भी हम उनके साथ रहेंगे।

    राजभर ने कहा कि इस समय प्रदेश में भाजपा नफरत की राजनीति कर रही है। व्यापारी और नौजवान सभी परेशान हैं। उन्होंने ये भी कहा कि भागीदारी संकल्प मोर्चा में सीटों का विवाद नहीं है। इसके पहले भाजपा से गठबंधन को लेकर राजभर ने कहा कि वह भाजपा के साथ सशर्त गठबंधन करने को तैयार हैं। उन्होंने कहा था कि हमने सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू करने और पूर्ण शराब बंदी सहित सात सूत्री मांग रखी। अगर वो हमारी मांगों पर सहमत होते हैं तो गठबंधन करेंगे। हालांकि, बुधवार को उन्होंने सपा से गठबंधन का एलान कर दिया।

    और भी...

  • PM Modi आज कुशीनगर अतंर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का करेंगे  उद्घाटन, श्रीलंका से आएगी पहली फ्लाइट

    PM Modi आज कुशीनगर अतंर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का करेंगे उद्घाटन, श्रीलंका से आएगी पहली फ्लाइट

     

    Kushinagar International airport Inauguration: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज यानी बुधवार को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (Kushinagar International airport) का उद्घाटन करेंगे। यह एक अंतरराष्ट्रीय बौद्ध तीर्थस्थल है, जहां भगवान बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ था। आज हवाई अड्डे के उद्घाटन के मौके पर यहां श्रीलंका के कोलंबो से आने वाला पहला विमान उतरेगा, जिसमें करीब 100 से अधिक बौद्ध भिक्षुओं और गणमान्य हस्तियों का एक श्रीलंकाई शिष्टमंडल कुशीनगर पहुंचेगा। इसमें विमान में 12 सदस्यीय पवित्र अवशेष दल, भगवान बुद्ध के अवशेष को प्रदर्शनी के लिए लेकर यहां पहुंचेगा।

    बौद्ध तीर्थस्थलों को जोड़ने का एक प्रयास
    पीएमओ द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक यह उत्तर प्रदेश और बिहार के आस-पास के जिलों में लोगों की मदद करेगा। इस एयरपॉर्ट को इस क्षेत्र में निवेश और रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में देखा जा रहा है। यह हवाईअड्डा घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय तीर्थयात्रियों को भगवान बुद्ध के 'महापरिनिर्वाण स्थल पर जाने की सुविधा देगा और दुनिया भर के बौद्ध तीर्थस्थलों को जोड़ने का प्रयास करेगा।

    पर्यटन और रोजगार को देगा बढ़ावा
    कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के जरिए बौद्ध तीर्थयात्री आसानी से बौद्ध सर्किट की यात्रा कर पाएंगे। इसके अलावा यहां पर्यटन और रोजगार में भी बढ़ोतरी होगी। एयरपोर्ट के शुरू होने के बाद अब श्रीलंका, जापान, चीन, थाईलैंड, ताइवान, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और वियतनाम जैसे देशों के यात्रियों के लिए सारनाथ, श्रावस्ती, बोध गया, लुम्बिनी, वैशाली नगर, केसरिया और संकीसा का सफर कम समय में तय हो सकेगा।

     

    और भी...

  • Charcha: यूपी चुनाव, प्रियंका का 'महिला' दांव ! देखिए प्रधान संपादक Dr. Himanshu Dwivedi के साथ

    Charcha: यूपी चुनाव, प्रियंका का 'महिला' दांव ! देखिए प्रधान संपादक Dr. Himanshu Dwivedi के साथ

     

    जनता टीवी के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने आज 'यूपी चुनाव और प्रियंका गांधी का महिला दांव पर विस्तार से चर्चा की। प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए कहा कि 'यूपी चुनाव, प्रियंका का 'महिला' दांव! सन्दर्भ उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रयासों से है। एक तरफ कांग्रेस पार्टी की आतंरिक कलह शांत नहीं हो पा रही वहीं दूसरी ओर आने वाले चुनावों को लेकर पार्टी नई- नई रणनीतियां भी अपनाती दिखाई दे रही है और इस कड़ी में मंगलवार को प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में विधान सभा चुनाव में महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देने का ऐलान कर नया सियासी समीकरण साधने की कोशिश की है। यह ऐलान कांग्रेस का बड़ा दांव माना जा रहा है।

    आजाद हिंदुस्तान में यह पहली बार है जब किसी पार्टी ने महिलाओं के लिए इतना बड़ा ऐलान किया है। प्रियंका गांधी ने इस दौरान ये भी कहा कि जाति के आधार पर नहीं हम महिलाओं को मेरिट के आधार पर टिकट देंगे। इस मुद्दे पर प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने चार मेहमान बीजेपी नेत्री शबनम पांडेय, सपा प्रवक्ता जेवा यास्मीन, वरिष्ठ पत्रकार प्रेम कुमार और कांग्रेस नेत्री सदफ जाफर से चर्चा की। इस दौरान प्रधान संपादक के द्वारा मेहमनों से तीखे सवाल भी किए गए।

    बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश में बड़ा दांव खेला है। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने लखनऊ में आज आधी आबादी यानी महिलाओं को लेकर बड़ी घोषणा की है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि देश एवं उत्तर प्रदेश की महिलाओं को समर्पित मेरी प्रेस वार्ता। एक नई शुरुआत...। प्रियंका गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि महिला सशक्तिकरण हमारा ध्येय है। महिलाएं तभी सशक्त होंगी, जब उन्हें अधिकार मिलेंगे, जब उन्हें राजनीति में हिस्सेदारी मिलेगी। महिला सशक्तिकरण की तरफ कदम बढ़ेंगे, अब महिलाओं को भी राजनीति में हिस्सेदारी मिलेगी। 

    आने वाले उत्तर प्रदेश के चुनावों में हम 40 प्रतिशत टिकट (उम्मीदवार) हम महिलाओं को देंगें। यह निर्णय उन सब महिलाओं के लिए है जो चाहती हैं कि उत्तर प्रदेश में बदलाव आए, प्रदेश आगे बढ़े। इस दौरान प्रियंका गांधी ने महिला समाजसेवी, अध्यापिका, महिला पत्रकारों व अन्य सेवाओं से जुड़ीं महिलाओं को राजनीति में आने का आह्वान भी किया। प्रियंका ने कहा है कि जो भी इच्छुक वे आगे आएं और आवेदन करें हम उन्हें टिकट देंगे। यूपी में शोषित महिलाओं को लेकर यह फैसला कांग्रेस पार्टी ने लिया है। इसके अलावा प्रियंका ने नया नारा भी दिया है। लड़की हूं, लड़ सकती हूं....

    और भी...

  • कोर्ट में वकील की गोली मारकर हत्या करने वाले ने बताई मजबूरी, बोले-दो ऑप्शन थे, मरना या मारना

    कोर्ट में वकील की गोली मारकर हत्या करने वाले ने बताई मजबूरी, बोले-दो ऑप्शन थे, मरना या मारना

     

    Shahjahanpur Court Firing: शाहजहांपुर में सोमवार को कचहरी परिसर में ही वकील भूपेंद्र गुप्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या करने वाले सुरेश गुप्ता को कोर्ट परिसर से ही गिरफ्तार कर लिया गया। स्टेट बैंक से रिटायर 67 वर्षीय सुरेश गुप्ता भी वकील ही हैं। सुरेश गुप्ता ने मीडिया के सामने ही कैमरे पर अपना जुर्म स्वीकर कर लिया। सुरेश ने हत्या के पीछे की मजबूरी भी बयां की। उन्होंने कहा कि मेरे पास दो ही ऑप्शन थे। भूपेंद्र को मारना या खुद सुसाइड करके मर जाना।

    अधिवक्ता सुरेश गुप्ता और भूपेंद्र गुप्ता का विवाद वर्षों पुराना है। एक-दूसरे पर दोनों ने कई मुकदमे किए हैं। दो महीने पहले भी दोनों कोर्ट में भिड़ गए थे। दोनों में मारपीट भी हुई थी। कोर्ट में मारपीट का मामला सेंट्रल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अनंत कुमार सिंह और महासचिव अनीत त्रिवेदी के पास भी पहुंचा था। अध्यक्ष ने दोनों को बुलाकर चेतावनी दी थी कि दोबारा इस तरह का कृत्य करने पर बार एसोसिएशन से निलंबित कर देंगे। 

    इसी बीच सोमवार को वारदात को अंजाम दे दिया गया। हत्या करने वाले सुरेश गुप्ता ने कहा कि भूपेंद्र ने मेरे ऊपर चोरी-डकैती, मर्डर समेत 24 मुकदमे कर रखे थे। कोई भी मुकदमा बंद होता था तो रिविजन डाल देते थे। हर साल एक दो मुकदमे नए डाल देते थे। इनके कारण खाना नहीं खा पाते थे। रात में नींद नहीं आती थी। इस वजह से हम परेशान थे। हमेशा यह सोचते थे कि या तो इसे मार दें या खुद सुसाइड कर लें। 

    सुरेश गुप्ता ने बताया कि 2000 तक भूपेंद्र मेरे किराएदार थे। पुलिस के सहयोग से किसी तरह मकान खाली कराया था। इसी के बाद से वह मेरी शिकायत हर जगह करने लगे थे। 153 शिकायतें मेरे पास रिसीव्ड रखी हुई है। स्टेट बैंक से रिटायर हूं। जब उनका कोई कंप्लायन नहीं हुआ तो मेरे ऊपर तरह तरह के मुकदमे करने लगे थे।

    और भी...

  • Priyanka Gandhi : यूपी चुनाव में महिलाओं को मिलेगी 40 फीसदी टिकट, ये होगा नारा

    Priyanka Gandhi : यूपी चुनाव में महिलाओं को मिलेगी 40 फीसदी टिकट, ये होगा नारा

     

    Uttar Pradesh Eelection: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh assembly elections) की तैयारियों में राजनीतिक दलों के नेता जुट गए हैं। नेताओं ने वोटरों को लुभाना भी शुरू कर दिया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Congress General Secretary Priyanka Gandhi Vadra) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बड़ा दांव खेला है। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने लखनऊ में आधी आबादी यानी महिलाओं को लेकर बड़ी घोषणा की है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि देश एवं उत्तर प्रदेश की महिलाओं को समर्पित मेरी प्रेस वार्ता। एक नई शुरुआत...। प्रियंका गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि महिला सशक्तिकरण हमारा ध्येय है। महिलाएं तभी सशक्त होंगी, जब उन्हें अधिकार मिलेंगे, जब उन्हें राजनीति में हिस्सेदारी मिलेगी। महिला सशक्तिकरण की तरफ कदम बढ़ेंगे, अब महिलाओं को भी राजनीति में हिस्सेदारी मिलेगी।

    आने वाले उत्तर प्रदेश के चुनावों में हम 40 प्रतिशत टिकट (उम्मीदवार) हम महिलाओं को देंगें। यह निर्णय उन सब महिलाओं के लिए है जो चाहती हैं कि उत्तर प्रदेश में बदलाव आए, प्रदेश आगे बढ़े। इस दौरान प्रियंका गांधी ने महिला समाजसेवी, अध्यापिका, महिला पत्रकारों व अन्य सेवाओं से जुड़ीं महिलाओं को राजनीति में आने का आह्वान भी किया। प्रियंका ने कहा है कि जो भी इच्छुक वे आगे आएं और आवेदन करें हम उन्हें टिकट देंगे। यूपी में शोषित महिलाओं को लेकर यह फैसला कांग्रेस पार्टी ने लिया है। इसके अलावा प्रियंका ने नया नारा भी दिया है। लड़की हूं, लड़ सकती हूं.... प्रियंका ने कहा कि महिलाओं को मेरिट के आधार पर टिकट दिया जाएगा। हमें जाति धर्म से ऊपर उठना होगा। आने वाले समय में 50 प्रतिशत महिलाओं को टिकट दिया जाएगा। जो भी महिलाएं इच्छुक हैं, वे महिलाएं अपने विधानसभा से फॉर्म लेकर आवेदन कर सकती हैं।

    और भी...

  • कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का बुधवार को उद्घाटन करेंगे PM Modi, प्रसाद के तौर पर बाटेंगे ये खास खीर

    कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का बुधवार को उद्घाटन करेंगे PM Modi, प्रसाद के तौर पर बाटेंगे ये खास खीर

     

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(PM Modi) बुधवार को उत्तर प्रदेश के चौथे इंटरनेशनल एयरपोर्ट यानी कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Kushinagar International Airport) का उद्घाटन करेंगे। यह देश का 29वां और यूपी का चौथा इंटरनेशनल एयरपोर्ट होगा। बता दें कि कुशीनगर बौद्ध सर्किट के तहत आता है। इसी के अंतर्गत गौतम बुद्ध का जन्म स्थान लुम्बिनी, सारनाथ और गया भी आते हैं। इस एयर पोर्ट पर 20 अक्टूबर को यहां पहली इंटरनेशनल फ्लाइट लैंड करेगी। जिसमें श्रीलंका के 25 प्रतिनिधि और 100 बौद्ध भिक्षुक मौजूद रहेंगे।

    जानकारी के मुताबिक, यहां आने वाले सभी अतिथियों को एक खास यानी कालानमक चावल से बनी खीर को प्रसाद के तौर पर बांटा जाएगा। इस पर पार्टिसिपेटर रूरल डेवलपमेंट फाउंडेशन के अध्यक्ष राम चेत चौधरी ने बताया, 'ऐसा कहा जाता है कि गौतम बुद्ध कालानमक चावल से बनी खीर खाकर ही अपना व्रत खोलते थे'। उन्होंने बताया कि कालानमक चावल जो अपनी खुशबू और पोषक तत्वों के लिए जाना जाता है। यह सिर्फ कुशीनगर की नहीं बल्कि सिद्धार्थ नगर, बस्ती, गोरखपुर, महाराजगंज और संत कबीर नगर की भी पहचान है। इस पर राम चेत चौधरी ने बताया कि "एक बार भगवान बुद्ध ने किसानों को कालानमक चावल की खेती करने की सलाह भी दी थी"। इसके अलावा चीनी यात्री फा-हियेन ने भी सिद्धार्थनगर में कालानमक चावक का जिक्र किया है। राम चेत ने बताते हैं कि कुछ साल पहले चावल के उत्पादन में भारी कमी आ गई थी, लेकिन राज्य सरकार के प्रयासों से इसकी खेती 50 हजार हेक्टेयर तक बढ़ गई। 

    एयरपोर्ट बनने के लाभ
    कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के शुरू होने से पहला लाभ जो है वो बौद्ध तीर्थयात्रियों को मिलेगा, वह आसानी से बौद्ध सर्किट की यात्रा कर पाएंगे। इसके अलावा यहां पर्यटन और रोजगार में भी बढ़ोतरी होगी। एयरपोर्ट के शुरू होने के बाद अब श्रीलंका, जापान, चीन, थाईलैंड, ताइवान, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और वियतनाम जैसे देशों के यात्रियों के लिए सारनाथ, श्रावस्ती, बोध गया, लुम्बिनी, वैशाली नगर, केसरिया और संकीसा का सफर कम समय में तय हो सकेगा। 

    और भी...

  • Shahjahanpur Court Firing: कोर्ट में घुसकर वकील को मारी गोली, आरोपी फरार, वकील की मौके पर ही मौत

    Shahjahanpur Court Firing: कोर्ट में घुसकर वकील को मारी गोली, आरोपी फरार, वकील की मौके पर ही मौत

     

    UP Lawyer Killed in Shahjahanpur: राजधानी दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में हुई फायरिंग की घटना को कुछ दिन ही बीते है कि यूपी के शाहजहांपुर कोर्ट के अंदर घुसकर वकील को गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है। आपको बता दें कि यूपी के शाहजहांपुर (Shahjahanpur) जिले में बेखौफ बदमाश ने शाहजहांपुर की कोर्ट (Shahjahanpur Court Firing) के अंदर घुसकर वकील की गोली मारकर हत्या कर दी है। फायरिंग की आवाज के बाद वहां मौजूद वकील दौड़कर घटनास्थल पर पहुंचे, लेकिन तब तक आरोपी फरार हो चुका था।

    वारदात दोपहर करीब 12 बजे की बताई जा रही है। आरोपी कचहरी की तीसरी मंजिल में ACJM ऑफिस में पहुंचा वकील को गोली मरकर मौत के घाट उतार दिया। वारदात के वक्त ऑफिस में कोई मौजूद नहीं था। वहीं, दिनदहाड़े कोर्ट परिसर में हुई हत्या के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है। घटना से गुस्साए वकीलों ने हंगामा भी किया। पुलिस ने मृतक वकील के शव को अपने कब्जे में ले लिया है। मृतक वकील की पहचान जलालाबाद निवासी भूपेंद्र प्रताप सिंह के रूप में हुई है।

    और भी...

  • Rail Roko Andolan: किसानों का 'रेल रोको आंदोलन'  शुरू, लखनऊ में धारा 144 लागू

    Rail Roko Andolan: किसानों का 'रेल रोको आंदोलन' शुरू, लखनऊ में धारा 144 लागू

     

    Rail Roko Andolan: उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) के लखीमपुर खीरी(Lakhimpur Kheri Violence) में हुई घटना के विरोध में सोमवार को किसानों ने रेल रोको आंदोलन का ऐलान किया है। जो सुबह 10 बजे से शुरू हो गया है और 4 बजे तक जारी रहेगा। संयुक्त किसान मोर्चा ने ऐलान करते हुए इस बार कहा कि ये 6 घंटे का रेल रोको आंदोलन  होगा। जो देश के अलग अलग हिस्सों में रेल रोकी जाएगी। इसी बीच लखनऊन में धारा 144 को भी लागू कर दिया है। किसान मोर्चा ने कहा ये आंदोलन शांतिपूर्ण होगा और किसी भी तरह की तोड़फोड़ न की जाए। दिल्ली एनसीआर में भी इस आंदोलन का असर ट्रैफिक के माध्य से देखने को मिलेगा। किसानों ने कहा है कि संपत्ति को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे।

    - भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh tikat)ने किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन को लेकर कहा कि ये अलग-अलग ज़िलों में अलग-अलग जगह होगा। पूरे देश में वहां के लोगों को पता रहता है ​कि हमें कहां ट्रेन रोकनी है। भारत सरकार ने अभी हमसे कोई बात नहीं की है। 

    - किसान संगठन के 'रेल रोको आंदोलन' के आह्वान के बाद अमृतसर के देवी दासपुरा गांव में प्रदर्शनकारी किसान रेलवे ट्रैक पर धरने पर बैठ गए।

    - लखनऊ पुलिस ने कहा कि किसान संगठनों द्वारा आहूत रेल रोको आंदोलन में हिस्सा लेने वालों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करेगी। जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी गई है, अगर कोई सामान्य स्थिति में खलल डालने की कोशिश करेगा तो उसे दंडित किया जाएगा।

    और भी...

  • Ghaziabad: खेलते-खेलते सोसायटी की 25वीं मंजिल से गिरे दो जुड़वा बच्चे, मौके पर हुई मौत

    Ghaziabad: खेलते-खेलते सोसायटी की 25वीं मंजिल से गिरे दो जुड़वा बच्चे, मौके पर हुई मौत

     

    दिल्ली(Delhi) से सटे उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के गाजियाबाद(Ghaziabad) से एक दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई है। जहां विजय नगर इलाके की एक सोसायटी में रहने वाले दो जुड़वां भाईयों की 25वीं मंजिल से गिरकर मौत हो गई है। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के भाईयों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। यह घटना 16-17 अक्टूबर रात करीब एक बजे की बताई जा रही है।

    दरअसल, गाजियाबाद के विजयनगर थाना क्षेत्र के सिद्धार्थ विहार की एक सोसाइटी में 25वीं मंजिल पर एक परिवार रहता है। इस परिवार के दो जुड़वा बच्चे 14 साल के सुर्य नारायण और सत्य नारायण रात करीब एक बजे बालकनी पर खेल रहे थे। तभी खेलते-खेलते अचानक दोनों बालकनी से नीचे गिर गए।  

    पुलिस ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि हादसे के दौरान बच्चों की मां और बहन घर पर ही मौजूद थी। बच्चों के पिता काम के सिलसिले में मुंबई गए हुए हैं। पुलिस के मुताबिक दोनों जुड़वा भाई अलग-अलग कमरों में थे और फिर मां रात 12 बजे सोने चली गई थीं। उसके बाद ये हादसा कैसे हुआ, कैसे दोनों भाई रेलिंग के पास पहुंच गए, इन सभी सवालों के जवाब का पता लगाने की कोशिश की जा रही है।

    मामले पर पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस घटना के बारे में मृतकों की मां से पूछताछ की गई है। एक बार फिर मां और बहन के बयान लिए जाएंगे। मोबाइल फोनों को भी खंगाला जा रहा है। 

    और भी...

  • UP Election 2022: चुनाव से पहले BJP और SP के बीच छीड़ी पोस्टर वॉर, गुमशुदा के पोस्टर किये शेयर

    UP Election 2022: चुनाव से पहले BJP और SP के बीच छीड़ी पोस्टर वॉर, गुमशुदा के पोस्टर किये शेयर

     

    उत्तर प्रदेश (UP) में 2022 में विधानसभा चुनाव आने वाले हैं। आगामी विधानसभा चुनाव बीजेपी (BJP) और समाजवादी पार्टी (SP) दोनों के लिए काफी अहम है। इसके लिए दोनों ही पार्टियां लोगों को लुभाने में जुटी हुई हैं। इसी दौरान बीजेपी (BJP) और सपा दोनों पार्टियों में 'पोस्टर वॉर' शुरू हो चुकी है। पहले बीजेपी ने पॉस्टर शेयर कर अखिलेश यादव को 'गुमशुदा' बताया। वहीं अब समाजवादी पार्टी ने भाजपा पर पलटवार करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ही गुमशुदा ठहरा दिया।

    दरअसल, बीजेपी पर पलटवार सपा के मीडिया कंसल्टेंट आशीष यादव किया है। उन्होंने ट्विटर पर एक पोस्टर शेयर कर लिखा - ''महाराज जी कहां हो लापता ? साढ़े चार साल से यूपी का विकास पूछ रहा आपका पता।'' इतना ही नहीं इसी के साथ आशीष ने लिखा- लापता, पद - मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश, काम- सपा के कामों का फीता काटना और नाम बदलना। आरोप- अपने मुख्यमंत्रित्व दायित्वों को नकार कर प्रदेश की पीड़ित जनता को राम भरोसे छोड़ दिया है।'

     

    बीजेपी ने किया था ये पोस्टर

    बता दें कि 14 अक्टूबर को यूपी बीजेपी ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर अखिलेश यादव को गुमशुदा बताया था। पोस्टर में लिखा था “आजमगढ़ के सांसद के तौर पर अखिलेश यादव गुमशुदा है। इस पोस्ट को शेयर कर बीजेपी ने कैप्शन में लिखा 'गुमशुदा की तलाश... नाम:- अखिलेश यादव, संसदीय क्षेत्र- आजमगढ़, नोट:- आज ही इन्हें ट्विटर पर 'रामनवमी' की शुभकामनाएं देते पाया गया था। कोई जानकारी मिलने पर...''

    और भी...

  • महानवमी की शुभकामनाएं अखिलेश यादव को पड़ी भारी, हुए ट्रोलर्स के शिकार

    महानवमी की शुभकामनाएं अखिलेश यादव को पड़ी भारी, हुए ट्रोलर्स के शिकार

     

    देशभर में आज महानवमी मनाई जा रही है, आज मां दुर्गा के आखिरी स्वरूप मां सिद्धिदात्री की उपासनाकी जा रही है, ऐसे में सोशल मीडिया पर लोगों की शुभकामनाएं लगातार जारी हैं। इसी दौरान सपा नेता अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लोगों को शुभकामनाएं दी, लेकिन महा नवमीके बजाय रामनवमी लिख कर ट्रोलर्स का शिकार हो गए। अखिलेश यादव ने अपने ट्वीट में शुभकामनाएं देते हुए लिखा था, ‘आपको और आपके परिवार को महानवमी की अनंत मंगलकामनाएं! हालांकि बाद में उन्होंने इसे ठीक कर दिया। 

    ट्रोलर्स ने ये किया रिप्लाई

    अखिलेश यादव के इस ट्वीट को लेकर एकट्रोलर ने लिखा ‘अखिलेश जी, आप जालीदार टोपी ही लगाइये, वहींआप पर सूट करती है। सनातन धर्म और रीति रिवाजों के बारे में जब आपको नहीं मालूम है तो क्यों फजीहत कराते हैं। कभी रामनवमी तो कभी महानवमी.....’?

    वहीं एक ट्रोलर ने लिखा कि‘आपको चुनाव हारने की बददुआएं… गोलीकांड में मरे हिन्दुओं की तरफ से मैंने दी! योगी जी आयेंगे…राम मंदिरबनवायेगे.. गद्दारों की छाती पर सांप लोटजायेंगे.. जब हम राम मंदिर में दर्शन करघंटा बजाएंगे! तो जोर से बोलो जय श्री राम...दुश्मनोंका हो जाए बाइस में काम-तमाम..’    

    और भी...

  • UP Panchayat Sahayak Bharti: इन गांवों में हो गई पंचायत सहायकों की भर्ती, यहां हो रही है देरी

    UP Panchayat Sahayak Bharti: इन गांवों में हो गई पंचायत सहायकों की भर्ती, यहां हो रही है देरी

     

    UP Panchayat Sahayak Bharti: उत्तर प्रदेश में 58 हजार से अधिक ग्राम पंचायतों में होने वाली ग्राम पंचायत सहायक भर्ती में अब तक 43 हजार से अधिक ग्राम पंचायतों में चयन की कार्यवाही पूरी हो गई है। बााकी में चयन का काम चल रहा है। महराजगंज जनपद के 713 ग्राम पंचायतों में कम्प्यूटर ऑपरेटर, एकांउटेंट कम डाटा कम्प्यूटर ऑपरेटरों का चयन हो जाने के बाद भी उन्हें नियुक्ति पत्र नहीं मिल पाया है। वहीं सोनभद्र जनपद में 629 ग्राम पंचायतों के सापेक्ष 594 ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक के चयन के लिए डीएम की ओर से संस्तुति प्रदान कर दी गई है।

    मेरठ जनपद से करीब 3800 आवेदन जमा हुए। इन आवेदन करने वालों में 60 प्रतिशत उच्च शिक्षित युवा शामिल हैं जबकि सहायक पद पर चयन 12वीं की योग्यता पर होगा। पंचायत सहायक की भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया पूरी हो गई है। गांव पंचायतों में अब आए आवेदनों के आधार पर मेरिट तैयार कर ली गई है। आवेदन पत्रों की छंटनी में लगे कर्मचारी नौकरी के लिए बड़ी-बड़ी योग्यता वाले आवेदकों को देखकर हैरान हैं। जिले में मात्र 479 पद हैं, जिनमें नौकरी पाने के लिए 3800 से अधिक शिक्षित युवाओं ने आवेदन किए हैं। हर किसी को भरोसा है कि उनका चयन होगा। औसत की बात करें तो एक पद पर छह आवेदनकर्ताओं का दावा है।

    योगी सरकार ने सभी 58 हजार 189 ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक कम अकाउंटेंट कम डाटा एंट्री ऑपरेटर की नियुक्ति के लिए आवेदन मांगे थे। यह भर्ती प्रक्रिया 10 सितंबर तक पूरी होनी थी। अभी तक 43743 ग्राम पंचायतों में चयन हो पाया है। इनका ब्यौरा पंचायती राज विभाग के पोर्टल पर ऑनलाइन अपडेट किया है। अभी तक 15000 पंचायत सहायकों का चयन बाकी है। इसी तरह चयनित पंचायत सहायकों के अनुबंधन संबंधी कार्यवाही काफी धीमी है। चयनित अभ्यर्थियों में से अब तक 13,694 काही अनुबंधन हो सका है, पंचायती राज विभाग के सीनियर अधिकारी बताते हैं पूरे प्रदेश में चयन संबंधी कार्यवाही चल रही है।

    और भी...

  • Kheri Violence: सहआरोपी अंकित दास ने SIT  के सामने किया सरेंडर, पुलिस के डर से नहीं आया था सामने

    Kheri Violence: सहआरोपी अंकित दास ने SIT के सामने किया सरेंडर, पुलिस के डर से नहीं आया था सामने

    Lakhimpur Kheri Violence: लखीमपुर कांड (Lakhimpur Violence) के सह आरोपी अंकित दास ने एसआईटी (SIt) के सामने बुधवार को सरेंडर कर दिया है। यूपी पुलिस के भारी दबाव के कारण अंकित कोर्ट में हाजिर नहीं हो रहा था। वह वकीलों की पूरी फ़ौज और गाड़ियों के क़ाफ़िले के साथ सामने निकलकर कर आया।  

    दरअसल, हिंसा के बाद से पुलिस अंकित की तलाश में जुटी हुई थी, इसके चलते रविवार को पुलिस ने अंकित दास को ढूंढने के लिए उनके घर यानी लखनऊ के पुराना किला मोहल्ले भी पहुंची थी। लेकिन अंकित वहां से गायब था। इतना ही नहीं पुलिस ने अंकित के बारे में उसके घर पर जाकर उनके बारे में पूछताछ भी की थी। अंकित दास को ढूंढने के लिए पुलिस ने कई जगह छापेमारी भी की। बता दें कि अंकित दास यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री बाबू बनारसी दास का पोता और पूर्व सांसद अखिलेश दास का भतीजा है। साथ ही लखीमपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा का करीबी भी है। 

    अंकित दास शुरू में ही करना चाहता है सरेंडर
    सीजेएम (CJM) की कोर्ट में अंकित दास की तरफ से सरेंडर के लिए कल अर्जी लगाई गई थी। कोर्ट ने अर्जी का संज्ञान लेते हुए इस पर स्थानीय पुलिस से मामले में रिपोर्ट की मांगी है। अंकित पर आरोप है कि हिंसा वाले दिन किसानों को कुचलने  वाली थार जीप के पीछे चल रही फॉर्च्यूनर में अंकित दास बैठा हुआ था। 

    ड्राइवर शेखर भारती भी गिरफ्तार

    गौरतलब है कि खीरी हिंसा में चार किसान सहित आठ लोगों की मौत के मामले में केंद्रीय राज्य गृह मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा उर्फ मोनू के बाद उसके मित्र अंकित दास के ड्राइवर शेखर भारती को एसआईटी ने मंगलवार को गिरफ्तार किया था। उसके बाद उसे सीजेएम की अदालत में पेश किया गया। जहां, उसकी रिमांड भी एसआईटी ने अदालत से मांगी। हिंसा के समय अंकित दास की गाड़ी यानी फॉर्च्यूनर को उसका ड्राइवर शेखर भारती चला रहा था। जो हादसे के दौरान काफिले के साथ भागती हुई दिखाई दी। इस केस में किसानों ने आशीष मिश्रा समेत 15 अज्ञात लोगों के नामजद किये हैं। 

    और भी...