ब्रेकिंग न्यूज़
  • हरियाणा विधानसभा का बजट सत्र आज से
  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज रांची में एक सभा को करेंगे संबोधित
  • निर्भया केस में आज पटियाला कोर्ट जारी कर सकती है नया डेथ वारंट
  • कराची: जहरीली गैस से चार की मौत, 15 लोग अस्पताल में भर्ती

दुनिया

  • चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी, दो दिन में गई इतने लोगों कि जान

    चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी, दो दिन में गई इतने लोगों कि जान

     

    कोरोना वायरस का कहर रूकने का नाम नहीं ले रहा है। इस वायरस का सबसे ज्यादा असर चीन में देखने को मिल रहा है। कोरोना वायरस चीन में रोजाना लोगों को अपना शिकार बना रहा है और अब इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 1631 हो गई है। बीते दो दिनों में इस बीमारी से 143 लोगों की मौत हुई है। शनिवार को यह जानकारी चीन के स्वास्थ्य अधिकारी ने दी। 

    चीन में कोराना वायरस का सबसे ज्यादा आतंक हुबेई प्रांत में देखने को मिल रहा है। नोवल कोरोना वायरस का केंद्र बने हुबेई प्रांत में इस बीमारी ने 2420 नए लोगों को अपने चपेट में ले लिया है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने कहा कि शुक्रवार को हुबेई प्रांत में कोरोना वायरस से 139 लोगों की मौत हो गई। 

    इसके अलावा, चीन में कोरोना वायरस से 1700 से अधिक चिकित्सा कर्मी संक्रमित हो गए हैं। करीब 1400 मरीजों की इस बीमारी से मौत हो गई। यह रोग एशिया के कई हिस्सों, सुदूर अमेरिका यूरोप तक फैल गया है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग में उप मंत्री जेंग यीजिंग ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि छह चिकित्साकर्मियों की इस बीमारी से मौत हो गई है।

    और भी...

  • जानिए लोकप्रियता के मामले में मोदी और डोनाल्ड ट्रम्प में से कौन है सबसे आगे ?

    जानिए लोकप्रियता के मामले में मोदी और डोनाल्ड ट्रम्प में से कौन है सबसे आगे ?

     

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पहली बार भारत आने वाले हैं जिससे पूरी दुनिया कि नजर भारत पर होगी। डोनाल्ड ट्रम्प भारत आने को लेकर काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं। ट्रम्प ने शनिवार को एक ट्वीट किया, “हाल ही में फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग से मिला था। उन्होंने मुझे बताया कि फेसबुक पर लोकप्रियता के मामले में मैं नंबर 1 और भारत के पीएम नरेंद्र मोदी नंबर 2 पर हैं।

    आपको बता दें कि, डोनाल्ड ट्रम्प इस महीने के 24 और 25 फरवरी को भारत की यात्रा पर आने वाले हैं। इससे पहले, ट्रम्प और उनकी पत्नी मेलानिया ने अलग-अलग ट्वीट कर भारत आने की खुशी जताते रहे हैं। ट्रम्प ने संकेत दिए थे कि उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर हो सकते हैं।

    ट्रम्प ने बुधवार को कहा था कि वह बेहतर संबंधों की उम्मीद लेकर भारत जा रहे हैं। ट्रम्प ने पत्रकारों से कहा था, “वे मेरे दोस्त हैं और वे एक अच्छे व्यक्ति भी हैं।” वहीं पीएम मोदी ने बुधवार को ट्वीट किया था कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा विशेष है और यह भारत-अमेरिका की दोस्ती को और मजबूत बनाने की दिशा में अहम कदम साबित होगी।

    और भी...

  • कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति के बयान पर भारत ने जताई आपत्ति, कहा- पहले समझ विकसित करें

    कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति के बयान पर भारत ने जताई आपत्ति, कहा- पहले समझ विकसित करें

     

    नई दिल्ली: भारत ने कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन की टिप्पणियों की शनिवार को आलोचना करते हुए उनसे कहा कि वह भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप ना करें। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि जम्मू-कश्मीर को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति द्वारा दिए गए सभी संदर्भों को भारत खारिज करता है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है जो उससे कभी अलग नहीं हो सकता।

    तुर्की को नसीहत देते हुए भारत ने कहा कि हम तुर्की नेतृत्व से अनुरोध करते हैं कि वह भारत के लिए पाकिस्तान से पैदा होने वाले आतंकवाद के खतरे सहित सभी तथ्यों की सही समझ विकसित करे। दरअसल, भारत की आपत्ति के बावजूद तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने शुक्रवार को एक बार फिर कश्मीर मुद्दा उठाया और कहा था कि उनका देश इस मामले में पाकिस्तान के रुख का समर्थन करेगा क्योंकि यह दोनों देशों से जुड़ा विषय है।

    इससे पहले दो दिन की यात्रा पर पाकिस्तान पहुंचे एर्दोआन ने पाकिस्तान की संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए ऐलान किया कि तुर्की इस सप्ताह पेरिस में वित्तीय कार्रवाई कार्यबल (एफएटीएफ) की ग्रे सूची से बाहर होने के पाकिस्तान के प्रयासों का समर्थन करेगा। उन्होंने एफएटीएफ की आगामी बैठक के संदर्भ में कहा, ''मैं इस बात पर भी जोर देना चाहता हूं कि हम एफएटीएफ की बैठकों में राजनीतिक दबाव के संदर्भ में पाकिस्तान का समर्थन करेंगे।

    कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान के रुख पर अपने देश का समर्थन दोहराते हुए एर्दोआन ने कहा कि इसे संघर्ष या दमन से नहीं सुलझाया जा सकता बल्कि न्याय और निष्पक्षता के आधार पर सुलझाना होगा। उन्होंने पिछले साल अगस्त में जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के भारत के फैसले के परोक्ष संदर्भ में कहा, ''हमारे कश्मीरी भाइयों बहनों ने दशकों तक परेशानियां झेली हैं और हाल के समय में लिये गये एकपक्षीय कदमों के कारण समस्याएं और बढ़ गयी हैं।

    तुर्क राष्ट्रपति ने कहा, 'आज कश्मीर का मुद्दा हमारे उतना ही करीब है जितना आपके (पाकिस्तान के)।' उन्होंने कहा, 'ऐसा समाधान सभी संबंधित पक्षों के हित में होगा। तुर्की कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए न्याय, शांति और संवाद के साथ खड़ा रहेगा।' एर्दोआन ने अपने भाषण में कश्मीरियों के संघर्ष की तुलना प्रथम विश्व युद्ध में अपने देश के संघर्ष से की। उन्होंने पिछले साल सितंबर में संयुक्त राष्ट्र महासभा में भी अपने भाषण में कश्मीर का मुद्दा उठाया था। संयुक्त राष्ट्र में एर्दोआन के बयान पर प्रतिक्रिया करते हुए भारत ने कहा था कि उसे कश्मीर पर तुर्की के बयान पर गहरा अफसोस है और यह उसका आंतरिक मामला है।

     

    और भी...

  • चीन से लौटे अफसर को किम जोंग ने मरवा दी गोली

    चीन से लौटे अफसर को किम जोंग ने मरवा दी गोली

     

    कोरोनावायरस के डर के बीच चीन से लौटे एक व्यक्ति को उत्तर कोरिया में सरेआम गोली मार दी गई है। माना जा रहा है कि यह शख्स कोरोनावायरस से पीड़ित था और उसे सार्वजनिक स्नान वाले स्थान पर देखा गया था, जो नियमों के खिलाफ है। जबकि उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन ने चीन से लौटने वाले सभी लोगों के लिए सख्त नियम बनाए हैं। 

    गौरतलब है कि उत्तर कोरियाई तानाशह किम जोंग उन ने चीन से लौटने वाले सभी लोगों के लिए सख्त नियम बनाए हैं। ऐसे लोगों को निगरानी केंद्रों में रखा जा रहा है। ऐसे लोगों को सार्वजनिक स्थलों पर जाने से रोका गया है। 

    मीडिया खबरों के मुताबिक कोरोनावायरस के संदिग्ध शख्स ने सख्त नियमों का उल्लंघन किया था। इसलिए उसे जान गंवानी पड़ी। उत्तर कोरिया ने एहितयात के तौर पर चीन से आने वाले विमान और ट्रेन पर पाबंदी लगाई है। इसके अलावा यहां आने वाले प्रत्येक विदेशी को एक हफ्ते तक आइसोलेशन वार्ड में रहना जरूरी है।  

    वहीं, चीन में बुधवार तक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,115 हो गई और इसके अभी तक 44,763 मामले सामने आए थे विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूचओ) के अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों की एक टीम आपात स्वास्थ्य स्थितियों से निपटने के लिए प्रभारी ब्रूस एलवर्ड के नेतृत्व में सोमवार रात पहुंची थी। टीम ने कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने को लेकर चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ मिलकर काम शुरू कर दिया है।

     

    और भी...

  • इन्फोसिस के फाउंडर नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सुनक बने ब्रिटेन के वित्त मंत्री

    इन्फोसिस के फाउंडर नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सुनक बने ब्रिटेन के वित्त मंत्री

     

    ब्रिटेन में भारतीय मूल के सांसद ऋषि सुनक को नया वित्त मंत्री बना गया है. उन्हें पाकिस्तानी मूल के साजिद जावीद को हटाकर वित्त मंत्री बनाया गया है. यूरोपीय यूनियन से हटे ब्रिटेन में यह पद अब बेहद महत्वपूर्ण हो गया है.

    39 साल के ऋषि वर्तमान में ट्रेजरी के मुख्य सचिव का पद संभाल रहे थे. सुनाक की इस नियुक्ति की पुष्टि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के आधिकारिक ट्विटर हैंडल 10Downing Street से की गई है. सुनाक शीर्ष सरकारी बेंच में गृह सचिव प्रीति पटेल के साथ ब्रिटेन के चांसलर ऑफ द एक्सचेकर के रूप में शामिल होंगे.

    अगले महीने पेश होना है बजटसुनाक का यह प्रमोशन ऐसे समय में हुआ है जब गुरुवार को ब्रिटेन के वित्त मंत्री साजिद जाविद ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. जाविद का ये इस्तीफा ब्रेग्जिट के कुछ हफ्तों बाद ही आया है. जाविद को एक महीने बाद ही ब्रिटेन की बोरिस जॉनसन सरकार का पहला वार्षिक बजट पेश करना था.

    जाविद के प्रवक्ता ने पुष्टि की कि वह पद छोड़ रहे हैं क्योंकि दिसंबर में हुए चुनाव में संसदीय बहुमत से जीतने के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन पहली बार अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल करने जा रहे हैं.

    डोमेस्टिक प्रेस एसोसिएशन समाचार एजेंसी ने जाविद के एक अनाम स्रोत के हवाले से कहा कि जॉनसन चाहते थे कि वह अपनी सहयोगी टीम को बर्खास्त करें लेकिन उन्होंने इससे इनकार कर दिया था.

    अगले महीने पेश होना है बजटसुनाक का यह प्रमोशन ऐसे समय में हुआ है जब गुरुवार को ब्रिटेन के वित्त मंत्री साजिद जाविद ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. जाविद का ये इस्तीफा ब्रेग्जिट के कुछ हफ्तों बाद ही आया है. जाविद को एक महीने बाद ही ब्रिटेन की बोरिस जॉनसन सरकार का पहला वार्षिक बजट पेश करना था.

    जाविद के प्रवक्ता ने पुष्टि की कि वह पद छोड़ रहे हैं क्योंकि दिसंबर में हुए चुनाव में संसदीय बहुमत से जीतने के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन पहली बार अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल करने जा रहे हैं.

    डोमेस्टिक प्रेस एसोसिएशन समाचार एजेंसी ने जाविद के एक अनाम स्रोत के हवाले से कहा कि जॉनसन चाहते थे कि वह अपनी सहयोगी टीम को बर्खास्त करें लेकिन उन्होंने इससे इनकार कर दिया था.

    और भी...

  • मैच फिक्सिंग के आरोपी सट्टेबाज संजीव चावला को 20 साल बाद लंदन से भारत लाया गया

    मैच फिक्सिंग के आरोपी सट्टेबाज संजीव चावला को 20 साल बाद लंदन से भारत लाया गया

     

    मैच फिक्सिंग के आरोपी सट्टेबाज संजीव चावला को लंदन से प्रत्यर्पित कर लिया गया। वह 2000 के मैच फिक्सिंग स्कैंडल में शामिल था। मामला दर्ज होने के 20 साल बाद उसे भारत लाया गया है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच मामले की जांच कर रही थी। चावला को आज दिल्ली लाया गया। उसे तिहाड़ जेल भेजा जाएगा।

    ब्रिटेन की कोर्ट के फैसले के अनुसार चावला को हिरासत में रखा जाएगा। 16 जनवरी को लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुनाते हुए प्रत्यर्पण को मंजूरी दे दी थी। गृह सचिव के हस्ताक्षर के बाद चावला को 28 दिन के अंदर प्रत्यर्पित किया जाना था। प्रत्यर्पण की सुनवाई में शामिल होने दिल्ली पुलिस की टीम भी 14 जनवरी को लंदन पहुंची थी।

    रिपोर्ट्स के मुताबिक, चावला और क्रोंजे दोनों को दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने 70 पेज की चार्जशीट में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 16 फरवरी 2000 से 20 मार्च 2000 के बीच खेले गए मैच में फिक्सिंग के आरोप में नामित किया था। यह मामला अप्रैल 2000 में तब सामने आया, जब दिल्ली पुलिस ने ब्लैकलिस्टेड बुकी चावला और क्रोंजेके बीच बातचीत को इंटरस्पेट किया। चावला पर अगस्त 1999 में इंग्लैंड के दो खिलाड़ियों को पैसे देने का भी आरोप है।

    और भी...

  • पाक अदालत ने जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद को टेरर फंडिंग मामले में सुनाई 5 साल की सजा

    पाक अदालत ने जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद को टेरर फंडिंग मामले में सुनाई 5 साल की सजा

     

    मुंबई हमले के मास्टरमाइंड और जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद को टेरर फंडिंग मामले में पाकिस्तान की अदालत ने पांच साल की सजा सुनाई है। पाकिस्तान की आतंकवाद-रोधी अदालत ने हाफिज सईद और अन्य के खिलाफ आतंकवाद के वित्तपोषण मामले में 11 दिसंबर को आरोप तय किए थे।

    आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक और जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद को 2008 के मुंबई हमलों के बाद संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने प्रतिबंधित कर दिया था, जिसमें 166 लोग मारे गए थे। हाफिज सईद पर पाकिस्तान में 23 आतंकी मामले दर्ज हैं। भारत द्वारा उसके खिलाफ आतंकी मामलों की डोजियर के बावजूद, उसे पाकिस्तान में खुलेआम घूमने और भारत विरोधी रैलियों को प्रभावशाली तरीके से संबोधित करने की अनुमति दी गई थी।

    पाकिस्तान ने लगातार अंतरराष्ट्रीय दबाव के बाद हाफिज सईद के खिलाफ आतंकी आरोप लगाए थे। उसके खिलाफ पाकिस्तान के पंजाब पुलिस के काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट द्वारा दायर एफआईआर में आतंकी वित्तपोषण और मनी लॉन्ड्रिंग के कई अपराधों के आरोप लगाए गए थे। 2017 में हाफिज सईद और उसके चार सहयोगियों को पाकिस्तान सरकार ने आतंकी कानूनों के तहत हिरासत में लिया था, लेकिन लगभग 11 महीने बाद उसे रिहा कर दिया गया, जब पंजाब के न्यायिक समीक्षा बोर्ड ने उसके कारावास को और बढ़ाने से इनकार कर दिया।

    और भी...

  • कोरोना वायरस का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 1000 के पार...

    कोरोना वायरस का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 1000 के पार...

     

    कोरोना वायरस का कहर रूकने का नाम नहीं ले रहा है। चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 1000 के पार जा पहुंची हैं। वहीं कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या के 42,000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि सोमवार को इससे 108 और लोगों की जान चली गई और 2,478 नए मामले सामने आए।

    आयोग ने बताया कि इससे अब तक कुल 1,016 लोगों की जान जा चुकी है और कुल 42,638 मामलों की पुष्टि हुई है। आयोग के अनुसार शनिवार को जिन 108 लोगों की जान गई उनमें से 103 हुबेई प्रांत के थे, जहां इस विषाणु के कारण सबसे अधिक लोग मारे गए हैं। इसके अलावा बीजिंग, तिआंजिन, हीलोंगजियांग, अनहुइ और हेनान में इससे एक-एक व्यक्ति की जान गई है।

    विश्व स्वास्थ्य संगठन के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों की एक टीम भी सोमवार रात चीन पहुंची जो कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने में चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों की मदद करेगी। कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है, लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं। इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है, लेकिन 'सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोमट ऐसा कोरोना वायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी।

    और भी...

  • 24-25 फरवरी को भारत दौरे पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

    24-25 फरवरी को भारत दौरे पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

     

    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प 24-25 फरवरी को भारत दौरे पर रहेंगे। व्हाइट हाउस ने सोमवार को इस बारे में जानकारी दी। ट्रम्प के साथ उनकी पत्नी मेलानिया भी दो दिवसीय दौरे पर साथ आएंगी। ट्रम्प नई दिल्ली और अहमदाबाद में कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर यह उनका पहला भारत दौरा है।

    उनसे पहले बराक ओबामा बतौर राष्ट्रपति दो बार 2010 और 2015 में भारत दौरे पर आए थे। व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी स्टेफनी ग्रीशम ने कहा कि इसी हफ्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ट्रम्प की फोन पर बातचीत हुई थी। इसमें दोनों के बीच सहमति बनी थी कि ट्रम्प की यात्रा से भारत-अमेरिका के बीच कूटनीतिक साझेदारी बढ़ेगी। साथ ही इससे अमेरिकी और भारतीय लोगों के बीच मजबूत संबंध भी उभरकर सामने आएंगे।

    उम्मीद की जा रही है कि डोनाल्ड ट्रंप और पीएम मोदी एक छोटी अवधि के व्यापार सौदे पर हस्ताक्षर करेंगे जो अमेरिकी कंपनियों को भारतीय बाजारों तक अधिक पहुंच प्रदान कर सकता है और पिछले साल वापस लिए गए भारत के व्यापार लाभों को बहाल कर सकता है। वे एक लंबी अवधि के व्यापार समझौते पर भी चर्चा करेंगे जिसमें एक मुक्त व्यापार समझौता शामिल हो सकता है।

    और भी...

  • Bill Gates ने खरीदा दुनिया का पहला हाइड्रो पावर से चलने वाला याच

    Bill Gates ने खरीदा दुनिया का पहला हाइड्रो पावर से चलने वाला याच

     

    दुनिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति Bill Gates ने विश्व का पहला हाइड्रो पावर से चलने वाला याच खरीदा है। इस याच की कीमत लगभग 4,600 करोड़ है, जिसे सिनोट नाम की कंपनी ने डिजाइन किया है। इस याच में इंफिनिटी पूल, हैलीपैड, स्पा और जिम आदि जैसी सुविधाए हैं।

    एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह एक 370 फीट लंबा लक्जरी जहाज है। यह पूरी तरह से लिक्विड हाइड्रोजन द्वारा संचालित किया जाता है। डच डिजाइन फर्म सिनोट ने पिछले साल जहाजों के एक कार्यक्रम में इस याच के डिजाइन को लॉन्च किया था। इस जहाज में 5 डेक हैं और एक वक्त पर इसमें 14 गेस्ट समेत 31 क्रू मेंबर रह सकते हैं। वहीं यह जहाज पूरी तरह से पर्यावरण के अनुकूल बनाया गया है।

    इसमें एक जेल इंधन वाले फायर बाउल्स का इस्तेमाल किया गया है, जो गेस्ट को बाहर भी गरम रखेंगे और इसके लिए उन्हें कोयला या लकड़ी से आग नहीं जलानी पड़ेगी। इस जहाज की सबसे अत्याधुनिक विशेषता डेक के नीचे लगाए गए 28 टन के वैक्यूम सील टैंक हैं। जहाज में दो 28 टन के वैक्यूम सील टैंक लगाए गए हैं, जिसमें लिक्विड हाइड्रोजन भरी गई है। इससे जहाज पानी में आसानी से चलाया जा सकता है। ईंधन दो-मेगावॉट मोटर्स और प्रोपेलर के लिए ऑन-बोर्ड बिजली पैदा करेगा।

    और भी...

  • Coronavirus का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 900 के पार...

    Coronavirus का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 900 के पार...

     

    कोरोना वायरस का कहर रूकने का नाम नहीं ले रहा है। चीन में कोरोना वायरस का असर सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है। कारोना वायरस से मरने वालों की संख्या 902 हो चुकी है। तो वहीं इस वायरस से 40,000 से ज्यादा लोगों के पीड़ित होने की पुष्टी हो चुकी है। चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते दुनिया के लोगों की चिंता बढ़ती जा रही है।

    इसी बीच एशिया के सबसे बड़े विमानन एवं रक्षा कार्यक्रम 'सिंगापुर एयर शो से अमेरिकी एयरोस्पेस कंपनी लॉकहीड मार्टिन और 12 चीनी कंपनियों समेत 70 से ज्यादा प्रतिभागी कंपनियों ने अपने नाम वापस ले लिए हैं। चीन  ने वायरस के डर के कारण उड़ानें रद्द किए जाने पर कई देशों के समक्ष कूटनीतिक विरोध भी दर्ज कराया है। आईसीएओ ने भी बुलेटिन जारी किए हैं और सभी देशों को डब्ल्यूएचओ की सिफारिशों का पालन करने के लिए प्रेरित किया है। एयर इंडिया और इंडिगो समेत कई अंतरराष्ट्रीय विमानन कंपनियों ने वायरस के दुनियाभर में फैलने के डर से चीन जाने वाली उड़ानें रद्द कर दी हैं।

    कोरोना असल में वायरसों का एक बड़ा समूह है जो जानवरों में आम है। अमेरिका के सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार, कोरोना वायरस जानवरों से मनुष्यों तक पहुंच जाता है। नया चीनी कोरोनो वायरस, सार्स वायरस की तरह है। इसके संक्रमण से बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्याएं हो जाती हैं।

    और भी...

  • THAILAND में इस सैनिक ने ली मासूमों की जान

    THAILAND में इस सैनिक ने ली मासूमों की जान

     

     थाईलैंड के एक मॉल में गोलीबारी कर कम से कम 21 लोगों को मौत के घाट उतारने वाला बंदूकधारी आखिरकार मारा गया। पुलिस के साथ उसकी यह मुठभेड़ करीब 24 घंटे चली। स्वास्थ्य मंत्री और पुलिस प्रमुख दोनों ने बंदूकधारी के मारे जाने की पुष्टि की है। हमलावर ने पूर्वोत्तर थाईलैंड के नाखोन रत्चासिमा शहर स्थित एक मॉल में शनिवार को गोलीबारी की थी।

     हमलावर का नाम सार्जेंट मेजर जकरापंत थोम्मा था, जो एक सैनिक था। बंदूकधारी ने फेसबुक पर अपनी तस्वीर पोस्ट कर, ''क्या मुझे आत्मसमर्पण करना चाहिए'' और ''कोई भी मौत से नहीं बच सकता'' जैसी बातें लिखी थी। फेसबुक वीडियो में हमलावर सेना का हेलमेट पहने हुए खुली जीप में सवार दिख रहा था और कह रहा था, ''मैं थक गया हूं। मैं अब उंगलियों को और नहीं दबा सकता।''

    आपको बता दें कि, अभी यह स्प्ष्ट नहीं है कि बहुमंजिला परिसर में और लोग अब भी फंसे हुए हैं या नहीं। थाईलैंड के उप-प्रधानमंत्री अनुतिन चर्नविराकुल के अनुसार बंदूकधारी को मौत के घाट उतारने के अभियान में शामिल एक पुलिस अधिकारी भी मारा गया।

     

    और भी...

  • कोरोना वायरस से लड़ाई में अमेरिका ने चीन, अन्य देशों को 10 करोड़ डॉलर की मदद की पेशकश की

    कोरोना वायरस से लड़ाई में अमेरिका ने चीन, अन्य देशों को 10 करोड़ डॉलर की मदद की पेशकश की

     

    अमेरिका ने कोरोना वायरस से प्रभावित चीन और अन्य देशों को इस महामारी से लड़ाई के लिए 10 करोड़ डॉलर की मदद की पेशकश की है। विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने शुक्रवार को कहा, इस महामारी से लड़ाई के लिए यह प्रतिबद्धता अमेरिका के मजबूत नेतृत्व को प्रमाणित करती है। इस वायरस की चपेट में आने से चीन में अब तक 717 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 25 हजार से अधिक लोग इससे प्रभावित हैं।

    WHO के प्रमुख ने भी शुक्रवार को चेतावनी दी कि, कोरोना वायरस को फैलने से रोकने वाले मास्क और अन्य सुरक्षा उपकरणों की दुनिया भर में कमी हो रही है। तेदरोस अदहानोम गेब्रेयसस ने जिनेवा में डब्ल्यूएचओ के कार्यकारी बोर्ड को बताया, दुनिया सुरक्षा उपकरण की भारी कमी का सामना कर रही है।

    वायरस के खतरे को देखते हुए भारत अपने लगभग सभी छात्रों को प्रभावित इलाकों से स्पेशल विमान से ले आया है। गौरतलब है कि भारत 31 जनवरी और एक फरवरी को 654 छात्रों को चीन के वुहान शहर से स्वदेश वापस लाया था। बता दें कि अभी भी चीन के वुहान में 80 भारतीय नागरिक मौजूद हैं. इनमें से 70 लोगों ने स्वेच्छा से वहां रहने का फैसला किया है वहीं, 10 लोग ऐसे हैं जिन्हें वापस आने की इजाजत इसलिए नहीं दी गई है क्योंकि उनमें कोरोना वायरस के लक्षण देखे गए हैं।

    और भी...

  • जिस डॉक्टर ने पहली बार कोरोना वायरस की दी थी चेतावनी, खुद हो गए उसी के शिकार

    जिस डॉक्टर ने पहली बार कोरोना वायरस की दी थी चेतावनी, खुद हो गए उसी के शिकार

     

    चीन में कोरोना वायरस के संक्रमण के बारे में चेतावनी देने वाले 8 विसल ब्लोअर में एक चीनी डॉक्टर ली वेनलियांग की गुरुवार को इस महामारी में मौत हो गई। हालांकि, वेनलियांग ने महामारी की जानकारी जब दी थी तब पुलिस ने उनका उत्पीड़न किया था। सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने बताया कि 34 वर्षीय वेनलियांग ने अन्य डॉक्टरों को महामारी के बारे में चेतावनी देने की कोशिश की थी और उनकी गुरुवार को वुहान में कोरोना वायरस की वजह से मौत हो गई।

    वह पहले व्यक्ति थे, जिन्होंने पिछले साल दिसंबर में वुहान में कोरोना वायरस के सामने आने की जानकारी दी थी। वेनलियांग ने अपने चिकित्सा महाविद्यालय के साथियों को चीनी मैसेजिंग ऐप वीचैट पर बताया था कि स्थानीय सी फूड बाजार से आए 7 मरीजों का सार्स जैसे संक्रमण का इलाज किया जा रहा है और उन्हें अस्पताल के पृथक वार्ड में रखा गया है।

    उन्होंने बताया कि परीक्षण में साफ हुआ है कि यह विषाणु कोरोना वायरस समूह का है। इसी समूह के सिवियर एक्यूट रेस्पीरेटरी सिंड्रोम विषाणु भी है जिसकी वजह से 2003 में चीन एवं पुरी दुनिया में 800 लोगों की मौत हुई थी। वेनलियांग ने अपने दोस्तों को कहा कि वे अपने परिजनों को निजी तौर पर इससे सतर्क रहने को कहें। हालांकि, यह संदेश कुछ घंटे में ही वायरल हो गया और पुलिस ने उन्हें अफवाह फैलाने वाला करार देकर प्रताड़ित किया था।

    और भी...

  • डोनाल्ड ट्रंप को बड़ी जीत, अमेरिकी सीनेट ने महाभियोग के मुकदमे में किया बरी

    डोनाल्ड ट्रंप को बड़ी जीत, अमेरिकी सीनेट ने महाभियोग के मुकदमे में किया बरी

     

    चुनावी साल में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को बड़ी जीत मिली है। अमेरिकी सीनेट ने महाभियोग के मुकदमे में ट्रंप को बरी कर दिया है। करीब दो हफ्ते तक चले ट्रायल के बाद अमेरिकी सीनेट से राष्ट्रपति ट्रंप को सभी आरोपों में क्लीन चिट मिली। ट्रंप पर सत्ता के दुरुपयोग और कांग्रेस को बाधित करने का आरोप था जिनसे उन्हें अमेरिका की सीनेट ने बरी कर दिया।

    रिपब्लिकन के बहुमत वाले सीनेट ने डोनाल्ड ट्रंप को सत्ता के दुरुपयोग के आरोप में 52-48 के अंतर से बरी किया। वहीं संसद की कार्रवाई बाधित करने के आरोप में 53-47 वोट के अंतर से आरोप मुक्त घोषित किया। दोनों ही आरोपों पर सीनेटर्स ने अमेरिकी चीफ जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स की अध्यक्षता में सीनेट के फ्लोर पर एक-एक करके मतदान किया। सत्ताधारी रिपब्लिकन पार्टी के पास जहां सीनेट में 53 सीटें हैं, वहीं डेमोक्रेट्स के पास 47 सीटें हैं।

    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर आरोप था कि उन्होंने सत्ता का दुरुपयोग किया है। उन पर आरोप था कि उन्होंने पद पर रहते हुए यूक्रेन के राष्ट्रपति को दो डेमोक्रेट नेताओं के खिलाफ जांच के लिए दबाव डलवाया।

    और भी...