हरियाणा

  • पानीपत : SPO ने महिला से हवा में करवाई फायरिंग, Video हुआ वायरल

    पानीपत : SPO ने महिला से हवा में करवाई फायरिंग, Video हुआ वायरल

     

    बलजीत नगर नाका चौकी में तैनात एसपीओ सतीश कुमार की फायरिंग करते हुए वीडियो सामने आई है। इस वीडियो में एसपीओ एक महिला को बंदूक में गोली भरकर देकर उससे हवाई फायर करवा रहा है। साथ ही, वीडियो में एक बच्ची भी दिखाई दे रही है, जो महिला व एसपीओ के पास खड़ी है।

    बता दें कि फायरिंग के समय बड़ा हादसा भी हो सकता था, क्योंकि जिस महिला के हाथ मे एसपीओ ने बंदूक दी वह महिला डरी हुई नजर आ रही हे। हालांकि वीडियो में महिला व बच्ची कौन है इसकी शिनाख्त नहीं हो पाई है। वही, इस हादसे में डीएसपी सतीश वत्स का कहना है कि उनके पास अब तक यह वीडियो नहीं आई है। जैसे ही वीडियो आएगी उसकी जांच करा कर दोषी पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि हरियाणा पुलिस द्वारा फेसबुक पर हथियारों के साथ वीडियो डालने या फोटो डालने पर उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाती है और उनके लाइसेंस भी रद्द किए जाते हैं।

    और भी...

  • भारत बंद पर बोले हरियाणा के डिप्टी CM- प्रोटेस्ट करना सबका अधिकार है, लेकिन उसकी सीमा...

    भारत बंद पर बोले हरियाणा के डिप्टी CM- प्रोटेस्ट करना सबका अधिकार है, लेकिन उसकी सीमा...

     

    भारत बंद को लेकर हरियाणा के डिप्टी चीफ मिनिस्टर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रोटेस्ट करना सबका अधिकार है पर उसकी सीमा कोई लांघे नहीं। साथ ही, उन्होंने कहा कि कुछ लोग किसानों को भर्मित कर रहे हैं की एमएसपी खत्म हो जाएगी। ऐसे में किसानों को जागरूक होने की जरूरत है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जब केंद्र सरकार एमएसपी बढ़ा रही है और हरियाणा सरकार अस्योर कर रही है की एमएसपी जरूर मिलेगी फिर किसान क्यों भर्मित हो रहे है।

    वही, अभय चौटाला द्वारा दिए गए बयान की अगर दुष्यंत और रंजीत में देवीलाल का खून है तो वे इस्तीफा क्यों नहीं देते पर दुष्यंत ने कहा कि चौधरी देवी लाल का खून है तभी तो अस्योर कर रहे हैं की एमएसपी पर एक-एक दाना खरीदेंगे, अगर ऐसा नहीं कर पाएंगे तो उससे पहले इस्तीफा देंगे।

    और भी...

  • राजीव गांधी स्टेडियम के पास एक युवक का मिला शव, पूरे शरीर पर है तेजधार हथियार के निशान

    राजीव गांधी स्टेडियम के पास एक युवक का मिला शव, पूरे शरीर पर है तेजधार हथियार के निशान

     

    राजीव गांधी स्टेडियम के पास सेक्टर 6 में झाड़ियों में आज सुबह एक युवक का शव पढ़ा हुआ था। जिसके शरीर पर तेजधार हथियार के निशान थे। उस युवक की इतनी बेरहमी से हत्या की गई थी कि दोनों हाथों की कलाई भी काट दी गई। घटना की सूचना पर अर्बन स्टेट थाना पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के लिए स्पेशल टीम को भी मौके पर बुलाया गया। डीएसपी सज्जन कुमार ने भी मौके का मुआयना किया।

    जांच पड़ताल में युवक की शिनाख्त सोनीपत जिले के कथुरा गांव के रहने वाले रोहन के रूप में हुई। जिसके बाद पुलिस ने सूचना रोहन के परिजनों को दी। परिजनों ने मौके पर पहुंचकर बताया कि रोहन 21 सितंबर से घर से लापता था। हालांकि अभी तक परिजनों ने किसी पर हत्या का शक नहीं जताया है और ना ही हत्या के कारणों का पता चल पाया है। मौके पर पहुंचे डीएसपी सज्जन कुमार का कहना है कि युवक रोहन घर से 12वीं कक्षा का कंपार्टमेंट का पेपर देने के लिए आया था और 21 सितंबर से ही लापता था। जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज करवाई गई थी।

    आज सुबह उसके शव पड़े होने की सूचना मिली । जिसके बाद उन्होंने परिजनों को मौके पर बुलाकर जांच पड़ताल की है। प्रारंभिक जांच में युवक का तेजधार हथियार से गला रेता गया है और हाथों की कलाइयां भी काटी गई। यही नहीं पूरे शरीर पर तेजधार हथियार के बहुत से निशान है। फिलहाल वे इस मामले में जांच करने में जुटे हुए हैं। कॉल डिटेल को खंगालने का काम भी चल रहा है और जल्द ही इस मामले में हत्या करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

    और भी...

  • बहादुरगढ़: सड़क के नाम पर हो रहा है बड़ा गोलमाल, ठेकेदार ने अपनी मर्जी से गलियों में बिछाई मैस्टिक

    बहादुरगढ़: सड़क के नाम पर हो रहा है बड़ा गोलमाल, ठेकेदार ने अपनी मर्जी से गलियों में बिछाई मैस्टिक

     

    बहादुरगढ़ की गलियों में मैस्टिक के नाम पर बड़ा गोलमाल हो रहा है। पक्की और दुरूस्त हालात में जो गलियां हैं उनमें भी मैस्टिक की परत बिछाई जा रही है। जबकि उन गलियों को लेकर पहले वाले ठेकेदार की लाईबिलिटी भी अभी बाकी है। लाईनपार की वत्स कॉलोनी में लोगों के एतराज के बावजूद नई और बढ़िया गलियों में मैस्टिक बिछा दी गई। वही, जैसे ही मामला उछला तो नगर परिषद ने ठेकेदार को लताड़ लगाते हुए काम बंद करवा दिया है।

    दरअसल, बहादुरगढ़ में नगर परिषद के मार्फत इस वक्त करोड़ों के विकास कार्य चल रहे हैं। इन्ही विकास कार्यों के बीच मैस्टिक के नाम पर बड़ा गोलमाल भी हो रहा है। ठेेकेदार अपनी मनमर्जी से उन गलियों में भी मैस्टिक की परत बिछा रहे हैं जो गलियों बहुत बढि़या हालात में हैं। जिन गलियों में कहीं कोई दरार या गड्डा नही है उन गलियों में भी मैस्टिक की परत बिछा दी गई। लोगों ने इसका विरोध भी किया लेकिन ठेकेदार ने हर विरोध को अनसुना करते हुए काम जारी रखा है।

    वही, नगर परिषद अधिकारियों का कहना है कि ठेकेदार ने बढ़िया हालात की जिन गलियों में मैस्टिक बिछाई है उनका टेंडर नही किया है। ठेकेदार ने अपनी मर्जी से ठीक-ठाक कंडीशन वाली गलियों में मैस्टिक बिछाई है इसलिए उस काम को बंद करवा दिया गया है और ठेकेदार को चेतावनी भी जारी की गई है। बता दें कि मैस्टिक एक तरह से तारकोल, बजरी और छोटी रोड़ का रबड़नुमा मिक्सर होता है।

    नगर परिषद ने पिछले कुछ महीनों में शहर की लगभग हर कॉलोनी और सड़क पर मैस्टिक की परत चढ़वा दी है। इनमें से काफी गलियां ऐसी भी हैं जो बढ़िया हालात की थी और पहले वाले ठेकेदार की लाईबिलिटी भी उन गलियों को लेकर बाकी थी। मैस्टिक बिछाने का आलम शहर में ये है कि जिन ठेकेदारों को मैस्टिक बिछाने का कोई अनुभव भी नही है उन ठेकेदारों ने मैस्टिक बिछाने की नई मशीने भी खरीद ली और अब उन्ही नई मशीनों से शहर भर में मैस्टिक का काम तेजी से चल रहा है वो भी विवादों की बीच निर्बाद। सरकार को इस पर संज्ञान लेते हुए सघन जांच करानी चाहिए।

    और भी...

  • कृषि अध्यादेशों को लेकर किसानों के विरोध पर जेपी दलाल ने कांग्रेस पर बोला हमला, कही ये बात

    कृषि अध्यादेशों को लेकर किसानों के विरोध पर जेपी दलाल ने कांग्रेस पर बोला हमला, कही ये बात

     

    कृषि से जुड़े तीन अध्यादेशों को लेकर मचे सियासी घमासान पर हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि वह लाशों की राजनीति न करे। उन्होंने रविवार को कहा कि कांग्रेस व पूंजीपति नहीं चाहते कि किसान समृद्ध हों और उनके बच्चे कामयाब हों। उन्होंने कहा कि ऐसा हुआ तो विपक्षियों की राजनीति खत्म हो जाएगी। दलाल ने यह बात भिवानी में अपने आवास पर लगाए जनता दरबार के दौरान कही। इस दौरान उन्होंने लोगों की समस्याएं सुनी और संबंधित अधिकारियों को तुरंत समाधान के निर्देश दिए।

    जेपी दलाल ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को मांग रखने व धरने प्रदर्शन का हक है, लेकिन सड़क बाधित कर जनता के लिए परेशानी खड़ी करना सही नहीं है। उन्होंने ने कहा कि ऐसे प्रदर्शनों में असामाजिक तत्व शामिल होकर हिंसा फैलाते हैं। साथ ही कांग्रेस को आगाह करते हुए कहा कि वह लाशों की राजनीति न करे।

    वही, कृषि मंत्री ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अब मंडी बंद करवाकर फसलों की खरीद न होने देने के लिए अव्यवस्था फैला रही है। जेपी दलाल ने किसान नेता चढूनी को कांग्रेस का एजेंट व आढती होने का आरोप लगाते हुए कहा कि चढूनी ने कई बार चुनाव लड़े और महज एक हजार वोट मिले। उन्होंने कहा कि अब ऐसे नेताओं की राजनीति नहीं चलने वाली।

    जेपी दलाल ने आढती एसोसिएशन द्वारा एक अक्टूबर से मंडी बंद रखने व बाजरे तथा ग्वार की फसलों की खरीद न करने पर कहा कि ये वहीं लोग हैं जो न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) व मंडी खत्म होने की बात करते हैं और अब खुद मंडी बंद कर रहे हैं।

    और भी...

  • हरियाणा में कृषि अध्यादेशों के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसान, लगाया जाम, सरकार को दी ये चेतावनी

    हरियाणा में कृषि अध्यादेशों के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसान, लगाया जाम, सरकार को दी ये चेतावनी

     

    हरियाणा में आज तीन अध्यादेश कानून को लेकर अलग-अलग जगह पर स्थानीय रोड से लेकर हाईवे जाम किया गया। किसान लगातार तीनों अध्यादेश कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, बावजूद इसके राज्यसभा में तीन अध्यादेश कानून को पास कर दिया गया है। वही, अध्यादेश पास होने के बाद किसानों में काफी गुस्सा है। ऐसे में आक्रोशित किसानों ने कहा है कि प्रदेश की सरकार अगर तीन अध्यादेश कानून को वापस नहीं लेगी तो किसान मजदूर और व्यापारी वर्ग बड़े आंदोलन की तैयारी करेगा और पूरे भारत को बंद करने का काम करेगा। 

    नेशनल हाईवे को किसानों ने 3 घंटे तक रखा जाम 

    गोहाना में आज नेशनल हाईवे पानीपत रोहतक को किसानों ने 3 घंटे तक जाम रखा। हालांकि प्रशासन की सूझबूझ से लोगों को परेशानी ना हो इसके लिए पहले से ही रूट डाइवर्ट कर दिए थे। गोहांना हाईव जाम जरूर हुआ लेकिन जाम से निपटने के लिए कोई दिक्कत प्रशासन को कोई दिक्कत का सामना नही किया। 3 घटे के बाद सभी जाम खोल दिए गए और मौके पर पुलिस ने भी किसानों को निर्देश दिए। 

    किसानों की सरकार को चेतावनी 

    इसके अलावा गोहाना में नई अनाज मंडी के सामने आरती और व्यापारी वर्ग ने तीन अध्यादेश कानून के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया और उसके बाद जींद रोड को जाम किया। वहीं दूसरी तरफ गोहाना और बरोदा के किसानों ने गांव रूखी के नजदीक पानीपत रोहतक हाईवे को 3 घंटे तक जाम रखा और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। तीन अध्यादेश कानून के विरोध में बर्खास्त किए हुए पीटीआई टीचर व अन्य कई सामाजिक संगठन रोड जाम करने के लिए हाईवे पर आकर बैठ गए।

    एक तरफ जहां सरकार तीन अध्यादेश  कानून को राज्यसभा में पास कर चुकी है तो इसके बाद किसानों में गुस्से की आग बढ़ गई है और किसानों ने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर सरकार ने इस काले कानून को लागू किया तो आने वाले समय में प्रदेश की सरकार को इसके लिए गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं और दिल्ली की तरफ जाने वाली  मुनक नहर जो जाट आरक्षण के दौरान बंद की गई थी दोबारा से बंद करने का काम हरियाणा के किसान करेंगे और किसानों ने ये भी फैसला किया है कि हरियाणा से दिल्ली की तरफ जाने वाली फल सब्जियां भेजने पर भी किसान पूरी तरह से रोक लगा देंगे। चाहे उसके लिए किसानों को कोई भी परिणाम क्यों ना उतना पड़े अब देखना यह होगा कि प्रदेश की सरकार अध्यादेश कानून को लागू करेगी या फिर किसानों के खिलाफ बिगुल बजाएगी। 

    'अध्यादेशों में संशोधन नहीं किया तो और अधिक उग्र होगा आंदोलन' 

    वही, किसान नेता रामपाल चहल ने बताया कि 10 सितंबर को पिपली किसान रैली में प्रशासन द्वारा किसानों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर पूरे प्रदेश के किसानों मे रोष पनप रहा था। उसी दिन यह घोषणा की गई थी कि किसान 20 तारीख को फिर से तीन घंटे का प्रदर्शन करेगें जिसके चलते आज यह रोष प्रदर्शन किया जा रहा है।

    उन्होंने कहा कि यदि आज भी सरकार ना जागी तो 25 सितंबर को पुरा हरियाणा बंद रहेगा। उन्होंने कहा कि इस आंदोलन को सभी लोगों का पूरा सहयोग मिल रहा है। चहल ने कहा कि अगर 25 को भी सरकार नहीं जागी तो 27 सितंबर को पूरे देश के किसान प्रतिनिधि एक बैठक करेगेें और आगामी आंदोलन को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी। उन्होने कहा कि आज इंद्री में भादसों चौंक, इंद्री-करनाल रोड़ व ब्याना मंडी में किसान द्वारा रोड जाम किया गया।

    चहल ने कहा कि अध्यादेश बिल्कुल गलत है यह न तो आढ़ती के हक में है और न ही किसान व मजदूर के हक में है, यह अध्यादेश पूरे देश को बर्बाद कर देगें। इसके अलावा मंड़ी प्रधान सतपाल बैरागी ने कहा कि सरकार दोहरीनीति लागू करना चाहती है जो कि सही नहीं है। सरकार को एमएसपी वाली स्थिति को स्पष्ट करना होगा नहीं तो आढ़ती व इस व्यवसाय से जुड़े लाखों लोग बेघर हो जायेगें। ये तीनों अध्यादेश गलत है और हम इन सब का ही विरोध कर रहे है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने इन अध्यादेशों में संशोधन नहीं किया तो यह आंदोलन और अधिक उग्र होगा।  

    और भी...

  • झज्जर: रोडवेज कर्मचारी की तेजधार हथियार से हत्या, जांच में जुटी पुलिस

    झज्जर: रोडवेज कर्मचारी की तेजधार हथियार से हत्या, जांच में जुटी पुलिस

     

    झज्जर जिले के गांव दूबलधन में बीती रात एक व्यक्ति की तेजधार हथियार से गला रेतकर हत्या का मामला सामने आया है। मृतक रोडवेज विभाग में बतौर लिपिक के पद पर काम करता था। वहीं, वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस और एफएसएल की टीम ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल से सबूत जुटाए। मृतक ओम प्रकाश झज्जर के शव का पोस्टमार्टम कराए जाने के बाद पुलिस ने शव परिजनों के हवाले कर दिया।

    पुलिस जानकारी के अनुसार, घर की छत पर रात्रि अज्ञात हमलावरों ने घटना को अंजाम दिया। परिजन खून से लथपथ ओम प्रकाश को झज्जर नागरिक अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। हत्या की सूचना मिलने के बाद डीएसपी सहित पुलिस के कई अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मामले में परिजनों की शिकायत पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। वहीं पुलिस घटना को लेकर हर पहलू पर जांच कर रही है। हत्या किसने की व हत्या करने के पीछे कारण क्या रहे इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है।

    और भी...

  • सुरजेवाला ने रोजगार और HSSC के नतीजों को लेकर हरियाणा सरकार पर साधा निशाना,वीडियो जारी कर कही ये बात

    सुरजेवाला ने रोजगार और HSSC के नतीजों को लेकर हरियाणा सरकार पर साधा निशाना,वीडियो जारी कर कही ये बात

     

    कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने युवाओं को रोजगार दो की मुहिम को लेकर एक बार फिर हरियाणा की बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार पर हमला बोला है। गुरुवार को उन्होंने एक ट्वीट करते हुए सरकार से पूछा कि HSSC के नतीजे और रोजगार क्यों नही? इस ट्वीट में सुरजेवाला ने एक संदेश वीडियो भी जारी किया है। 

    उन्होंने ट्वीट किया , '34% बेरोज़गारी, रोज़गार की महामारी, गुणी युवाओं की फ़ौज खड़ी है सारी, नौकरी देने की नही कोई तैयारी। HSSC के नतीजे क्यों नही? HPSC के नतीजे क्यों नही? रोज़गार और रोटी क्यों नही? SpeakUpForHSSCStudents #khattarRozgarDo ।'

    इसके अलावा अपने वीडियो संदेश में सुरजेवाला ने कहा कि हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन भ्रष्टाचार का अड्डा बना हुआ है। इसलिए पांच-पांच सालों से नतीजे घोषित नहीं किए जा रहे हैं। सुरजेवाला ने कहा कि यदि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की औलाद होती तो उन्हें पता चलता कि जब एक पढ़ा लिखा बच्चा जब घर बैठा होता है। तो उसके मां-बाप के मन पर क्या बीतती है।

    उन्होंने कहा,' सरकार ने नौकरियों पर ग्रहण लगा दिया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला सत्ता का आनंद ले रहे हैं। वही प्रदेश का की बेरोजगारी दर बढ़कर 34 फीसदी हो गई है। युवा नौकरी के लिए दर-दर भटक रहे हैं।' सुरजेवाला ने आगे कहा कि यदि हरियाणा की सरकार हकीकत में युवा हितेषी है तो अगले 1 महीने में हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन और पब्लिक सर्विस कमीशन की सभी परिणामों को घोषित कर दे और नई भर्तियों पर लगी रोक को भी हटा ले।

    और भी...

  • कोरोना को मात देकर घर लौटे हरियाणा के शिक्षा मंत्री Kanwar Pal

    कोरोना को मात देकर घर लौटे हरियाणा के शिक्षा मंत्री Kanwar Pal

     

    हरियाणा के शिक्षा एवं वन मंत्री कंवरपाल गुर्जर अस्पताल से स्वस्थ होकर घर लौट गए हैं । इस बात की जानकारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मीडिया प्रभारी कपिल मनीष गर्ग ने दी। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए अभी मंत्री किसी से नहीं मिल पाएंगे और अपने घर पर ही अगले 10 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन में रहेंगें।

    उन्होने बताया कि बुधवार को शिक्षा मंत्री की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट मिली है। जिसके बाद उन्हे अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले कंवरपाल गुर्जर की कोरोना पाजिटिव रिपोर्ट मिली थी। जिसकी सूचना उन्होने स्वयं ही सोशल मीडिया के माध्यम से दी थी। 

    और भी...

  • कंगना को लेकर बलराज कुंडू के विवादित बयान पर अनिल विज का पलटवार, दी ये नसीहत

    कंगना को लेकर बलराज कुंडू के विवादित बयान पर अनिल विज का पलटवार, दी ये नसीहत

     

    हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज को कंगना रनौत से इश्क हो गया है, ये विवादित बयान देकर निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू मंत्री के निशाने पर आ गए हैं। कुंडू के बयान को लेकर आज अनिल विज से सवाल पूछा गया तो उन्होंने विधायक को नसीहत दे डाली।

    विज ने बलराज की राजनितिक समझ पर तंज कसते हुए कहा कि कुंडू में बुद्धि कम है इन्हे राजनितिक बयान समझ नहीं आते और देश की बेटी के साथ महाराष्ट्र ने सरकार ज्यादत्ती की है, हमने उसका विरोध किया है और इसका सभी को विरोध करना चाहिए।

    वही, अनिल विज ने महाराष्ट्र सरकार की कार्यशैली पर बड़ा सवाल खड़ा किया और कहा कि क्या कंगना को सरकार के खिलाफ बोलने पर प्रताड़ना सहनी पड़ रही है। विज ने विधायक को नसीहत देते हुए कहा कि ये बड़ा मामला है कुंडू को इसे समझना चाहिए। 

    अनिल विज ने कांग्रेस को चीन का पक्षधर करार दिया 

    इसके अलावा संसद में चीन के मुद्दे पर देश के रक्षा मंत्री के बयान को लेकर कांग्रेस सरकार को घेरने का प्रयास कर रही है। इसी के चलते कांग्रेसी नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर केंद्र की सरकार पर निशाना साधा है। जिस पर आज हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने बड़ा पलटवार करते हुए कांग्रेस को चीन का पक्षधर करार दिया। विज ने कहा कि सरकार ने सदन में देश का पक्ष रखा है और कांग्रेस हमेशा चीन के पक्ष की बात करती है।

    विज ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि चीन भारत पर जितनी भी कार्रवाई की वो कांग्रेस के राज में की। ऐसे में राहुल को अपने परिवार से सवाल पूछने चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि हमारे काल में तो ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाता है। वही, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सुरजेवाला भी चीन के मुद्दे पर सरकार को घेरते नजर आ रहे हैं। विज ने सुरजेवाला के बयान पर पलटवार करते हुए उन्हें भी नसीहत दी। विज ने कहा कि सुरजेवाला को रक्षा मंत्री के बयान को बुद्धिमता से समझने की जरूरत है।

    और भी...

  • कुमारी सैलजा ने कोरोना को लेकर हो रही ऑक्सजीन की कमी पर सरकार पर साधा निशाना

    कुमारी सैलजा ने कोरोना को लेकर हो रही ऑक्सजीन की कमी पर सरकार पर साधा निशाना

     

    किसानों पर लाठीचार्ज के मुद्दे को लेकर सरकार को घेरने का विपक्ष कोई मौका नहीं छोड़ रहा है। कभी इनेलो तो कभी कांग्रेस सब सरकार को लाठीचार्ज और 3 अध्यदेशों के मुद्दों पर घेरने में जुटे हुए हैं। वही, करनाल पहुंची कुमारी शैलजा ने आज सत्ता के नेताओं के उस बयान पर निशाना साधा जिसमें उन्होंने कहा था कि अध्यादेशों को लेकर कांग्रेस किसानों को भड़का रही है।

    कुमारी शैलजा ने कहा कि किसान खुद समझते हैं उनके साथ क्या हो रहा है। बीजेपी अगर किसानों की बात सुनती तो किसान सड़क पर ना होता, वहीं सरकार एक के बाद एक काले कानून ला रही है जिससे जनता परेशान है।किसानों पर हुए लाठीचार्ज पर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री को बोलना चाहिए। वहीं, सरकार को सच्चाई नजर नहीं आती है, हमेशा मुद्दों से भटकाने का प्रयास सरकार करती है।

    कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं ओर  ऐसे में प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी की बात सामने आ रही है। कुमारी शैलजा ने ऑक्सीजन की कमी पर बोलते हुए कहा कि सरकार अंधेरे में तीर मार रही है, स्वास्थय सुविधाएं की हरियाणा में कमी है ऐसे में असली तस्वीर अभी छिपी हुई है सरकार हर मामले को लेकर कन्फ्यूज नजर आ रही है। बहराल चाहे किसान का मुद्दा हो या फिर कोरोना के बढ़ते मामले सरकार को ज़िम्मेदारी से काम लेने की ज़रूरत है अब देखना होगा कि कांग्रेस के इन आरोपों का सत्ता पार्टी क्या जवाब देती है

    और भी...

  • लापरवाही के चलते पॉल्यूशन विभाग ने MG रोड स्थित सहारा मॉल को किया सील

    लापरवाही के चलते पॉल्यूशन विभाग ने MG रोड स्थित सहारा मॉल को किया सील

     

    पॉल्यूशन विभाग ने एमजी रोड स्थित सहारा मॉल में सीवरेज ट्रीटमेंट व्यवस्था को लेकर बरती जा रही लापरवाही और खामियों के चलते सील कर दिया। दरअसल नवंबर 2018 में जिला पॉल्यूशन विभाग ने सहारा मॉल के एस.टी.पी (सीवरेज ट्रीटमेंट व्यवस्था) के सैम्पल्स लिए थे जो कि जांच के बाद सही नही पाए गए। हालांकि पॉल्यूशन विभाग ने मॉल प्रबंधन पर जुर्माना ठोक इस व्यवस्था को बेहतर करने को भी कहा था।

    लेकिन मॉल प्रवंधन इस नोटिस को बार बार हल्के में ले रहा था, जिसके बाद चेयरमैन पॉल्यूशन बोर्ड ने इस मॉल को सीलिंग करने के आदेश जारी किए गए थे। हालांकि वजह कुछ भी लेकिन इस सीलिंग ने यहां के शॉपकीपर्स और व्यापारियों को पसोपेश की स्थिति में जरूर डाल दिया है। एकाएक मॉल सीलिंग से यहां के व्यापारियों में शॉपकीपर्स में हड़कंप की स्थिति है।

    दुकानदारों की माने तो हर महीने मॉल प्रवंधन को मेंटिनेंस चार्ज अदा किया है ऐसे में हमारी क्या गलती है हमे बताया जाए। वही, इन दुकानदारों की माने तो पहले ही लॉकडाउन ने व्यापारियों को हलाक कर दिया है अब ऐसे में अगर सीलिंग कर दी गई है तो कैसे वे अपने परिवारों का गुजारा करेंगे। कैसे शॉप का किराया कैसे कर्मचारियो की सैलरी देंगे। इस सीलिंग के बाद कही न कही पॉल्यूशन विभाग की कार्यशली पर भी बड़े सवाल उठने शुरू हो गए है कि आखिर 2018 के बाद जब नोटिस जारी कर जुर्माना वसूला लिया गया तो कार्यवाही में 2 साल लम्बा वक़्त आखिर क्यों।

    और भी...

  • रेवाड़ी में नकली घी बनाने वाले व्यापारी के गोदाम पर सीएम फ्लाइंग की रेड

    रेवाड़ी में नकली घी बनाने वाले व्यापारी के गोदाम पर सीएम फ्लाइंग की रेड

     

    सीएम फ्लाइंग में शनिवार देर शाम शहर के आर्य समाज रोड स्थित विभिन्न दुकानों पर खाद्य सुरक्षा, माप तोल एवं आबकारी कराधान विभाग के अधिकारियों के साथ संयुक्त रूप से कार्रवाई की। इस कार्रवाई के दौरान खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने विभिन्न दुकानों से घी के 5 सैंपल लिए जबकि माप तोल विभाग ने भी की बिक्री के लिए रखे गए पैक का वजन किया।

    पैकिंग में गड़बड़ी मिलने और उनके बिलों के संबंध में रिकॉर्ड पूर्ति नहीं करने पर आपकारी कराधान विभाग ने भी इन दुकानों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी। सीएम फ्लाइंग की अगुवाई में की गई इस कार्रवाई के दौरान पूरे शहर में हड़कंप मचा रहा। खाद्य सुरक्षा विभाग की तरफ से लिए गए सैंपल की जांच के लिए भेजा गया है, इसके बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी।

    सीएम फ्लाइंग के उप निरीक्षक ने बताया कि लंबे समय से शहर के बाजारों में देसी घी के नाम पर बिक रहे उत्पादों में गुणवत्ता एवं बिक्री से संबंधित रिकार्ड की पूर्ति नहीं किए जाने के संबंध में जानकारी मिली थी। उन्होंने बताया कि इसके बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारी डॉ. सचिन कुमार, माप तोल विभाग के निरीक्षक सुरेंद्र कुमार व सेल टैक्स विभाग की टीमों के साथ देर शाम  कार्रवाई शुरू की गई।

    कार्रवाई के दौरान शहर के आर्य समाज रोड, पुरानी सब्जी मंडी में अलग-अलग स्थानों पर कार्रवाई करते वहां से भी घी के सैंपल लिए गए। उन्होंने बताया कि इस मौके पर जांच के दौरान 3057 किलो देसी घी वह वनस्पति घी और 549 लीटर पैकिंग का भी घी मिला है जिससे सभी सैंपल लेने के साथ उनके ब्रांड नेम की भी जांच की गई है।

    सीएम फ्लाइंग ने बताया कि शिकायत थी कि पैकिंग व तीन में मौजूदगी की मात्रा भी कम है। टीम ने इसका वजन करने के साथ अन्य प्रक्रिया पूरी की है सभी के सैंपल लेने के साथ इनकी माप में जो गड़बड़ी मिलेगी उसके अनुसार आगामी कार्रवाई होगी।

    और भी...

  • कुरुक्षेत्र:सुरजेवाला बोले,खेती और मंडी विरोधी BJP को जड़ से उखाड़ फेंकने का संकल्प ही एकमात्र ध्येय

    कुरुक्षेत्र:सुरजेवाला बोले,खेती और मंडी विरोधी BJP को जड़ से उखाड़ फेंकने का संकल्प ही एकमात्र ध्येय

     

    कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा व जजपा की गठबंधन सरकार ने किसान-आढ़ती-मजदूर विरोधी दमनकारी व बर्बर रवैया अपनाकर एक दिन भी सत्ता में बने रहने का अधिकार खो दिया है। कुरुक्षेत्र  की रणभूमि में किसानों-मजदूरों-आढ़तियों पर चलाई गई लाठियां भाजपा-जजपा के कफन में आखिरी कील साबित होंगी।

    पिपली पैराकीट में पत्रकारों से बातचीत करते हुए रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस खेती विरोधी तीनों काले कानूनों के खिलाफ संसद के अंदर व बाहर निर्णायक जंग लडेंगी। खेती और मंडी विरोधी भाजपा को जड़ से उखाड़ फेंकने का संकल्प ही एकमात्र ध्येय है। सरकारों को किसान-आढ़ती-मजदूर की ड्योढ़ी पर घुटने टिकवा कर ही दम लेंगे।


    सुरजेवाला ने कहा कि किसान व खेत मजदूर देश की रीढ़ की हड्डी हैं। वह खेत में काम करके देश का पेट पालता है, वहीं उसका बेटा सेना में भर्ती हो बॉर्डर पर देश की रक्षा करता है। देश की अर्थव्यवस्था का भी सबसे बड़ा आधार कृषि तंत्र है, जहां पूर्वनिर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य के आधार पर अनाज व सब्जी मंडियों में किसान की फसल, फल इत्यादि की बिक्री होती है। लाखों करोड़ों मजदूर-आढ़ती-कर्मचारी-ट्रांसपोर्टर इत्यादि इस व्यवसाय से जुड़े हैं तथा अपनी आजीविका कमाते हैं। मोदी-खट्टर सरकारें एक झटके से इस पूरी कृषि व्यवस्था को तहस-नहस कर खत्म करना चाहती हैं, ताकि मुठ्ठी भर पूंजीपति मित्रों का कब्जा करवा सकें।

    रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि हरियाणा में भाजपा सरकार की गुंडागर्दी और पुलिस के जुल्म का नंगा नाच कुरुक्षेत्र की रणभूमि में पूरे देश ने देखा। तीनों अध्यादेशों का विरोध कर रहे किसान-आढ़ती-मजदूर शांतिप्रिय तरीके से किसान बचाओ-मंडी बचाओ रैली का पिपली मंडी में आयोजन करना चाहते थे परंतु चौबीस घंटों में हजारों पुलिसकर्मी लगा किसानों और आढ़तियों के नेताओं की जबरन धरपकड़ शुरू कर दी गई, घरों पर नोटिस लगाए गए व जगह जगह पुलिस नाके लगाकर किसानों-मजदूरों-आढ़तियों को पिपली आने से रोका गया। किसानों व आढ़तियों पर निर्दयता से लाठियां चलाई गईं। एक साजिश के तहत कोरोना महामारी के बीचों-बीच तीन काले कानून अध्यादेश माध्यम से लाए गए ताकि किसान-आढ़ती-मजदूर का गठजोड़ खत्म हो तथा पूरा कृषि तंत्र ही गुलामी की बेडिय़ों में जकड़ दिया जाए।

    इस अवसर पर पूर्व विधायक अनिल धंतौडी, पूर्व विधायक रमेश गुप्ता, अमन चीमा, किसान कांगेस के जिलाध्यक्ष एडवोकेट मधसूदन बवेजा, किसान कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष धर्मबीर सिंह, जिला प्रधान अंबाला हरबीर सिंह, रण सिंह देशवाल, ललित मोहन सिंगला, जसवंत चीमा, प्रवेश राणा, रूबल शर्मा व तरसेम बकाली सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।
     

    और भी...

  • हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर कोरोना पॉजिटिव, CM मनोहर लाल ने जल्द स्वस्थ होने की कामना की

    हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर कोरोना पॉजिटिव, CM मनोहर लाल ने जल्द स्वस्थ होने की कामना की

     

    हरियाणा में कोविड-19 का कहर आए दिन बढ़ता ही जा रहा है। इसी बीच बुधवार को प्रदेश के शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर भी कोरोना वायरस से संक्रमण पाए गए है। इसके बाद उन्होंने खुद को क्वारंटाइन कर लिया है। साथ ही, उनके संपर्क में आए सभी लोगों से कोविड जांच करवाने का अनुरोध किया है।

    दरअसल, शिक्षा मंत्री ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा, 'प्रारम्भिक लक्षण आने के बाद मैंने कोरोना का टेस्ट करवाया। मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। अतः आप सभी से प्रार्थना हैं कि गत दिनों में जो भी मेरे सम्पर्क में आया हैं वो स्वयं को आइसोलेट कर ले व अपनी जांच करवाएं। धन्यवाद।' वही, जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कंवरपाल गुर्जर के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की।

    हरियाणा के ये मंत्री भी आ चुके है कोरोना के चपेट में 

    आपको बता दें कि कंवरपाल गुर्जर के अलावा सीएम मनोहर लाल, उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगी और ऊर्जा मंत्री रंजीत सिंह चौटाला, कृषि मंत्री जे पी दलाल, परिवहन मंत्री मूल चंद शर्मा और हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता भी कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। 

    और भी...