देश

  • सोनिया गांधी ने किया केंद्र सरकार पर हमला, कहा CAB से भारत की आत्मा तार-तार होगी

    सोनिया गांधी ने किया केंद्र सरकार पर हमला, कहा CAB से भारत की आत्मा तार-तार होगी

     

    कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी ने शनिवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में भारत बचाओ रैली के दौरान केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि नागरिकता कानून से भारत की आत्मा तार-तार होगी।

    सोनिया गांधी ने कहा, आज बैंक में पैसा सुरक्षित नहीं है और घर में पैसा रख नहीं सकते हैं। केन्द्र सरकार के क्या ये अच्छे दिन हैं। नागरिकता संशोधन कानून पर हमला बोलते हुए कहा यह कानून भारत की आत्मा को तार-तार कर देगा। आज कहां है सबका साथ सबका विश्वास कहां है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों से काम-धंधे बर्बाद हो गए हैं।

    सोनिया गांधी ने कहा, हम सब इसलिए इक्ट्ठा हुए है क्योंकि देश की अर्थव्यवस्था का बहुत बुरा हाल है। उन्होंने कहा कि देश के लिए कठोर संघर्ष करना होगा। उन्होंने कहा कि नौजवानों का आज नौकरी के लिए भटकना होगा। इस पार या उस पार फैसला लेना होगा।

     

    और भी...

  • CAB का विरोध जारी, दिल्ली के जामिया में सेमेस्टर परीक्षाएं स्थगित

    CAB का विरोध जारी, दिल्ली के जामिया में सेमेस्टर परीक्षाएं स्थगित

     

    नागरिकता संशोधन कानून के विरोध का असर ये हुआ है कि दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया में छात्रों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए शनिवार को होने वाली सेमेस्टर की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। वहीं पश्चिम बंगाल में प्रदर्शनकारियों ने कई जगह सड़क और रेल मार्ग बाधित कर दिए है। नगालैंड के कई हिस्सों में भी जनजीवन प्रभावित हुआ है।

    जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, आज होने वाली सेमेस्टर की सभी परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शुक्रवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों का मार्च रोकने के कारण प्रदर्शनकारियों और पुलिस में झड़प हो गयी थी। प्रदर्शनकारी विश्वविद्यालय से निकलकर संसद भवन की ओर जाना चाह रहे थे।

    नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्र संघ एनएसएफ द्वारा छह घंटे के बंद के बीच नागालैंड के कई हिस्सों में शनिवार को स्कूल, कॉलेज और बाजार बंद रहे और सड़कों से वाहन नदारद रहे। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि उन इलाकों से अब तक कोई अप्रिय घटना सामने नहीं आई है, जहां सुबह छह बजे से बंद शुरू हुआ है।

    और भी...

  • मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, मर जाऊंगा पर माफी नहीं मागूंगाः राहुल गांधी

    मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, मर जाऊंगा पर माफी नहीं मागूंगाः राहुल गांधी

     

    दिल्ली के रामलीला मैदान में अर्थव्यवस्था और महंगाई को लेकर कांग्रेस ने भारत बचाओ रैली का आयोजन किया। रैली में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश को बर्बाद कर दिया। राहुल ने कहा, पीएम मोदी ने कालेधन का नाम लेकर झूठ बोला और नोटबंदी लागू कर दी। नोटबंदी की चोट देश अभी भी झेल रहा है। राहुल ने कहा कि मोदी सरकार ने जल्दबाजी भी जीएसटी लागू किया और अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया।

    पीएम मोदी पर तंज कसते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं बल्कि राहुल गांधी है। मैं अपने बयान पर माफी नहीं मांगूंगा। राहुल ने कहा, मोदी ने उद्योगपतियों का कर्जा माफ किया और जनता से पैदा छीन लिया। उन्होंने कहा कि हमारे देश को कमजोर किया जा रहा है और देश की अर्थव्यवस्था को नष्ट किया जा रहा है।

    राहुल ने कहा, मोदी जी ने पूर्वोत्तर को जला दिया है। असम जल रहा है। मोदी सरकार ने देशभर में हिंसा फैला दी है। जो दुश्मन ने नहीं किया वो मोदी ने कर दिया.'' राहुल ने कहा, मोदी ने मनरेगा का पैसा छीन लिया। मोदी एक धर्म को दूसरे धर्म से लड़ा रहे हैं। आज किसान खुदकुशी कर रहे हैं। मोदी को देश से माफी मांगनी चाहिए।

    और भी...

  • भारत बचाओ रैली में प्रियंका गांधी का BJP पर हमला, कहा देश प्यारा है तो आवाज उठाएं

    भारत बचाओ रैली में प्रियंका गांधी का BJP पर हमला, कहा देश प्यारा है तो आवाज उठाएं

     

    दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस ने मोदी सरकार के खिलाफ भारत बचाओ रैली की। इसमें कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और डॉ. मनमोहन सिंह समेत कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए। रैली में देश की गिरती अर्थव्यवस्था, बढ़ती बेरोजगारी जैसे मुद्दे निशाने पर रहे। प्रियंका गांधी ने कहा कि हर बस स्टॉप, हर अखबार में दिखता है कि मोदी है तो मुमकिन है। असलियत यह है कि भाजपा है तो 100 रु किलो प्याज है। भाजपा है तो 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी मुमकिन है। भाजपा है तो 4 करोड़ नौकरियां नष्ट होना मुमकिन है।

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने यह भी कहा, न्याय की लड़ाई लड़ने से बड़ी देशभक्ति कोई नहीं है। आज जिस दौर से हमारा देश गुजर रहा है, हर तरफ अन्याय है। गरीबों पर मुसीबतें लादी जाती हैं और बड़े उद्योगपतियों के कर्ज माफ किए जाते हैं। ऐसे कानून बनाए जाते हैं, जिससे लाखों लोग बंदी की तरह रखे जाते हैं। आज की लड़ाई में जो नहीं खड़ा होगा, वो कायर कहलाएगा। भारत की रखवाली करना, स्वतंत्रता, स्वाभिमान और स्वाधीनता का हक रखना हम सबकी जिम्मेदारी है।

    वहीं पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा, मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के केवल 6 महीने में ही देश की अर्थव्यवस्था ध्वस्त कर दी। उनके मंत्री पूरी तरह से तर्कहीन हो चुके हैं। कल वित्त मंत्री ने कहा कि सब ठीक है। हम यानी भारत दुनिया में शीर्ष पर है। सिर्फ एक बात उन्होंने नहीं कही कि अच्छे दिन आने वाले हैं।

    और भी...

  • केजरीवाल को मिला प्रशांत किशोर का साथ, दिल्ली विधानसभा चुनाव में AAP के लिए करेंगे काम

    केजरीवाल को मिला प्रशांत किशोर का साथ, दिल्ली विधानसभा चुनाव में AAP के लिए करेंगे काम

     

    दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पार्टी आम आदमी पार्टी ने विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं। सीएम केजरीवाल ने एलान किया है कि चुनाव में चुनावी रणनीतिकार और वर्तमान में जेडीयू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर की कंपनी I-PAC हमारे साथ काम करेगी। प्रशांत किशोर बीजेपी और बिहार में महागठबंधन के लिए भी काम कर चुके हैं।

    मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके जानकारी दी, ये बात साझा करते हुए खुशी हो रही है कि आई-पैक हमारे साथ आ रही है, उनका स्वागत है। जेडीयू के उपाध्यक्ष रहने के बावजूद चुनावों में प्रशांत के अलग-अलग दलों के साथ काम करने की चर्चाएं भी चलती रहीं।

    बता दें कि प्रशांत किशोर ने साल 2014 लोकशभा चुनाव में बीजेपी के लिए, 2015 में नीतीश कुमार के लिए, 2017 में पंजाब और यूपी में कांग्रेस के लिए, 2019 में आंध्र प्रदेश में जगनमोहन रेड्डी के लिए काम किया है। प्रशांत किशोर पश्चिम बंगाल में इस वक्त ममता बनर्जी के साथ काम कर रहे हैं।

    और भी...

  • नोएडा: पहले पति ने मेट्रो के सामने कूदकर की आत्महत्या, बाद में पत्नी ने बच्ची के साथ लगा ली फांसी

    नोएडा: पहले पति ने मेट्रो के सामने कूदकर की आत्महत्या, बाद में पत्नी ने बच्ची के साथ लगा ली फांसी

     

    नोएडा में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की आत्महत्या का मामला सामने आया है। शुक्रवार सुबह पहले पति ने मेट्रो  के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली वहीं देर शाम मृतक की पत्नी और बेटी ने आत्महत्या कर ली। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। अभी तक आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।

    पुलिस के मुताबिक यह परिवार 2019 में काठमांडू से भारत आया था। पुलिस के मुताबिक भरत जे अपनी पत्नी शिवरंजनी और बच्ची ज्यश्रीता के साथ सेक्टर 128 के जेपी पवेलियन में रहता था। 13 दिसम्बर को भरत ने दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम मेट्रो स्टेशन में मेट्रो के आगे कूद कर अपनी जान दे दी।

    घटना की सूचना के बाद पत्नी मृतक के भाई के साथ अस्पताल भी गई थी। वंहा से लौटने के बाद शाम को करीब 7.30 पर पत्नी ने अपनी बच्ची के साथ छत के पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली। अभी तक किसी भी पारिवारिक विवाद का पता पुलिस को नही लगा है।

    और भी...

  • CAB को लेकर पूर्वोत्तर के राज्यों में विरोध जारी, आज असम में कर्फ्यू में 7 घंटे की ढील दी गई

    CAB को लेकर पूर्वोत्तर के राज्यों में विरोध जारी, आज असम में कर्फ्यू में 7 घंटे की ढील दी गई

     

    नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पूर्वोत्तर के राज्यों में विरोध जारी है इन राज्यों में असम की स्थिति सबसे ज्यादा बिगड़ी है। राज्य के कई इलाकों में कर्फ्यू तक लगाना पड़ा। पूर्वोत्तर के राज्यों में 6 दिन से उग्र प्रदर्शन जारी है। वही अब असम में शनिवार को कर्फ्यू में सुबह 9 बजे से 4 बजे तक सात घंटे के लिए ढील दी गई। हालांकि, इंटरनेट सेवा बंद रहेगी।

    वहीं, ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन ने 3 दिन के लिए सत्याग्रह का ऐलान किया। नगा स्टूडेंड्स फेडरेशन ने शनिवार को 6 घंटे के लिए बंद बुलाया है। असम में हजारों मुस्लिमों ने नागरिकता कानून के विरोध में शुक्रवार को रैली निकाली। दिल्ली पुलिस ने जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के 42 छात्रों को हिरासत में लिया।

    असम में इस कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन को नियंत्रित करने के लिए राजधानी गुवाहाटी के अलावा मोरीगांव, सोनितपुर और डिब्रूगढ़ में सेना और असम राइफल्स की आठ टुकड़ियां तैनात की गयी हैं। हर टुकड़ी में करीब 70 जवान होते हैं। प्रदर्शनकारियों के हिंसा पर उतर जाने के बाद 11 दिसंबर को सेना बुलाई गई थी।

    और भी...

  • दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस की भारत बचाओ रैली आज, ये नेता करेंगे संबोधित

    दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस की भारत बचाओ रैली आज, ये नेता करेंगे संबोधित

     

    नागरिकता संशोधन कानून, अर्थव्यवस्था की सुस्त रफ्तार, बढ़ती बेरोजगारी और किसानों की समस्या जैसे कई मुद्दों को लेकर कांग्रेस मोदी सरकार को घेरने की तैयारी में जुट गई है। इसी क्रम में कांग्रेस आज दिल्ली के रामलीला मैदान में भारत बचाओ रैली का आयोजन कर रही है।

    कांग्रेस की यह रैली दोपहर करीब 12 बजे से शुरू होगी। इस रैली को सोनिया गांधी के साथ साथ राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत पार्टी के कई बड़े नेता संबोधित करेंगे। पार्टी की ओर से रैली के लिए तीन मंच बनाए गए हैं।

    मुख्य मंच पर पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, मनमोहन सिंह, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल जैसे वरिष्ठ नेता बैठेंगे। वहीं मुख्य मंच के दाहिने और बाएं तरफ सीडब्ल्यूसी के सदस्य, मुख्यमंत्री, पार्टी महासचिव, प्रभारी समेत दूसरे महत्वपूर्ण नेता बैठेंगे। कार्यक्रम के लिए बने मंच पर किसी भी नेता की तस्वीर नहीं लगाई गई है।

     

    और भी...

  • संसद में बवाल के बावजूद राहुल ने दोहराया रेप इन इंडिया, कहा मैं नहीं मांगूंगा माफी

    संसद में बवाल के बावजूद राहुल ने दोहराया रेप इन इंडिया, कहा मैं नहीं मांगूंगा माफी

     

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के रेप इन इंडिया वाले बयान पर आज संसद में जोरदार हंगामा हुआ। इसके बाद राहुल गांधी मीडिया के सामने आए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हिंसा कराने के आरोप लगाए। राहुल गांधी ने अपने रेप वाले बयान को दोबारा दोहराया। उन्होंने कहा कि मैं अपने बयान पर माफी नहीं मांगूंगा। देश को मुद्दों से भटकाने के लिए मेरे बयान पर हंगामा किया जा रहा है। पीएम मोदी ने भी एक बार दिल्ली को रेप कैपिटल कहा था।

    राहुल गांधी ने कहा, मेरे फोन में एक क्लिप है, जिसमें नरेंद्र मोदी राजधानी दिल्ली को रेप कैपिटल कह रहे हैं। मैं उस क्लिप को ट्विटर पर डाल दूंगा। पूरा देश देख लेगा। राहुल ने आगे कहा, नरेंद्र मोदी जी ने कहा था कि मेक इन इंडिया लेकिन आज हम जहां देखते हैं वहां रेप हो रहा है। मेक इन इंडिया, रेप इन इंडिया में बदल गया है।

    राहुल ने कहा, आज पूरा नॉर्थ ईस्ट जल रहा है. मोदी जी सिर्फ हिंसा फैला रहे हैं। उन्होंने कहा, नरेंद्र मोदी जी ने देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। मैं पूछना चाहता हूं कि मोदी जी देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद क्यों किया? युवाओं से रोजगार क्यों छीना?

    इससे पहले आज बीजेपी की महिला सांसदों ने राहुल के इस बयान को लेकर लोकसभा में खूब हंगामा किया। केंद्रीय महिला बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल ने महिलाओं का अपमान किया है और गांधी खानदान के बेटे का ये बयान शर्मनाक है। उन्होंने स्पीकर से राहुल गांधी की सदस्यता खत्म करने की मांग की।

    और भी...

  • निर्भया केस में दोषियों की जल्द फांसी के लिए करना होगा इंतजार, अब 18 दिसंबर को होगी याचिका पर सुनवाई

    निर्भया केस में दोषियों की जल्द फांसी के लिए करना होगा इंतजार, अब 18 दिसंबर को होगी याचिका पर सुनवाई

     

    निर्भया केस में दोषियों को जल्‍द फांसी की मांग वाली याचिका पर अब पटियाला हाउस कोर्ट में 18 दिसंबर को दोपहर दो बजे सुनवाई होगी। इससे पहले जब आज सुनवाई हुई तो कोर्ट ने कहा कि दोषी अक्षय की पुनर्विचार याचिका पर 17 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट में होनी है, उस पर फैसले का इंतजार करना होगा। उसके बाद 18 दिसंबर को सुनवाई होगी।

    सुनवाई के दौरान याचिका दायर करने वाले निर्भया के माता-पिता भी कोर्ट रूम में मौजूद थे। दोषी के वकील एपी सिंह ने कहा कि हमारी कई अर्जियां अलग-अलग जगह लंबित है। इस पर कोर्ट ने कहा कि आपको कई बार पहले सूचना दी जा चुकी है। आप मामले को लंबा खींचने की कोशिश कर रहे हैं।

    एपी सिंह ने कहा कि पवन आरोप के वक़्त नाबालिग था। उसकी अर्जी लंबित है. कोर्ट ने कहा कि आपको तब अर्जी देना था जब निचली अदालत ने सजा दी थी। कोर्ट ने कहा कि हम रिव्यू पर SC का इंतजार करेंगे। निर्भया की मां ने कहा कि उम्‍मीद है कि दोषी की पुनर्विचार याचिका खारिज होगी। सात साल से लड़ाई लड़ रहे हैं, आगे भी लड़ाई जारी रहेगी। इसके साथ ही उन्‍होंने दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी करने की मांग की। उल्‍लेखनीय है कि निर्भया दुष्कर्म और हत्याकांड के आरोपी अक्षय कुमार सिंह की पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट 17 दिसंबर को सुनवाई करेगा।

     

    और भी...

  • पटियाला हाउस कोर्ट में निर्भया के गुनहगारों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पेशी आज

    पटियाला हाउस कोर्ट में निर्भया के गुनहगारों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पेशी आज

     

    दिल्ली में साल 2012 में निर्भया से गैंगरेप करने वाले चारों आरोपियों को 7 साल बाद भी फांसी नहीं हुई। पूरा देश मांग कर रहा है कि जल्द से जल्द निर्भया के गुनहगारों को उनके किए की सजा मिले। इस बीच दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में आज निर्भया के दोषियों को जल्द फांसी की मांग वाली निर्भया की मां की याचिका पर सुनवाई होनी है।

    कोर्ट ने सुनवाई के दौरान मामले के चारों दोषियों से उस याचिका पर उनका पक्ष मांगा था साथ ही तिहाड़ जेल प्रशासन से भी जाना चाहता कि आखिर इन दोषियों ने राहत के लिए कहां-कहां याचिका अभी भी दायर कर रखी हैं। तिहाड़ जेल प्रशासन के साथ ही दोषियों के वकील भी अदालत में इस केस से जुड़े लंबित मामलों के बारे में जानकारी देंगे।

    निर्भया की मां का कहना है कि यह दोषी सुप्रीम कोर्ट से तक फांसी की सजा सुनाए जाने के बावजूद अभी भी जेल में ही बंद है। लिहाज़ा इनके खिलाफ अदालत डेथ वारंट जारी करें और इन को दी गई फांसी की सजा की तारीख मुकर्रर करे।

    और भी...

  • दिल्ली-एनसीआर में तेज बारिश, सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठंड, कई उड़ानें प्रभावित

    दिल्ली-एनसीआर में तेज बारिश, सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठंड, कई उड़ानें प्रभावित

     

    दिल्ली-एनसीआर में गुरुवार को हुई भारी बारिश और ठंडी हवाएं चलने के कारण पारा गिर गया। दिल्ली में हुई मूसलाधार बारिश और तेज हवाओं के कारण कई विमानों को डायवर्ट करना पड़ा। खराब मौसम को देखते हुए देर शाम कुछ देर तक के लिए विमानों का आवागमन बंद रहा।

    वहीं जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी बर्फबारी की वजह से उत्तर भारत में सर्दी बढ़ गई है। भारतीय मौसम विभाग में क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से शहर में तेज ठंडी हवाओं और बिजली कड़कने के साथ लगभग दो घंटे बारिश हुई।

    उन्होंने कहा, 14-15 दिसंबर को शहर का तापमान गिरकर 10 डिग्री से नीचे जा सकता है। देर रात शहर का न्यूनतम पारा 12.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जबकि अधिकतम तापमान औसत से दो डिग्री सेल्सियस कम रहते हुए 21.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

    और भी...

  • नागरिकता संशोधन बिल को राष्ट्रपति की मंजूरी, 3 देशों के शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देगा ये कानून

    नागरिकता संशोधन बिल को राष्ट्रपति की मंजूरी, 3 देशों के शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देगा ये कानून

     

    संसद के दोनों सदनों से पास होने के बाद अब नागरिकता संशोधन बिल कानून बन गया। गुरुवार देर रात राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस विधेयक को अपनी मंजूरी दे दी। राष्ट्रपति से मिली मंजूरी के बाद अब इसके प्रावधान को देश में लागू किया जा सकेगा। इससे पहले बुधवार को राज्‍यसभा में नागरिकता संशोधन बिल के पास होना का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्‍वागत किया और इसे भारत के इतिहास में मील का पत्‍थर बताया था।

    पीएम मोदी ने ट्वीट किया था कि भारत के लिए और हमारे देश की करुणा और भाईचारे की भावना के लिए ये एक ऐतिहासिक दिन है। ख़ुश हूं कि सीएबी 2019 राज्यसभा में पास हो गया है। बिल के पक्ष में वोट देने वाले सभी सांसदों का आभार, ये बिल बहुत सारे लोगों को वर्षों से चली आ रही उनकी यातना से निजात दिलाएगा।

    बीजेपी सरकार बुधवार को नागरिकता संशोधन विधेयक को संसद से मंजूरी दिलाने में कामयाब रही जिसमें अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना के कारण भारत आए हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता प्रदान करने का प्रावधान है।

    इससे पहले संसद ने बुधवार को नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी दे दी थी। राज्यसभा ने बुधवार को विस्तृत चर्चा के बाद इस विधेयक को पारित कर दिया। सदन ने विधेयक को प्रवर समिति में भेजे जाने के विपक्ष के प्रस्ताव और संशोधनों को खारिज कर दिया। विधेयक के पक्ष में 125 मत पड़े जबकि 105 सदस्यों ने इसके खिलाफ मतदान किया। लोकसभा इस विधेयक को पहले ही पारित कर चुकी है।

    और भी...

  • बीजेपी नेता पंकजा मुंडे ने किया भूख हड़ताल का ऐलान, बताया क्यो करेगी भूख हड़ताल

    बीजेपी नेता पंकजा मुंडे ने किया भूख हड़ताल का ऐलान, बताया क्यो करेगी भूख हड़ताल

     

    बीजेपी नेता पंकजा मुंडे ने भूख हड़ताल करने का एलान किया है। उन्होंने कहा कि मैं मैं औरंगाबाद में एक दिवसीय भूख हड़ताल करूंगी। यह किसी भी पार्टी या व्यक्ति के खिलाफ नहीं होगा। यह मराठवाड़ा के मुद्दे पर नेतृत्व का ध्यान आकर्षित करने के लिए एक सांकेतिक भूख हड़ताल होगी। उन्होंने कहा मैं पार्टी नहीं छोड़ रही हूं। मैं 27 जनवरी, 2020 को औरंगाबाद में एक दिन की सांकेतिक हड़ताल करूंगी।

    बता दें कि, इससे पहले महाराष्ट्र के बीड जिले में बीजेपी की नाराज नेता पंकजा मुंडे द्वारा अपने पिता दिवंगत गोपीनाथ मुंडे की याद में गुरुवार को सभा बुलाई थी। पंकजा ने महाराष्ट्र में बदलते राजनीतिक परिदृश्य के मद्देनजर अपनी भविष्य की योजना को लेकर इस महीने की शुरुआत में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट भी लिखी थी।

    पकंजा ने अपने समर्थकों को भाजपा के दिग्गज नेता रहे अपने पिता गोपीनाथ मुंडे की याद में 12 दिसंबर को परली के गोपीनाथगढ़ में होने वाले कार्यक्रम में आमंत्रित किया है। हालांकि पूर्व मंत्री पंकजा ने स्पष्ट किया था कि वह भाजपा नहीं छोड़ रहीं। सभी की निगाहें गुरुवार को होने वाले कार्यक्रम पर टिकी हैं। उम्मीद है कि वह कोई घोषणा कर सकती हैं।

    और भी...

  • राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले में SC के फैसले के खिलाफ सभी पुनर्विचार याचिकाएं खारिज

    राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले में SC के फैसले के खिलाफ सभी पुनर्विचार याचिकाएं खारिज

     

    अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ दाखिल की गईं सभी पुनर्विचार याचिकाएं गुरुवार को खारिज कर दी गई। सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों के पीठ ने कहा कि याचिकाओं में कोई मेरिट नहीं है। नौ नवंबर के फैसले पर पुनर्विचार करने का कोई आधार नहीं है।

    सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या जमीन विवाद मामले में नौ नवंबर को अपना फैसला सुनाया था। अदालत ने विवादित जमीन रामलला को यानी राम मंदिर बनाने के लिए देने का फैसला किया था। अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की विशेष पीठ के 9 नवम्बर के फैसले पर पुनर्विचार के लिए कुल 18 याचिकाएं दाखिल की गई थी। इनमें 9 याचिकाएं पक्षकारों की ओर से और बाकी नौ अन्य याचिकाकर्ताओं की थी।

    अयोध्या भूमि विवाद में नौ नवंबर के फैसले पर पुनर्विचार के लिए दायर याचिकाओं पर सर्वोच्च न्यायालय ने बृहस्पतिवार को चैंबर में विचार किया। सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस एस अब्दुल नजीर और जस्टिस संजीव खन्ना की पांच जजों की पीठ ने इस मामले की सुनवाई की। पहले इस बेंच की अगुवाई करने वाले चीफ जस्टिस रंजन गोगोई रिटायर हो चुके हैं। जस्टिस संजीव खन्ना ने उनकी जगह ली।

    और भी...



Loading...