देश

  • बिहार में चार हाथ-चार पैर के साथ जन्मा अद्भुत बच्चा, लोगों ने बताया ईश्वर का अवतार

    बिहार में चार हाथ-चार पैर के साथ जन्मा अद्भुत बच्चा, लोगों ने बताया ईश्वर का अवतार

     

    बिहार (Bihar) के कटिहार (Katihar) में सोमवार को सदर अस्पताल के प्रसव वार्ड में एक महिला ने अद्भुत बच्चे को जन्म दिया। बता दें कि नवजात बच्चे के शरीर में चार हाथ और 4 पैर हैं। जिसके चलते मासूम चर्चा का विषय बन गया है। बताया जाता है कि सोमवार को हमला गंज की एक प्रसूता प्रसव कराने के लिए सदर अस्पताल पहुंची थी। काफी मशक्कत के बाद सिजेरियन ऑपरेशन के जरिए प्रसव कराया गया।

    प्रसव के बाद नवजात को देखकर सभी लोग हैरान रह गए। डॉक्टर की मानें तो गर्भ के अंदर पल रहे जुड़वा बच्चे का समुचित रूप से विकास नहीं हो पाने के कारण इस तरह के नवजात का जन्म हो हुआ है। एक बच्चे का पूर्ण विकास हुआ, जबकि दूसरे बच्चे का पूर्ण विकास नहीं हुआ। इस वजह से उसके हाथ और पैर पहले बच्चे के शरीर में ही विकसित हो गए।

    प्रसव के बच्चा स्वस्थ है। अद्भुत बच्चे के जन्म होने की सूचना पर अस्पताल परिसर के अलावा प्रसव वार्ड में मौजूद लोग बच्चे को देखने के लिए पहुंचे और तरह-तरह की बाते बनाने लगे। कुछ लोगों का कहना है कि यह बच्चा भगवना का एक अवतार है। अस्पताल में सब उसकी एक झलक पाने के लिए आतुर दिखे।

    और भी...

  • आज दक्षिण दिल्ली के इन इलाकों  में नहीं आएगा पानी

    आज दक्षिण दिल्ली के इन इलाकों  में नहीं आएगा पानी

     

    दक्षिण दिल्ली (South Delhi) के कई इलाकों में गुरुवार को पेयजल आपूर्ति प्रभावित रहेगी। दरअसल, जेबी टीटो मार्ग पर 900 एमएम की दक्षिणपुरी मुख्य पाइप लाइन (Pipe Line) लीक हो गई है। जिस कारण यहां पर बड़ी मात्रा में पानी बर्बाद हो रहा है।

    दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Jal Board) के मुताबिक, दक्षिणपुरी मुख्य पाइप लाइन की गुरुवार को मरम्मत की जाएगी। इस कारण मदनगीर गांव, मदनगीर पीएच-एक व दो, दक्षिणपुरी मेन,दक्षिणपुरी एक्सटेंशन, आरपीएस फ्लैट्स, डीडीए फ्लैट्स मदनगीर, पुष्प विहार, शेखसराय फेज-दो और आंबेडकर नगर और इनके आसपास के क्षेत्र में पीने के पानी की आपूर्ति प्रभावित रहेगी। दिल्ली जल बोर्ड ने इन इलाकों में पेयजल की किल्लत के चलते टैंकर भेजने की व्यवस्था की है।

    और भी...

  • Charcha: Punjab Election चेहरे पर तकरार एक अनार, कई बीमार.. 

    Charcha: Punjab Election चेहरे पर तकरार एक अनार, कई बीमार.. 

     

    जनता टीवी के कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि चर्चा के तहत एक बार फिर उन पांच विधानसभा राज्यों पर बातचीत करेंगे... जहां पर चुनाव का सिलसिला शुरू हो चुका है। तमाम राज्यों में चुनाव को लेकर गतिविधियां तेज हैं। इन गतिविधियों के बीच में सारी पार्टियों के बीच में ही चर्चा है कि मुख्यमंत्री के तौर पर चेहर कौन होगा... चाहे वो भारतीय जनता पार्टी है, चाहे कांग्रेस पार्टी है... चाहे अन्य राजनीतिक दल हैं। सब जगह पर खलबली है, बेचैनी है, असमंजस है... लेकिन इन सब के बीच में देश की नवोदित राजनीतिक पार्टी जो बामुश्किल एक दशक पहले अस्तित्व में आई। सही मायनों में कहें तो उसने एक दशक भी पूरा नहीं किया। वो इन तमाम राजनीतिक दलों से मिलों आगे दिख रही है। आम आदमी पार्टी इसका नाम है। आम आदमी पार्टी लगातार मुख्यमंत्री के तौर पर अपने चेहरे सार्वजनिक कर रही है। उत्तराखंड के संदर्भ में कर्नल कुठयाल के रूप में अपना चेहरा पहले ही दे चुकी थी। अब पंजाब के संदर्भ में तमाम राजनीतिक दल आम आदमी पार्टी पर सावल उठा रहे थे कि बिन दूल्हे की बारात है, क्या केजरीवाल को ही दूल्हा बनाने की तैयारी है।

    लेकिन कल अरविंद केजरीवाल ने भगवंत मान को मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर प्रस्तुत कर दिया। आज वे गोवा में थे तो उन्होंने गोवा में भी मुख्यमंत्री का चेहरा दे दिया। इन सब के बीच में जिस पंजाब में कांग्रेस की स्पष्ट बहुमत की सरकार है... चरणजीत सिंह चन्नी को एक बड़ी उपलब्धि के तौर पर कांग्रेस बता रही है कि दलित को सम्मान और स्थान अगर किसी पार्टी ने दिया तो वो कांग्रेस ने दिया। उस कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है कि पंजाब में हम कोई चेहर घोषित नहीं करेंगे.. बल्कि सामुहिक नेतृत्व में चुनाव लड़ेंगे। किया ऐसी मजबूरी है, जिसके तहत चरणजीत सिंह चन्नी चेहरा होने से वंचित रह जा रहे हैं। अगर उत्तर प्रदेश में बात करें तो कांग्रेस असमंजस में हैं....

     

    और भी...

  • कोरोना की तीसरी लहर का असर, एक दिन में 3 लाख 17 हजार से ज्यादा मामले किए गए दर्ज

    कोरोना की तीसरी लहर का असर, एक दिन में 3 लाख 17 हजार से ज्यादा मामले किए गए दर्ज

     

    भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) की तीसरी लहर का असर बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। कोरोना के दैनिक मामलों में उतार चढ़ाव का सिलसिला लगातार जारी है। देश में 24 घंटे में कोविड-19 (Covid-19) केसों ने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिये हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) के द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, भारत (India) में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 3,17,532 नये केस दर्ज किए गए हैं और 491 लोगों की मौत हुई है।



    इन सब के अलावा एक दिन में 2,23,990 कोरोना मरीजों की अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। यदि देश में एक्टिव केसों की बात की जाए तो उसमें भी तेजी से बढ़ोतरी देखी जा रही है। देश में एक्टिव केसों की संख्या 19,24,051 हो गई है। इन सभी का विभिन्न अस्पतालों में इलाज जारी है। इसी के साथ कुल पॉजिटिविटी दर 16.41 प्रतिशत हो गई है। साथ ही आपको बता दें कि भारत में ओमिक्रॉन वैरिएंट के केस भी तेजी से बढ़ रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में ओमिक्रॉन (Omicron) से संक्रमित मरीजों की संख्या 9 हजार 287 हो गई है। बुधवार से ओमिक्रॉन के केसों में 3.63 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 19 जनवरी तक देश में 70,93,56,830 कोविड सैंपल की जांच की गई है। इनमें से 19,35,180 सैंपल की जांच कल की गई थी।

    और भी...

  • इस गणतंत्र दिवस मुख्य अतिथि के तौर पर कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष नहीं होगा शामिल: सूत्र

    इस गणतंत्र दिवस मुख्य अतिथि के तौर पर कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष नहीं होगा शामिल: सूत्र

     

    भारत में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस (Republic Day) मनाया जाएगा। लेकिन इस साल भी पिछले साल की तरह गणतंत्र दिवस का जश्न कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से फीका रहेगा। इस साल गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष शामिल नहीं होगा। इस बात की जानकारी सूत्रों के द्वारा दी गई है। बता दें कि जारी कोविड -19 महामारी और बढ़ते मामलों के बीच यह लगातार दूसरा वर्ष है जब गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में कोई विदेशी नेता शामिल नहीं होगा।

    सूत्रों ने बुधवार को बताया कि इस साल हमारे गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष या शासनाध्यक्ष शामिल नहीं होगा। लेकिन एक दिन बाद यानी 27 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्चुअल फॉर्मेट में पहले भारत-मध्य एशिया शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेंगे। शिखर सम्मेलन कजाकिस्तान, किर्गिज गणराज्य, ताजिकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपतियों की भागीदारी के साथ आयोजित किया जाएगा।

    और भी...

  • त्रिलोकपुरी मेट्रो के स्टेशन पास मिले दो संदिग्ध बैग, जांच में जुटी पुलिस, इलाके को कराया खाली

    त्रिलोकपुरी मेट्रो के स्टेशन पास मिले दो संदिग्ध बैग, जांच में जुटी पुलिस, इलाके को कराया खाली

     

    राजधानी दिल्ली में लगातार आतंकी साजिशों का पर्दाफाश किया जा रहा है। दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके से बुधवार को एक बार फिर बड़ी खबर सामने आई है। यहां त्रिलोकपुरी मेट्रो स्टेशन के पास दो संदिग्ध बैग मिले है। जिसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई, जिसके बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंचकर जांच कर रही है।

    जानकारी के मुताबिक त्रिलोकपुरी 15 ब्लॉक के अंदर मेट्रो पिलर नंबर 59 के पास लावारिस बैग मिलने की सूचना से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। एहतियात के तौर पर आसपास के इलाके को खाली करा लिया गया है। स्थानीय पुलिस और बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंच गया है। पुलिस दोनों बैगों की जांच में जुटी है।

    पुलिस को इसकी सूचना दोपहर एक बजे मिली, दमकल और बम निरोधक दस्ता भी मौके पर मौजूद है। पुलिस के मुताबिक बैग में लैपटॉप और कुछ सामान मिला है। ये सामान जिसका है उसे संपर्क कर लिया गया है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया बैग से कुछ भी ऐसा नहीं निकला जो नुकसान पहुंचा सके। फिलहाल घबराने की कोई बात नहीं है।

    और भी...

  • Goa Election 2022: आप के CM पद के उम्मीदवार अमित पालेकर का बड़ा बयान, दी ये बड़ी गारंटी

    Goa Election 2022: आप के CM पद के उम्मीदवार अमित पालेकर का बड़ा बयान, दी ये बड़ी गारंटी

     

    आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने गोवा सीएम पद के लिए अधिवक्ता अमित पालेकर को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। सीएम पद का उम्मीदवार होते ही अधिवक्ता अमित पालेकर ने बड़ा बयान दिया है। 

    अमित पालेकर ने कहा है कि मैं आपको भ्रष्टाचार मुक्त गोवा की गारंटी दे रहा हूं और हमें गोवा का खोया हुआ गौरव वापस मिलेगा, जिसका सपना सभी ने देखा था। मैं अपने कहे हर शब्द को रखूंगा। यह एक गारंटी है।

    जानकारी के लिए आपको बता दें कि बीते अक्टूबर में आप में शामिल हुए पालेकर सेंट क्रूज़ निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे। सीएम केजरीवाल ने कहा है कि अमित पालेकर पेशे से वकील हैं और भंडारी समुदाय से आते हैं। हाल ही में आप ने भंडारी समुदाय (ओबीसी समुदाय) से किसी को सीएम चेहरा चुनने का दावा किया था। पालेकर के नाम की घोषणा करने से पहले केजरीवाल ने कहा कि पार्टी ने तटीय राज्य में अपने अभियान के चेहरे के रूप में एक 'ईमानदार' व्यक्ति को चुना है। उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने एक ऐसे व्यक्ति को चुना है जो समुदाय में कल्याणकारी कार्यों के लिए जाना जाता है।

    और भी...

  • इस कपल का गजब प्लान, ऑनलाइन मुलाकात, ऑनलाइन ही खाने का इंतजाम, ऑनलाइन ही शादी अडेंट 

    इस कपल का गजब प्लान, ऑनलाइन मुलाकात, ऑनलाइन ही खाने का इंतजाम, ऑनलाइन ही शादी अडेंट 

     

    कोरोना वायरस के कारण लोगों की ज़िन्दगी में बहुत कुछ बदल रहा है। जहां एक तरफ लोगों को ऑनलाइन माध्यम से अधिक जोड़ा गया, तो दूसरी ओर कई लोग ऑनलाइन के माध्यम से अब शादी अटेंड तक करवाने लगे हैं। थोड़ा अजीब सा लग रहा है ना, लेकिन ये सच है। सोशल मीडिया पर आजकल एक ऐसा कपल वायरल हो रहा है, जिनकी मुलाकात न सिर्फ ऑनलाइन हुई, बल्कि उन्होंने अपनी शादी में मेहमानों को ऑनलाइन अटेंड करवाने का प्लान बनाया है। 

    इतना ही नहीं, उनके लिए खाने की व्यवस्था भी ऑनलाइन ही कर दी है। कोरोना की तीसरी लहर के बीच मिलिए संदीपन सरकार और अदिति दास से, जो 24 जनवरी को पश्चिम बंगाल के बर्धमान जिले में शादी के बंधन में बंधने वाले हैं। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए शादी में केवल सौ मेहमान ही मौजूद होंगे, जबकि बाकी 350 मेहमान गूगल मीट पर उनके साथ साझा किए गए दो लिंक के माध्यम से शादी में शामिल होंगे।

    ऑनलाइन जुड़ने वाले मेहमानों को शानदार भोजन की कमी नहीं होगी, क्योंकि जोमैटो खाना पहुंचाने के लिए डिलीवरी पार्टनर होगा। गूगल मीट के लिए उन्होंने दो लिंक इसलिए क्रिएट किया, क्योंकि इस प्लेटफॉर्म पर एक लिंक में एक बार में सिर्फ 250 लोगों के शामिल होने की सीमा है। बाकी के मेहमान दूसरे लिंक के जरिए अटेंड कर सकते हैं। 

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, संदीपन सरकार ने कहा, 'मुझे 4 से 14 जनवरी के बीच कोविड था और मैं अस्पताल में भर्ती था। मैं बर्धमान के बाहर से आने वाले अन्य मेहमानों के लिए ऐसी स्थिति नहीं चाहता था, जो शादी में शामिल होंगे। हमने फैसला किया कि हमें अभी भी पर्याप्त सावधानी बरतनी होगी। महामारी के कारण पहले ही इस कपल की शादी की तारीख टल चुकी है, और फिर से नई तारीख के साथ अंतिम रूप देने की तैयारी है।

    अदिति दास ने कहा, 'संदीपन ने यह सुझाव दिया और हमने सोचा कि लोग हंसेंगे लेकिन फैसला किया कि हमें सबसे पहले इस ट्रेंड को सेट करना चाहिए। हमारे परिवारों को सूचित किया गया था, जिन्होंने शुरू में सोचा था कि हमें ऐसा क्यों करना चाहिए। लेकिन हमें खुशी है कि हम इस दौरान ऐसा करने में सक्षम हैं।' फ्लिपकार्ट जैसे ऑनलाइन शॉपिंग ऐप के माध्यम से कपल के लिए गिफ्ट का स्वागत किया जाएगा, जबकि Gpay जैसे डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म के माध्यम से शगुन के पैसे भेजे जा सकते हैं। दूल्हा-दुल्हन ने अपने कार्ड में इस चीज का मेंशन किया है कि मेहमान ऑनलाइन कैसे जुड़ सकते हैं और उनके लिए खाने व्यवस्था कैसे की जाएगी।

    और भी...

  • IB ने Delhi Police को किया अलर्ट, गणतंत्र दिवस पर बम धमाके की आशंका

    IB ने Delhi Police को किया अलर्ट, गणतंत्र दिवस पर बम धमाके की आशंका

     

    दिल्ली में गणतंत्र दिवस को लेकर पुलिस ने पैनी नजर रखी हुई है। आतंकी हमले की खुफिया सूचना मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने 20 जनवरी से राजधानी को ड्रोन रोधी क्षेत्र घोषित कर दिया है। इसके तहत दिल्ली में ड्रोन, पैरा ग्लाइडर, यूएवी, छोटे सूक्ष्म विमान, एयर बैलून पर प्रतिबंध रहेगा।

    दिल्ली के पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने कहा कि दिल्ली में ड्रोन रोधी प्रणाली 15 फरवरी तक लागू रहेगी। दरअसल, पुलिस ने ड्रोन हमले की आशंका को देखते हुए एहतियात बरतते हुए शहर में हवा में चीजों के उड़ने पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया है। पुलिस आयुक्त ने बताया कि 20 जनवरी से ड्रोन रोधी क्षेत्र की व्यवस्था लागू कर दी जाएगी।

    वहीं इंडिया गेट और भीड़भाड़ वाले इलाकों में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सुरक्षा व्यवस्था के लिए मोबाइल पुलिस कंट्रोल रूम वैन का भी इस्तेमाल किया जाएगा। संदिग्धों की पहचान कर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। गाजीपुर मंडी में आईईडी मिलने के बाद अब इंटेलिजेंस ब्यूरो ने दिल्ली पुलिस को गणतंत्र दिवस पर आतंकी हमले की आशंका की जानकारी दी है। नेताओं समेत कुछ वीआईपी को निशाना बनाने के संकेत हैं।

    आईबी से इनपुट है कि प्रतिबंधित खालिस्तानी संगठन सिख फॉर जस्टिस गणतंत्र दिवस पर आतंकवादी हमले को अंजाम देने की प्रक्रिया में है। कार में विस्फोटक रखकर संगठन इंडिया गेट और लाल किले के आसपास हमला कर सकते हैं। इनपुट में यह भी है कि सिख फॉर जस्टिस पिछले साल की तरह लाल किले पर धार्मिक झंडा फहराने की घटना को दोहरा सकता है।

    आईबी का दावा, आतंकी पाकिस्तान से भारत में विस्फोटक लाए हैं। गाजीपुर मंडी में मिला आईईडी उसी का हिस्सा था। जिस तरह से जम्मू एयरपोर्ट पर ड्रोन से हमला किया गया, उसी तरह आतंकी ड्रोन से भी हमला कर सकते हैं। ड्रोन से परेड रूट या उसके पीछे हमला करने की बात कही जा रही है।

    और भी...

  • Corona virus update: 24 घंटे में 2 लाख 82 हजार से ज्यादा केस, जानें अब तक का पूरा अपडेट

    Corona virus update: 24 घंटे में 2 लाख 82 हजार से ज्यादा केस, जानें अब तक का पूरा अपडेट

     

    देश में एक्सपर्ट्स ने कोरोना की तीसरी लहर का पीक समय बता दिया है और इसी बीच नए मामले नीचे आ रहे हैं। ओमिक्रॉन के कहर के बीच देश में कोरोना के बुधवार को 2 लाख 82 हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज हुए हैं तो वहीं बीते 24 घंटों में 400 से ज्यादा मरीजों की मौत हो चुकी है।

    स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में बुधवार को कोविड-19 के मामलों में मामूली सा सुधार देखने को मिला। देश ने पिछले 24 घंटों में 2,82,970 नए मामले दर्ज हुए हैं और जबकि बीते दिनों 2.58 लाख दैनिक मामलों की तुलना में 7 प्रतिशत कम देखने को मिली है। पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड के कारण 441 लोगों की मौत हो गई है और 1,88,157 ठीक हुए हैं। जिससे देश में संक्रमण के कारण कुल मृत्यु संख्या 486,761 हो गई है।

    देश में अभी भी एक्टिव केस 18,31,000 और दैनिक सकारात्मकता दर: 15.13 फीसदी है। अब तक कुल 8,961 ओमिक्रॉन मामलों का पता चला है। कल से 0.79 फीसदी की वृद्धि हुई थी। जबकि राष्ट्रीय कोविड-19 रिकवरी रेट घटकर 94.09 प्रतिशत हो गई है। भारत समेत दुनिया भर के 190 से ज्यादा देश कोरोना वायरस के संक्रमण से प्रभावित है।

    एक रिपोर्ट के मुताबिक, अब तक दुनिया में 33 करोड़ 5 लाख से अधिक लोग कोविड-19 से प्रभावित हो चुके हैं। इस वायरस ने अब तक 55 लाख से ज्यादा लोगों की जिंदगी छीन ली है। भारत में भी कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन तेजी से फैल रहा है। कुल संक्रमितों की संख्या तीन करोड़ 76 लाख को पार कर गई है।

    और भी...

  • बीच भाषण में रुके PM नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी बोले- टेलीप्रॉम्पटर बंद हो गया था

    बीच भाषण में रुके PM नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी बोले- टेलीप्रॉम्पटर बंद हो गया था

     

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को ऑनलाइन आयोजित होने जा रहे पांच दिवसीय दावोस एजेंडा शिखर सम्मेलन वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम को संबोधित कर रहे थे। इस सम्मेलन में कई देशों ने हिस्सा लिया था। लेकिन संबोधन के बीच में ही अचानक कुछ ऐसा हुआ की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बीच में ही अपने भाषण को कुछ समय के लिए रोकना पड़ा।

    सोशल मीडिया पर लोग कहने लगे कि वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम में भाषण दे रहे प्रधानमंत्री मोदी का हो सकता है टेलीप्रॉम्पटर अचानक रुक गया हो जिसके बाद प्रधानमंत्री मोदी बोलते बोलते रुक गए! पीएम वहाँ मौजूद लोगों को इशारा करते हुए भी दिखाई दिए। 

    वीडियो वायरल होते ही विपक्ष पीएम मोदी पर निशाना साधने लगा है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि इतना झूठ Teleprompter भी नहीं झेल पाया।

    वहीं बीजेपी समर्थकों का दावा है कि ये सारी समस्या वर्ल्ड इकोनॉमिक फ़ोरम की तरफ़ से हुई थी और पीएम का टेलीप्रॉम्पटर ख़राब नहीं हुआ था।

    शिखर सम्मेलन में बोलते हुए, पीएम मोदी ने कहा कि भारत, जो अपनी स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष का जश्न मना रहा है और देश में 156 करोड़ वैक्सीन खुराक का प्रशासन भी कर रहा है, ने दुनिया को आशा का एक गुलदस्ता उपहार में दिया है। पीएम मोदी ने कहा, “इस गुलदस्ते में लोकतंत्र में पूर्ण विश्वास, 21वीं सदी को सशक्त बनाने वाली तकनीक, भारतीयों की प्रतिभा और स्वभाव शामिल हैं।”

    और भी...

  • गणतंत्र दिवस पर पीएम की जान को खतरा, खुफिया एजेंसियों को आतंकी साजिश का मिला अलर्ट

    गणतंत्र दिवस पर पीएम की जान को खतरा, खुफिया एजेंसियों को आतंकी साजिश का मिला अलर्ट

     

    खुफिया एजेंसियों को गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर एक संभावित आतंकी साजिश के बारे में अलर्ट मिला है। जिससे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) और अन्य गणमान्य व्यक्तियों की जान को खतरा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, खुफिया एजेंसियों नौ पन्नों की खुफिया जानकारी मिली है। जिसमें की एक प्रति एक न्यूज चैनल को मिली है। प्रति में संकेत दिया गया है कि पीएम मोदी और अन्य गणमान्य व्यक्तियों की जान को खतरा है जोकि गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होंगे। रिपोर्ट के अनुसार, पांच मध्य एशियाई देशों- कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उज्बेकिस्तान के नेताओं को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किए जाने की संभावना है।

    नोट में उल्लेख किया गया है कि धमकी पाकिस्तान/अफगानिस्तान-पाकिस्तान क्षेत्र से बाहर के समूहों से आया था। इन समूहों का उद्देश्य उच्च पदस्थ गणमान्य व्यक्तियों को लक्षित करना और सार्वजनिक सभाओं, महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों और भीड़-भाड़ वाले स्थानों में तोड़फोड़ करना है। ड्रोन से भी हमले की कोशिश की जा सकती है। इनपुट में कहा गया है कि आतंकी धमकी के पीछे लश्कर-ए-तैयबा, द रेजिस्टेंस फोर्स, जैश-ए-मोहम्मद, हरकत-उल-मुजाहिदीन और हिज्ब-उल-मुजाहिदीन जैसे आतंकी समूह हैं। इनपुट में कहा गया है कि पाकिस्तान में स्थित खालिस्तानी समूह भी पंजाब में आतंकवाद को फिर से संगठित करने और पुनर्जीवित करने के लिए कैडरों को जुटा रहे हैं। वे पंजाब और अन्य राज्यों में लक्षित हमलों की भी योजना बनाते हैं। फरवरी 2021 में प्राप्त एक इनपुट के अनुसार, खालिस्तानी आतंकी समूह प्रधान मंत्री की बैठक और पर्यटन स्थलों पर हमला करने की योजना बना रहे हैं।

    और भी...

  • Charcha: बढ़ता संक्रमण, सिमटती महामारी! कोरोना ने बिगाड़ी देश की व्यवस्था सारी

    Charcha: बढ़ता संक्रमण, सिमटती महामारी! कोरोना ने बिगाड़ी देश की व्यवस्था सारी

     

    जनता टीवी के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि नमस्कार आपका स्वागत है हमारे खास कार्यक्रम चर्चा में, चर्चा के तहत आज हम राजनीतिक विषयों से हटकर उस विषय पर बातचीत करने के लिए तत्पर होते हैं... जिसने पूरी दुनिया को हिला कर रखा है। पिछले 2 साल से कोरोना हमारी जिंदगी का अभिन्न हिस्सा बना हुआ है और हमारी जिंदगी की समस्या भी बना हुआ है। कोरोना के चलते हमारे देश में दिन की व्यवस्था इस प्रकार से बिगाड़ दी है। उस के संदर्भ में जितना कुछ भी कहा जाए... वह कम है। हर बार उम्मीद करते हैं कि इस बार तो कोरोना से हमें निजात मिलेगी। लेकिन कुछ समय राहत से गुजरता है और उसके बाद वहीं चुनौतियां सामने खड़ी हो जाती हैं। एक बार फिर नई लहर हमारी जिंदगी में दस्तक देती है और सब कुछ तहस-नहस कर देती है।

    दुनिया के तमाम देश चौथी-पांचवी-छठी लहर से जूझ रहे हैं। लेकिन हिंदुस्तान के संदर्भ में यह बात की जाए... तो इस समय हम यहां पर तीसरी लहर से जूझ रहे हैं। तीसरी लहर के तहत तमाम वैज्ञानिक एक्सपर्ट कह रहे हैं कि संक्रमण तेज गति से नहीं बल्कि बहुत तेज गति से फैल रहा है। पहली और दूसरी लहर के मुकाबले संक्रमण की रफ्तार 3 गुनी 4 गुनी और 5 गुना तेजी से बढ़ रही है। लेकिन सच इससे भी ज्यादा हो सकता है। अगर संक्रमण की बात करें वर्तमान में जो संक्रमण से जुड़े मामले सामने आ रहे हैं। वह दो लाख ढाई लाख से ऊपर आ रहे हैं। हो सकते हैं कि वह उससे भी कहीं ज्यादा हो सकते हैं। लेकिन ओमिक्रॉन के बाद जो बदलाव देश में आया है, लोग अब टेस्ट कराने के लिए बहुत इच्छुक नहीं है। लेकिन इन सबके बीच में जो एक आशा भरी खबर है वह यह है कि तमाम चिकित्सा विशेषज्ञ कह रहे हैं। यह अब इस महामारी की समाप्ति का संकेत है। बड़े पैमाने पर जो संक्रमित लोग हो रहे हैं, वह छोटी सी तकलीफ के साथ अपने अंदर पर्याप्त एंटीबॉडीज विकसित करने में कामयाब हो रहे हैं और इसका नतीजा कुल मिलाकर जो हो रहा है कि हो सकता है कि आने वाले वक्त में हमारी जिंदगी से बिल्कुल समाप्त हो जाए और एक सामान्य दिनचर्या में वापसी के तौर पर हो। क्या ऐसा होगा। हम इस खास कार्यक्रम में चर्चा करेंगे.... कई मेहमान इस कार्यक्रम में हमारे साथ जुड़े हुए हैं.... जिनसे हम जानेंगे क्या वाक्य में बदलाव आएगा... 'चर्चा'

     

    और भी...

  • जानें कौन हैं Bhagwant Mann, जिन्हें Punjab Elections में AAP ने बनाया सीएम चेहरा

    जानें कौन हैं Bhagwant Mann, जिन्हें Punjab Elections में AAP ने बनाया सीएम चेहरा

     

    Punjab Election 2022: आम आदमी पार्टी की पंजाब यूनिट के मुखिया और सांसद भगवंत मान (Bhagwant Mann) पंजाब विधानसभा चुनाव में आप का सीएम चेहरा होंगे। दिल्ली के सीएम और आप मुखिया अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने भगवंत मान को सीएम का चेहरा घोषित किया।

    आम आदमी पार्टी ने सीएम का चेहरा फाइनल करने के लिए पंजाब के लोगों की राय ली है। आम आदमी पार्टी की ओर से पिछले हफ्ते सीएम के चेहरा फाइनल करने के लिए एक फोन नंबर जारी किया गया था। पार्टी ने इस कैंपेन को 'जनता चुनेगी अपना मुख्यमंत्री' नाम दिया। आम आदमी पार्टी ने दावा किया है कि चार दिन के अंदर पार्टी को 22 लाख लोगों ने फोन कॉल, मैसेज और व्हाट्सएप के जरिए अपनी राय दी।

    आम आदमी पार्टी का दावा है कि पंजाब के लोगों भगवंत मान को सीएम के चेहरे के देखना चाहते थे। इसलिए आम आदमी पार्टी ने भगवंत मान को सीएम का चेहरा बनाने का फैसला किया है। 

    2014 में पहली बार बने सांसद

    भगवंत मान 2014 से आम आदमी पार्टी के लोकसभा सदस्य हैं। मई 2014 में भगवंत मान पंजाब के संगरूर निर्वाचन क्षेत्र से सांसद चुने गए थे। उसके बाद वह 17वीं विधानसभा में दूसरी बार फिर से संगरूर लोकसभा सीट से सांसद बने।

    पंजाब के इस शहर में जन्म

    भगवंत मान के घर का नाम जुगनू है। वह फेमस पंजाबी कॉमेडियन भी रह चुके हैं। भगवंत मान का जन्म 17 अक्टूबर 1973 को भारत में पंजाब के संगरूर जिले के सतोज गांव में हुआ था। उन्होंने पंजाब के संगरूर में स्थित एसयूएस कॉलेज से बीकॉम किया है।

    ऐसे छूटा परिवार  

    भगवंत मान की उनकी शादी इंद्रप्रीत कौर से हुई थी हालांकि 2015 में दोनों अलग हो गए। दोनों के दो बच्चे हैं। एक इंटरव्यू में भगवंत मान ने खुद बताया था कि वह राजनीति के चक्कर में अपने परिवार को समय नहीं दे पाते थे इसलिए उनकी पत्नी और वह सहमति से अलग हो गए।

    ऐसे आम आदमी पार्टी में आए

    भगवंत मान ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत मनप्रीत सिंह बादल की पार्टी पंजाब पीपल्स पार्टी से की थी। वह 2012 में लहरा विधानसभा सीट से चुनाव लड़े थे लेकिन हार गए। बाद में मनप्रीत कांग्रेस में शामिल हो गए और भगवंत मान आम आदमी पार्टी में आ गए।

    जिसके बाद वह आम आदमी पार्टी से संगरूर निर्वाचन क्षेत्र से सांसद चुने गए और अब उन्हें आम आदमी पार्टी ने पंजाब के लिए मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित किया।

    और भी...

  • Punjab Election 2022: भगवंत मान होंगे आम आदमी पार्टी का CM चेहरा

    Punjab Election 2022: भगवंत मान होंगे आम आदमी पार्टी का CM चेहरा

     

    Punjab Election 2022: आम आदमी पार्टी की पंजाब यूनिट के मुखिया और सांसद भगवंत मान (Bhagwant Mann) पंजाब विधानसभा चुनाव में आप का सीएम चेहरा होंगे। दिल्ली के सीएम और आप मुखिया अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने भगवंत मान को सीएम का चेहरा घोषित किया।

    लिंक पर क्लिक कर यह भी पढ़ें:-

    जानें कौन हैं Bhagwant Mann, जिन्हें Punjab Elections में AAP ने बनाया सीएम चेहरा

    आम आदमी पार्टी ने सीएम का चेहरा फाइनल करने के लिए पंजाब के लोगों की राय ली है। आम आदमी पार्टी की ओर से पिछले हफ्ते सीएम के चेहरा फाइनल करने के लिए एक फोन नंबर जारी किया गया था। पार्टी ने इस कैंपेन को 'जनता चुनेगी अपना मुख्यमंत्री' नाम दिया। आम आदमी पार्टी ने दावा किया है कि चार दिन के अंदर पार्टी को 22 लाख लोगों ने फोन कॉल, मैसेज और व्हाट्सएप के जरिए अपनी राय दी।

    आम आदमी पार्टी का दावा है कि पंजाब के लोगों भगवंत मान को सीएम के चेहरे के देखना चाहते थे। इसलिए आम आदमी पार्टी ने भगवंत मान को सीएम का चेहरा बनाने का फैसला किया है। 

    और भी...