JK: बिजबेहरा एनकाउंटर में 2 आतंकियों के शव बरामद, घटनास्थल से AK 47 राइफल मिला          गजियाबादः एलिवेटेड रोड पर इंदिरापुरम के पास बड़ा सड़क हादसा, दो की मौत          गाजियाबादः शादी में हर्ष फायरिंग में एक शख्स को लगी गोली, आरोपी दीपक गिरफ्तार          
होम | दुनिया | अब पाकिस्तान में दूध भी हुआ महंगा, 180 रुपये प्रति लीटर तक पहुंची कीमत

अब पाकिस्तान में दूध भी हुआ महंगा, 180 रुपये प्रति लीटर तक पहुंची कीमत

 

Edited By: रक्षित कुमार

पड़ोसी देश पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था काफी बुरे दौर से गुजर रही है, जिस कारण वहां चीजों के दाम आसमान छू रहे हैं. पाकिस्तान की जनता सब्जियों, पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर पहले ही परेशान थी, अब दूध के दामों ने उनके सामने नई परेशानी खड़ी कर दी है.

कराची डेयरी फार्मर्स एसोसिएशन ने अचानक से ही दूध के दामों में 23 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है। जिसके कारण यहां दूध की कीमत 120 रुपये प्रति लीटर हो गई है। वहीं खुदरा बाजार में दूध 100 से 180 रुपये प्रति लीटर की दर से बिक रहा है। भारतीय रुपये की तुलना में पाकिस्तानी रुपये का मूल्य आधा है।

मंहगाई से दो-चार हो रही पाकिस्तान की जनता इस समय काफी गुस्से में है। इमरान खान के लिए अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना सबसे बड़ी चुतौनी है। पाकिस्तानी अखबार डॉन के अनुसार फार्मर्स एसोसिएशन ने सरकार से कई बार दाम बढ़ाने का अनुरोध किया था। मगर जब सरकार ने उसकी बात नहीं सुनी तो उसने खुद यह फैसला ले लिया।

एसोसिएशन के एक अधिकारी ने बताया कि वह इस मामले में दखल देने के लिए अधिकारियों से मिले थे। मगर उन्होंने कुछ नहीं किया। चारे का दाम चार गुना और ईंधन की कीमतों में भी काफी इजाफा हुआ है। प्रशासन ने एसोसिएशन के फैसले को गलत बताया है। मंहगा दूध बेचने वाले खुदरा विक्रेताओं पर कार्रवाई हुई है।

प्रशासन ने दूध के दाम 94 रुपये प्रति लीटर तय किए हैं। बावजूद इसके खुदरा विक्रेता 100 से 180 रुपये प्रति लीटर की कीमत से दूध बेच रहे हैं। इसी कारण प्रशासन ने सभी उपायुक्तों को निर्देश दिए हैं कि मंहगा दूध बेचने वाले विक्रेताओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। इस मामले में एक दुकानदार की गिरफ्तारी भी हुई है। 

बता दें कि पाकिस्तान में मार्च 2019 के दौरान महंगाई की दर पांच वर्ष के उच्चतम स्तर 9.41 फीसदी पर पहुंच गई है। महंगाई का यह स्तर अप्रैल 2014 के बाद का सर्वाधिक है। उस समय महंगाई 9.2 फीसदी आंकी गई थी। मार्च महीने में ही महंगाई एक माह पहले की तुलना में 1.42 फीसदी बढ़ गई है।

पाकिस्तान में 10 लाख लोग बेरोजगार हो सकते हैं। इसके चलते गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले लोगों की संख्या में 40 लाख की बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। पाकिस्तान के पास आयात करने के लिए भी पर्याप्त पैसा नहीं है। पाकिस्तान का विदेशी पूंजी भंडार फिलहाल, 8.5 अरब डॉलर का है। लेकिन, यह दो महीने के आयात के लिए भी काफी नहीं है।


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.