केएल राहुल और रोहित शर्मा करेंगे ओपनिंग          CWC 2019: टीम इंडिया में शिखर धवन की जगह विजय शंकर को मिला मौका          पाकिस्तान ने जीता टॉस, भारत करेगा पहले बल्लेबाजी          दिल्ली: सर्वदलीय बैठक में पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी          भारत-पाक मैच से पहले मेंचेस्टर में हल्की बारिश शुरू         
होम | हरियाणा | हरियाणा में जाटों ने बदला आंदोलन का तरीका, 9 जिलों से हुई शुरुआत

हरियाणा में जाटों ने बदला आंदोलन का तरीका, 9 जिलों से हुई शुरुआत

 

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने 16 अगस्त से 9 जिलों में जाट आरक्षण आंदोलन की शुरुआत की है। हालांकि इस बार जाटों ने आंदोलन का तरीका बदला है। इस बार आंदोलन शहरी क्षेत्रों में नहीं, बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में चलेगा। वे इन जिलों में मुख्यमंत्री मनोहर लाल और राज्य के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु के कार्यक्रमों का बहिष्कार करेंगे।

 

इसमें तय हुआ कि 16 अगस्त से नौ जिलों रोहतक, झज्जर, दादरी, भिवानी, हिसार, जींद, कैथल, सोनीपत और पानीपत के ग्रामीण एरिया में सीएम मनोहर लाल और वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु का जहां भी कार्यक्रम होगा, वहीं संघर्ष समिति के लोग जाएंगे। वहां जाकर दोनों नेताओं से पूछेंगे कि उनके साथ किए वादे कब पूरे करेंगे।

 

जहां भी पुलिस ने रोका जाट वहीं धरने पर बैठ जाएंगे। सितंबर में आंदोलन की समीक्षा करेंगे, इसके बाद इस घोषणा को पांच अन्य जिलों में लागू किया जाएगा। डीजीपी बीएस संधू के आदेश के बाद एसपी ने सभी पदाधिकारियों की बैठक को लेकर दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद हो गई है। पुलिस जवानों की छुट्टियां भी रद्द कर दी गई हैं।

 

साथ ही शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, ग्राम सचिव आदि प्रशासनिक अधिकारी सरपंचों और मौजिज लोगों से गांवों में सद्भावना मीटिंग कर आपसी भाईचारा बनाए रखने की अपील कर रहे हैं।


जनता लाइव टीवी

Right Ads
Google Play

© Copyright Jantatv 2016. All rights reserved. Designed & Developed by: Paramount Infosystem Pvt. Ltd.