दुनिया

  • लंदन: कंटेनर में 39 लोगों के शव मिलने से सनसनी, लॉरी ड्राइवर गिरफ्तार

    लंदन: कंटेनर में 39 लोगों के शव मिलने से सनसनी, लॉरी ड्राइवर गिरफ्तार

     

    लंदन के एसेक्स इलाके में 39 लोगों के शव मिलने के मामले ने सनसनी फैला दी है। मरने वालों में 38 वयस्क और एक किशोर शामिल है। मामले में 25 साल के एक शख्स को उत्तरी आयरलैंड से गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि ये शख्स उसी लॉरी कंटेनर का ड्राइवर है जिससे शव बरामद किए गए हैं।

    फिलहाल पुलिस को लॉरी कंटेनर के ड्राइवर पर इन 39 लोगों की हत्या का शक है पुलिस फिलहाल उससे पूछताछ कर रही है। चीफ सुपरीटेंडेंट एन्ड्रयू मरिनर का कहना है कि ये काफी दुखद घटना है जिसमें बड़ी संख्या में लोगों की मृत्यु हुई है। हमारी टीम घटना के पीछे की असल वजह खोजने में लगी है। उन्होंने आगे कहा कि हम पीड़ितों के बारे में भी पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं वैसे इस सब में काफी समय भी लग सकता है।

    एन्ड्रयू के अनुसार ये लॉरी बल्गेरिया से आई थी और 19 अक्टूबर, 2019 शनिवार को हॉलीहैड के जरिए देश में प्रवेश किया था। फिलहाल पुलिस इस गुत्थी को सुलझाने में लगी है और पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर इतनी बड़ी संख्या में शव कहां से आए हैं। बताया जा रहा है कि यह मानव तस्करी का भी मामला हो सकता है। एन्ड्रयू ने बताया कि पुलिस ने लॉरी ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है क्योंकि हमें शक है कि इस शख्स के तार इस घटना से जुड़े हैं। पुलिस कस्टडी में उससे लगातार पूछताछ की जा रही है।

     

    और भी...

  • पाकिस्तानी सिंगर रबी पीरजादा अब बनी 'फिदायीन', लोगों ने कहा- फट मत जाना

    पाकिस्तानी सिंगर रबी पीरजादा अब बनी 'फिदायीन', लोगों ने कहा- फट मत जाना

     

    इस्लामाबाद. पाकिस्तानी सिंगर राबी पीरजादा ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक शब्द इस्तेमाल करते हुए धमकी दी। राबी ने ट्विटर पर एक फोटो पोस्ट की। इसमें वो फिदायीन हमलावरों जैसी जैकेट पहने नजर आ रही हैं। कुछ दिन पहले इस सिंगर ने अपने घर का एक वीडियो शेयर किया था। इसमें वो हाथ में सांपों को लेकर भारत को धमकी देती नजर आईं थीं। इसके खिलाफ पाकिस्तान के वन्यजीव मंत्रालय ने एफआईआर दर्ज कराई। बाद में राबी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट भी जारी हुआ था। पीरजादा की नई हरकत पर सोशल मीडिया यूजर्स ने तंज किया। एक यूजर ने पूछा- क्या यही पाकिस्तान की नेशनल ड्रेस है।

    मंगलवार को उन्होंने अपनी एक फोटो डाली थी, जिसमें वह सुसाइड वेस्ट पहने हुए दिख रही थीं। इसके साथ उन्होंने कश्मीर के मसले पर पीएम मोदी को चेतावनी देते हुए कमेंट किया था। यह ट्वीट देखते ही देखते वायरल हो गया और 1900 से अधिक लोगों ने इसे लाइक किया और सैंकड़ों बार री-ट्वीट किया गया। इसके बाद भारतीय ट्विटर यूजर्स ने मजे लेते हुए कहा कि क्या यह पाकिस्तान की नेशनल ड्रेस है। दरअसल, पाकिस्तान की धरती पर आतंकवाद को समर्थन देने की वजह से राबी पर यह टिप्पणी की गई थी।

    वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा- वॉव पाकिस्तान की नेशनल ड्रेस में आप खूबसूरत लग रही हैं। एक अन्य कमेंट में यूजर ने लिखा- पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को इसे देश की नेशनल ड्रेस घोषित कर देना चाहिए। ऐसा नहीं है कि सिर्फ भारतीय यूजर्स ने इस तस्वीर पर कमेंट किए हों। पाकिस्तान के अंदर से भी कुछ समझदार लोगों ने राबी की इस हरकत की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि राबी इस प्लेटफॉर्म का दुरुपयोग कर रही हैं और दुनियाभर में पाकिस्तान की खराब तस्वीर पेश कर रही हैं।

    इससे पहले भी वह पीएम मोदी को धमकी देने के लिए सांप और मगरमच्छ वाला वीडियो बना चुकी है, लेकिन उस मामले में भी राबी का दांव उल्टा पड़ गया था। उनके खिलाफ पाकिस्तान के वन्यजीव विभाग ने जुर्माना लगा दिया था।

    और भी...

  • इमरान के मंत्री की गीदड़ भभकी, कहा- इस बार तोप टैंक नहीं चलेंगे, परमाणु युद्ध होगा

    इमरान के मंत्री की गीदड़ भभकी, कहा- इस बार तोप टैंक नहीं चलेंगे, परमाणु युद्ध होगा

     

    इस्लामाबाद: कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने और अपने आतंकी कैंपों पर भारत के हमलों से पाकिस्तान बुरी तरह बौखलाया हुआ है. पाकिस्तान ने एक बार फिर भारत को परमाणु हमले की गीदड़भभकी दी है. पाकिस्तान के रेलमंत्री शेख रशीद ने कहा है कि भारत से न्यूक्लियर कम एटोमिक वॉर होगा. जिस तरह की जरूरत होगी, हम उस किस्म का असलहा इस्तेमाल करेंगे.

    पाक के मंत्री शेख रशीद ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि मैं 126 दिन धरने में शामिल था, उस वक्त मुल्क के हालात और सरहदी मामलात ऐसे नहीं थे, ये सीरियस थ्रेट है. इस मुल्क को यह जंग खौफनाफ हो सकती है. ये कन्वेंशनल आर्म नहीं होंगी, जो अक्ल के अंधे ये समझ रहे हैं कि 4-6 दिन तक टैंक-तोप चलेंगी या हवाई जहाज के अटैक होंगे. नेवी के गोले चलेंगे.

    उन्होंने आगे कहा कि नो वे... यह एक एटोमिक वॉर होगा, एक न्यूक्लियर कम एटोमिक वॉर होगा और जिस तरह की जरूरत होगी उस किस्म का असलहा इस्तेमाल करेंगे. बता दें इससे पहले भी शेख रशीद ने ऐसा ही विवादित बयान दिया था. पिछले दिनों भी वह कश्मीर को लेकर भारत के खिलाफ भड़काने वाला बयान दे चुके हैं. बीते महीने उन्होंने कहा था कि कश्मीर की लड़ाई लड़ी जाएगी, चाहे इसमें मर जाया जाए या फिर मार डाला जाए.

    पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद अपने एक और बेतुके बयान के चलते सुर्खियों में रह चुके हैं. एक रैली में माइक पर भाषण देते हुए शेख रशीद को करंट लग गया था. इसका वीडियो भारत में भी काफी वायरल हुआ था. इसे लेकर भी शेख रशीद ने बेतुका बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि उन्हें करंट लगा, इसके पीछे भारत का हाथ है. रेल मंत्री शेख रशीद को भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लेते हुए करंट लगा था.

     

    और भी...

  • पाक ने भारत से डाक मेल सेवा की बंद, रवि शंकर प्रसाद ने कहा ये अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन

    पाक ने भारत से डाक मेल सेवा की बंद, रवि शंकर प्रसाद ने कहा ये अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन

     

    केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि पाकिस्तान ने भारत से डाक मेल सेवा बंद कर दी है। प्रसाद ने साथ ही कहा कि पाकिस्तान का डाक मेल सेवा बंद करने का एकतरफा निर्णय अंतरराष्ट्रीय नियमों का सीधा उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने यह फैसला भारत को बिना नोटिस दिए किया है।

    केंद्रीय मंत्री ने यह जानकारी दिल्ली में एक समारोह के दौरान दी। वहीं, पाकिस्तान को वैश्विक आतंकवाद का केंद्र बताते हुए भाजपा महासचिव राम माधव ने सोमवार को कहा कि भारत का पड़ोस अब केवल उसकी समस्या नहीं है बल्कि वैश्विक चुनौती बन गया है।

    राम माधव ने कहा कि लोकतांत्रिक दुनिया को साथ में आना चाहिए तथा पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए बाध्य करना चाहिए जो एक वैश्विक समस्या बन गया है। भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों तथा दोनों देशों के बीच संवाद की गुंजाइश के बारे में पूछे जाने पर माधव ने कहा कि पिछले सात दशक में रिश्तों में उतार-चढ़ाव रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत को पाकिस्तान के साथ दोस्ताना संबंध रखने में निश्चित रूप से खुशी होगी लेकिन सबसे पहले उसे सीमापार आतंकवाद के प्रमुख मुद्दे पर ध्यान देना होगा।

    और भी...

  • Johnson and Johnson कंपनी ने 33 हजार बेबी पाउडर बाजार से वापस मंगाए, ये रहा कारण

    Johnson and Johnson कंपनी ने 33 हजार बेबी पाउडर बाजार से वापस मंगाए, ये रहा कारण

     

    Johnson and johnson बेबी पाउडर में कैंसरकारक एस्बेस्टस के सबूत मिलने के बाद कंपनी ने बाजार से 33 हजार बेबी पाउडर की खेप वापस मंगा ली है। अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन की जांच में इसका खुलासा हुआ था। ये पहला मामला है जब कंपनी में अपने किसी प्रोडक्ट को वापस मंगाया है। महीनों तक बेबी पाउडर में कैंसरकारक तत्व की मौजूदगी नकारने के बाद कंपनी ने अब 33 हजार बेबी पाउडर बाजार से वापस मंगा लिए हैं।

    कंपनी ने कहा है कि रेग्युलेटर को ऑनलाइन रिटेलर से खरीदे गए बेबी पाउडर सैंपल में क्राइसोटाइल एस्बेस्टस का पता चला है। इस खबर के बाद कंपनी के शेयर शुक्रवार को 4.6 पर्सेंट गिर गए हैं। Johnson and johnson कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि कंपनी को जैसे ही इस बात की खबर लगी, उसके  #22318RB लॉट को वापस मंगा लिया। इस लॉट में करीब 33 हजार बेबी पाउडर की बॉटल थीं। कंपनी के प्रवक्ता के मुताबिक उसने अमेरिका में इस लॉट को एहतियात के तौर पर मंगाया है।

    कंपनी ने कहा है कि पिछले 40 साल में हजारों टेस्ट में कई इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि हमारे पाउडर में एस्बेस्टस नहीं है। कंपनी ने कहा कि हम अपने प्रोडक्ट की जांच कर रहे हैं. अभी इस जांच में 30 दिन का और समय चल सकता है। गौरतलब हे कि कंपनी पर पहले भी यह आरोप लगते रहे हैं कि उसके बेबी पाउडर में कैंसरकारक तत्व मौजूद हैं। कंपनी के ऊपर 15 हजार से अधिक केस हैं।

    और भी...

  • सऊदी अरब: दर्दनाक बस हादसे में 35 लोगों की मौत,पीएम मोदी ने जताया दुख

    सऊदी अरब: दर्दनाक बस हादसे में 35 लोगों की मौत,पीएम मोदी ने जताया दुख

     

    सऊदी अरब में एक दर्दनाक बस हादसे में 35 लोगों की जान चली गई। बताया जा रहा है कि मरने वालों में सभी विदेशी हैं। स्‍थानीय मीडिया के मुताबिक, ये हादसा मुस्लिमों के पवित्र शहर मदीना में हुआ है। ये हादसा विदेशी यात्रियों से भरी बस के एक अन्‍य बड़े वाहन से टकराने पर हुआ।

    इस हादसे में चार लोग घायल भी बताए जा रहे हैं। अभी हादसे के कारण का पता नहीं चल पाया है। सऊदी अरब में मक्का के पास एक बस दुर्घटना की खबर सुनकर काफी दुख हुआ। इस हादसे में जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति संवेदना। मैं घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की ईश्‍वर से प्रार्थना करता हूं।

    स्‍थानीय मीडिया के मुताबिक, इस हादसे का शिकार हुए लोग अरब और एशियाई तीर्थयात्री थे। घायलों को अल-हमना अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है, और अधिकारियों ने हादसे की जांच शुरू कर दी है। बता दें कि मुस्लिमों के पवित्र धार्मिक स्‍थल मदीना में हर साल लाखों तीर्थयात्री पहुंचते हैं।

    और भी...

  • ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2019 की रैंकिंग जारी, 102वें पायदान के साथ सीरियस हंगर कैटेगरी में भारत

    ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2019 की रैंकिंग जारी, 102वें पायदान के साथ सीरियस हंगर कैटेगरी में भारत

     

    ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2019 के मुताबिक, भारत 117 देशों की रैंकिंग में 102 पायदान पर है। यानि एशिया में भारत की स्थिति कई पड़ोसी देशों से भी खराब है। रिपोर्ट में चीन 25वें, पाकिस्तान 94, बांग्लादेश 88वें, नेपाल 73वें, म्यांमार 69वें और श्रीलंका 66वें पायदान पर है। बेलारूस, यूक्रेन, तुर्की, क्यूबा और कुवैत जीएचआई रैंक में अव्वल हैं।

    जीएचआई इंटरनेशनल फूड पॉलिसी रिसर्च इंस्टीट्यूट से संबंधित आयरलैंड की ऐड एजेंसी कंसर्न वर्ल्डवाइड और जर्मन ऑर्गेनाइजेशन वेल्ट हंगर तैयार करते हैं। ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रैंकिंग में 100 प्वाइंट्स पर किसी भी देश को रैंक किया जाता है। भारत का स्कोर 30.3 है जो इसे सीरियस हंगर कैटेगरी में लाता है।

    जितने कम प्‍वॉइंट्स होते हैं ठीक हालात की तरफ इशारा करते हैं। भुखमरी की स्थिति दिखाने के लिए पांच वर्ग बनाए गए हैं। 0 से 9.9 मध्यम, 10.0 से 19.9 मध्यम, 20.0 से 34.9 गंभीर, 35.0 से 49. 9 भयावह और 50.0 से ऊपर अति भयावह।

    बता दें कि भारत साल 2015 में 93वें, 2016 में 97वें, 2017 में 100वें और साल 2018 में 103वें स्थान पर रहा था। रिकॉर्ड दिखाते हैं कि भुखमरी को लेकर भारत में संकट बरकरार है। ग्‍लोबल हंगर इंडेक्‍स किसी देश में कुपोषित बच्‍चों के अनुपात, पांच साल से कम उम्र वाले बच्‍चे जिनका वजन या लंबाई उम्र के हिसाब से कम है और पांच साल से कम उम्र वाले बच्‍चों में मृत्‍यु दर के आधार पर तैयार की जाती है।

    ताजा रिपोर्ट के अनुसार, भारत में बच्चों में कुपोषण की स्थिति भयावह है। देश में 20.8 फीसद बच्चों का पूर्ण शारीरिक विकास नहीं हो पाता, इसकी बड़ी वजह कुपोषण है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में 6-23 महीनों के बच्चों में मात्र 9.6% बच्चों को न्यूनतम स्वीकार्य आहार खिलाया जाता है।

    और भी...

  • साल 2019 के बुकर पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा, इन दो लेखिकाओं को मिला ये सम्मान

    साल 2019 के बुकर पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा, इन दो लेखिकाओं को मिला ये सम्मान

     

    इस साल के प्रतिष्ठित बुकर पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा कर दी गई है। इस साल मार्गरेट एटवुड और बर्नरडाइन एवरिस्टो को संयुक्त रूप से साहित्य के इस प्रतिष्ठित पुरस्कार से नवाजा गया है। बता दें कि करीब 30 साल में पहली बार यह पुरस्कार संयुक्त रूप से दो लोगों को दिया गया है।

    एटवुड को उनके उपन्यास The Handmaid's Tale और एनरिस्टो को Girl, Women, Other उपन्यास के लिए यह पुरस्कार मिला। इसके साथ ही बुकर पुरस्कार जीतने वाली पहली अश्वेत महिला और पहली अश्वेत ब्रिटिश लेखिका बन गई हैं।

    वहीं, कनाडा की लेखिका एटवुड 79 साल की उम्र में  यह पुरस्कार जीतने वाली सबसे बुजुर्ग लेखिका बन गई हैं। इससे पहले साल 2000 में भी उन्होंने बुकर पुरस्कार जीता था। तब उन्हें The Blind Assasin के लिए सम्मानित किया गया था। दो बार बुकर पुरस्कार जीतने वाली वह दूसरी और कुल मिलाकर चौथी लेखक हैं।

    और भी...

  • FATF की बैठक से पहले अमेरिका की पाक को चेतावनी, हाफिज सईद जैसे आतंकियों पर चलाए अभियोग

    FATF की बैठक से पहले अमेरिका की पाक को चेतावनी, हाफिज सईद जैसे आतंकियों पर चलाए अभियोग

     

    वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (FATF) की बैठक से पहले अमेरिका ने पाकिस्तान से कहा है कि उसे हाफिज सईद जैसे आतंकियों पर अभियोग चलाना चाहिए। पाकिस्तान को उसकी जमीन से आतंकवादी घटनाओं को अंजाम दे रहे आतंकियों को रोकना चाहिए और लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद और अन्य आतंकवादियों के खिलाफ अभियोग चलाना चाहिए।

    अमेरिका के विदेश मंत्रालय की दक्षिण एवं मध्य एशियाई ब्यूरो प्रमुख एलिस वेल्स का यह बयान ऐसे समय में आया है जब एफएटीएफ को देश के ग्रे सूची के दर्जे पर अपना निर्णय देना है। एफएटीएफ ने पिछले साल जून में पाकिस्तान को ग्रे सूची में डाल दिया था।

    पाकिस्तान को अक्तूबर 2019 तक एक प्रोजेक्ट पूरा करने दिया गया था। इसे पूरा नहीं कर पाने पर पाकिस्तान पर ईरान और उत्तर कोरिया के साथ काली सूची में डाले जाने का खतरा है। अमेरिका के विदेश मंत्रालय की दक्षिण एवं मध्य एशियाई ब्यूरो प्रमुख एलिस वेल्स ने पाकिस्तान में चार आतंकवादियों की गिरफ्तारी का स्वागत भी किया।

    और भी...

  • PM मोदी बने इंस्टाग्राम पर दुनिया में सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले विश्व नेता,इन्हे पीछे छोड़ा

    PM मोदी बने इंस्टाग्राम पर दुनिया में सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले विश्व नेता,इन्हे पीछे छोड़ा

     

    ट्विटर पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले नेताओं में से एक बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता इंस्टाग्राम पर भी बढ़ी है। तीन करोड़ से ज्यादा फॉलोअर्स के साथ पीएम मोदी इस प्लेटफॉर्म पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले विश्व नेता बन गए हैं। इंस्टाग्राम पर वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ ही पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा से भी आगे हैं।

    इसके अलावा पीएम मोदी अकेले ऐसे विश्व नेता बन गए हैं, जिन्होंने तीन करोड़ फॉलोअर्स के माइलस्टोन को छुआ है। पीएम मोदी के ट्विटर अकाउंट पर सितंबर में पांच करोड़ फॉलोअर्स से अधिक हो गए थे। उनके फेसबुक पेज पर 4.4 करोड़ लाइक्स हैं। मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री हुआ करते थे, तभी से वह माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर का इस्तेमाल करते आ रहे हैं।

     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     

    ‪Happy Birthday @USNavy! ‬

    A post shared by President Donald J. Trump (@realdonaldtrump) on

    बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के इंस्टाग्राम पर सिर्फ डेढ़ करोड़ फॉलोअर्स हैं, वहीं बराक ओबामा के करीब ढ़ाई करोड़ फॉलोअर्स हैं। हालंकि ओबामा ट्विटर पर सबसे ज्यादा लोकप्रिय नेता हैं और उन्हें 10.9 करोड़ लोग फॉलो करते हैं। वह नियमित तौर पर इंस्टाग्राम पर भी तस्वीरें और वीडियो शेयर करते रहते हैं।

    और भी...

  • पीएम मोदी-शी जिनपिंग का संकल्प, कहा आतंकवाद की चुनौतियों का मिलकर करेंगे सामना

    पीएम मोदी-शी जिनपिंग का संकल्प, कहा आतंकवाद की चुनौतियों का मिलकर करेंगे सामना

     

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने यहां शुक्रवार को द्विपक्षीय व्यापार और निवेश संबंधों को विस्तार देने पर जोर देने के अलावा पाकिस्तान के आतंकवाद और कट्टरपंथ की चुनौतियों का मिलकर सामना करने का संकल्प लिया। विदेश सचिव विजय गोखले ने देर शाम संवाददाता सम्मेलन में बताया कि दोनों नेताओं ने रात्रिभोज के दौरान ढाई घंटे बातचीत की और इस दौरान उन्होंने अपनी-अपनी राष्ट्रीय दूरदृष्टि एवं शासन संबंधी प्राथमिकताओं समेत कई मामलों पर बातचीत की।

    विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि पीएम मोदी और शी जिनपिंग ने आतंकवाद के कारण दोनों देशों के सामने पैदा हो रही चुनौतियों पर चर्चा की। उन्होंने कहा, इस बात को स्वीकार किया गया कि दोनों देश बहुत जटिल और बहुत विविध हैं। दोनों नेताओं ने कहा कि भारत एवं चीन बड़े देश हैं, दोनों के लिए कट्टरपंथ चिंता का विषय है और दोनों मिलकर काम करेंगे ताकि कट्टरपंथ एवं आतंकवाद हमारे बहु-सांस्कृतिक, बहु-जातीय, बहु-धार्मिक समाजों को प्रभावित नहीं कर पाए।

    विदेश सचिव ने बताया कि पीएम मोदी और शी जिनपिंग ने स्वीकार किया कि आतंकवाद एवं कट्टरपंथ साझी चुनौतियां हैं और दोनों नेता इससे निपटने के लिए मिलकर काम करेंगे। उन्होंने बताया कि दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय व्यापार और निवेश बढ़ाने पर चर्चा की और मोदी ने बातचीत के दौरान व्यापार घाटे का भी मुद्दा उठाया। पीएम मोदी के साथ दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता के लिए शी शुक्रवार को यहां पहुंचे थे।

    और भी...

  • शांति के लिए नोबेल पुरस्कार का ऐलान, इस देश के प्रधानमंत्री को मिला ये सम्मान

    शांति के लिए नोबेल पुरस्कार का ऐलान, इस देश के प्रधानमंत्री को मिला ये सम्मान

     

    नोबेल पुरस्कारों की घोषणा सोमवार से शुरू हो चुकी है और आज इसी कड़ी में इथियोपिया के प्रधान मंत्री अबी अहमद अली को शांति का नोबेल पुरस्स्कार दिया गया है। अबी अहमद को अंतर्राष्ट्रीय सहयोग प्राप्त करने के उनके प्रयासों के लिए और खासतौर से पड़ोसी इरिट्रिया के साथ सीमा संघर्ष को हल करने के लिए उनकी निर्णायक पहल के लिए नोबेल पुरस्कार दिया गया।

    बता दे चिकित्सा के क्षेत्र में 3 वैज्ञानिकों विलियम जी केलिन, सर पीटर जे रैटक्लिफ और ग्रेग एल सेमेन्जा और फिर मंगलवार को फिजिक्स क्षेत्र में जेम्स पीबल्स को भौतिक ब्रह्माण्ड विज्ञान में सैद्धांतिक खोज के लिए और मिशेल मेयर और डिडिएर क्वेलोज को संयुक्त रूप से एक्सोप्लैनेट की खोज के लिए नोबेल दिया दिया गया है। वहीं कैमिस्ट्री का नोबेल पुरस्कार जॉन बी. गुडेनॉ, एम.स्टैनली विटिंघम और अकीरा योशिनो को दिया गया है। उनको ये सम्मान लिथियम-आयन बैटरी का विकास करने के लिए दिया गया है।

    बता दे 14 अक्टूबर तक अन्य क्षेत्रों में भी विजेताओं के नाम घोषित होंगे। स्वीडिश अकादमी 2018 और 2019 दोनों ही वर्षों के लिए साहित्य नोबेल पुरस्कारों का एलान करेगी। पिछले साल उभरे यौन उत्पीड़न के मामले की वजह से 2018 के साहित्य नोबेल की घोषणा को अकादमी ने स्थगित कर दिया था।

    नोबेल पुरस्कार के हर विजेता को करीब साढ़े चार करोड़ रुपये की राशि दी जाती है। इसके साथ 23 कैरेट सोने से बना 200 ग्राम का पदक और प्रशस्ति पत्र भी दिया जाता है। पदक के एक ओर नोबेल पुरस्कार के जनक अल्फ्रेड नोबेल की छवि, उनके जन्म तथा मृत्यु की तारीख लिखी होती है। पदक की दूसरी तरफ यूनानी देवी आइसिस का चित्र, रॉयल एकेडमी ऑफ साइंस स्टॉकहोम तथा पुरस्कार पाने वाले व्यक्ति की जानकारी होती है।

    और भी...

  • चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग आयेंगे भारत दौरे पर, चेन्नई में होगी पीएम मोदी से मुलाकात

    चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग आयेंगे भारत दौरे पर, चेन्नई में होगी पीएम मोदी से मुलाकात

     

    चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दूसरी अनौपचारिक बैठक के लिए शुक्रवार को भारत आएंगे। तमिलनाडु के महाबलीपुरम में 11 और 12 अक्टूबर को दोनों नेताओं की मुलाकात होगी। इस दौरान कोई समझौता और एमओयू पर हस्ताक्षर नहीं होंगे, लेकिन मोदी-जिनपिंग की ओर से साझा बयान जारी हो सकता है। दोनों नेता आतंकवाद, सीमा पर शांति कायम करने समेत कई मुद्दों पर बातचीत करेंगे। पिछले साल अप्रैल में पहली अनौपचारिक बैठक के लिए मोदी चीन के वुहान गए थे।

    जिनपिंग के साथ चीन के विदेश मंत्री और पोलित ब्यूरो के सदस्य भी भारत आएंगे। इस बैठक के लिए कोई एजेंडा तय नहीं है, लेकिन सीमा विवाद, आतंकवाद, आतंकी गुटों की आर्थिक मदद और उन्हें बढ़ावा देने के मुद्दे पर चर्चा की उम्मीद है।

    मोदी और जिनपिंग की वन टू वन मीटिंग के अलावा प्रतिनिधिमंडल की वार्ता होगी। इस दौरान दोनों नेता अगली विशेष प्रतिनिधिस्तर की वार्ता की तारीख तय कर सकते हैं। भारत और चीन के सैनिक संयुक्त रूप से दिसंबर में आतंकवाद विरोधी अभ्यास में शामिल होंगे।

    मोदी और जिनपिंग महाबलिपुरम के तीन प्रसिद्ध स्मारकों का दौरा करेंगे। करीब एक घंटे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होंगे। पुरातत्त्वविद् एस राजावेलु के मुताबिक, महाबलीपुरम का चीन से करीब 2000 साल पुराना संबंध है। इस वजह से बैठक को ऐतिहासिक बल मिलेगा।

    और भी...